समाचार
|| कर्फ्यू रात्रि 10 बजे से सुबह 5 बजे तक रहेगा कलेक्टर ने जारी किया आदेश || किल कोरोना अभियान में ड्यूटी पर उपस्थित नहीं होने के कारण पांच शिक्षक निलंबित || लोधीखेड़ा के एक आपराधिक प्रकरण में 500 रूपये के पुरस्कार की उद्घोषणा || मेसर्स सिंजेंटा इंडिया लि. का एक अमानक बीज का जिले में भंडारण और विक्रय प्रतिबंधित || कोतवाली के एक आपराधिक प्रकरण में 500 रूपये के पुरस्कार की उद्घोषणा || जिले में अभी तक 346.5 मि.मी. औसत वर्षा दर्ज || अमरवाड़ा के एक आपराधिक प्रकरण में 500 रूपये के पुरस्कार की उद्घोषणा || मनरेगा से जल संरक्षण और संवर्धन के साथ ही ग्रामीण "खबर खुशियों की" || मेसर्स सिंजेंटा इंडिया लि. का एक अमानक बीज का जिले में भंडारण और विक्रय प्रतिबंधित || ग्राम बोरगांव और रंगारी सापर का निर्धारित क्षेत्र कंटेनमेंट एरिया घोषित
अन्य ख़बरें
सी.एम.राइज शिक्षक प्रशिक्षण कार्यक्रम और डिजीलेप वाट्स-अप ग्रुप की समीक्षा
-
छिन्दवाड़ा | 20-मई-2020
    कलेक्टर श्री सौरभ कुमार सुमन द्वारा दिये गये निर्देशों के परिपालन में मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत श्री गजेन्द्र सिंह नागेश द्वारा आज जूम एप के माध्यम से सर्व शिक्षा अभियान की गतिविधियों के साथ ही सी.एम.राइज शिक्षक प्रशिक्षण कार्यक्रम और डिजीलेप वाट्स-अप ग्रुप की समीक्षा की गई। इस वीडियो कांफ्रेंस में जिला शिक्षा अधिकारी श्री अरविंद चौरागढ़े, डाइट प्राचार्य श्रीमती अनघा देव, जिला शिक्षा केंद्र के जिला परियोजना समन्वयक श्री जी.एल.साहू तथा जिले के सभी ए.पी.सी., बी.आर.सी, बी.ई.ओ. व बी.ए.सी. उपस्थित थे। 
      मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत श्री नागेश ने बी.आर.सी. के माध्यम से सभी शिक्षकों को निर्देशित किया कि सी.एम.राइज शिक्षक प्रशिक्षण कार्यक्रम में शत-प्रतिशत पंजीयन कर प्रशिक्षण कार्यक्रम के भाग-एक व 2 का प्रशिक्षण पूर्ण करें। समीक्षा के दौरान जिले में प्राथमिक व माध्यमिक शालाओं के 7 हजार 814 में से 6 हजार 277 शिक्षकों द्वारा ही दीक्षा प्रशिक्षण पोर्टल पर पंजीयन कराने की जानकारी मिलने पर उन्होंने शेष शिक्षकों का 2 दिनों के भीतर पंजीयन कराने के निर्देश दिये। इसी प्रकार डिजीलेप कार्यक्रम के अंतर्गत डिजीलेप वाट्स-अप ग्रुप में बच्चों और पालकों को जोड़ने व डिजीटल शैक्षिक सामग्री के उपयोग की समीक्षा करते हुये शिक्षकों को निर्देश दिये गये कि कम से कम 50 प्रतिशत बच्चों और पालकों को वाट्स-अप ग्रुप में जोड़े। उन्होंने बताया कि बच्चों और पालकों को वाट्स-अप ग्रुप में जोड़ने के लिये सभी संबंधित बी.आर.सी. को जिला स्तर से कार्ययोजना बनाकर भेजी गई है जिसमें प्रत्येक शिक्षक को प्रतिदिन कम से कम 10 बच्चों से बात कर गूगल फॉर्म भरने का लक्ष्य दिया गया है। वर्तमान में अभी तक शिक्षकों ने 10 हजार बच्चों से संवाद स्थापित किया है।
   मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत श्री नागेश ने डिजीलेप कार्यक्रम की समीक्षा के दौरान बिछुआ, सौंसर, तामिया और हर्रई के बी.आर.सी. द्वारा किये गये प्रयासों की सराहना की तथा जिन बी.आर.सी. की लक्ष्य के विरूध्द कम उपलब्धि पाई गई, उन्हें 3 दिनों के भीतर लक्ष्यपूर्ति के निर्देश दिये। उन्होंने सी.एम.राइज शिक्षक प्रशिक्षण कार्यक्रम के लिये 30-30 शिक्षकों पर एक समूह प्रभारी बनाते हुये निर्देश दिये कि समूह प्रभारी स्वयं संज्ञान में लेकर अपने समूह के सदस्यों का शत-प्रतिशत प्रशिक्षण कोर्स पूर्ण करायें। उन्होंने बताया कि कार्यक्रम की समीक्षा के लिये जिला मुख्यालय और प्रत्येक विकासखंड पर कंट्रोल रूम स्थापित किया गया है।
 
(55 days ago)
डाउनलोड करे क्रुतीदेव फोन्ट में.
डाउनलोड करे चाणक्य फोन्ट में.
पाठकों की पसंद

संग्रह
जूनजुलाई 2020अगस्त
सोम.मंगल.बुध.गुरु.शुक्र.शनि.रवि.
293012345
6789101112
13141516171819
20212223242526
272829303112
3456789

© 2012 सर्वाधिकार सुरक्षित जनसम्पर्क विभाग भोपाल, मध्यप्रदेश             Best viewed in IE 7.0 and above with monitor resolution 1024x768.
Onder's Computer