समाचार
|| कलेक्टर ने किया आयुर्वेद कॉलेज और मनमोहन || 304 व्यक्तियों से वसूला गया 30 हजार 550 रुपये का जुर्माना (रोको-टोको अभियान) || कोरोना के संक्रमण से मुक्त होने पर 189 व्यक्ति डिस्चार्ज || शाजापुर जिले में आज 16 कारोना पाजीटिव मरीज मिले || प्रदेश सरकार गरीब एवं असहायों तक जल्द से जल्द सहायता पहुँचाने के लिये कटिबद्ध – गृह मंत्री डॉ. मिश्र || नारी के सम्मान में ही संस्कृति का उत्थान है - मंत्री डॉ. मिश्रा || ऊर्जा मंत्री श्री तोमर आज विभिन्न कार्यक्रमों में शामिल होंगे || सशक्त महिलायें बनाएंगी सशक्त मध्यप्रदेश || मेडिकल कॉलेज के स्वशासी अधिकारियों एवं कर्मचारियों के लिए भी शासकीय कर्मचारियों के समान || 6739 हितग्राहियों को चार करोड़ 61 लाख से अधिक की राशि का हितलाभ वितरण
अन्य ख़बरें
जनप्रतिनिधियों की सहमति से सुबह 7 से सायं 6 बजे तक खुलेंगे बाजार - कलेक्टर
होटल एवं मॉल को छोड़कर अन्य शहर की गतिविधियां पहले की तरह संचालित होंगी, बाजारों में गाइडलाइन का पालन न होने पर सभी अनुमति स्वतः समाप्त होंगी
मुरैना | 20-मई-2020
 
   
  
  केन्द्र व राज्य शासन की गाइडलाइन के अनुसार कलेक्टर श्रीमती प्रियंका दास ने मुरैना जनप्रतिनिधियों की बैठक में सहमति लेकर बाजार ऑड-  ईवन पर नहीं कोरोना से पहले की तरह ही पुनः प्रातः 7 बजे से सांय 6 बजे तक खुलेंगे। उन्होंने कहा कि इसमें होटल एवं मॉल अभी खोलने पर विचार नहीं किया गया है। यह बात कलेक्टर श्रीमती प्रियंका दास ने बुधवार को जिला स्तरीय संकट प्रबंधन समूह की बैठक में जनप्रतिनिधियों से कही। इस अवसर पर महापौर श्री अशोक अर्गल, सबलगढ़ विधायक श्री बैजनाथ सिंह कुशवाह, भाजपा जिलाध्यक्ष योगेशपाल गुप्ता, पूर्व विधायक रघुराज कंषाना, सूबेदार सिंह रजौधा, गिर्राज डण्डोतिया, शिवमंगल सिंह तोमर, बलवीर डण्डोतिया, पुलिस अधीक्षक डॉ असित यादव सहित अन्य दलों के पदाधिकारी श्री राजेन्द्र मरैया, देवेश शर्मा, मुख्य कार्यपालन जिलाधिकारी पंचायत श्री तरूण भटनागर, अपर कलेक्टर श्री एसके मिश्रा, संयुक्त कलेक्टर श्री एलके पाण्डेय अन्य जिलाधिकारी उपस्थित थे।  
    कलेक्टर श्रीमती प्रियंका दास ने कहा कि हमें कोरोना के संक्रमण को हर हाल में रोकना है। यह हमारी पहली प्राथमिकता है। इसके साथ ही हमें आर्थिक गतिविधियों को भी सुचारू रूप से संचालित करना है। अतः मुरैना लॉकडाउन-4.0 की गाइडलाइन का शत-प्रतिशत पालन करना होगा। यदि जिले की परिस्थिति के अनुरूप कोई विशेष छूट अथवा प्रतिबंध की आवश्यकता हो तो अपने क्राइसिस मैनेजमेंट ग्रुप से चर्चा कर सभी की सहमति से बाजार खोलने का निर्णय लिया जायेगा। जिसमें बाजार के फास्ट फूड, रेस्टोरेन्ट, भोजनालय, मिठाई की दुकानें खुलेंगी। इनसे पैकिंग कराई जा सकेगी, बैठक दुकान में खाने की अनुमति नहीं होगी। उन्होंने कहा कि नाई, ब्यूटीपार्लर की दुकानें शासन की गाइडलाइन अनुसार खोलेंगी किन्तु सोशल डिस्टेसिंग का पालन करना होगा। कलेक्टर ने 21 मई से प्रातः 7 बजे से सांय 6 बजे तक बाजार खोलने की बात कही। खोले जायेंगे, बाजार खुलने के बाद दुकानदार और ग्राहक को शासन की गाइडलाइन के अनुसार सोशल डिस्टेंस का पालन करना अनिवार्य रहेगा। इसके लिये नगर निगम द्वारा वार्डों में नियमित माइकिंग वाहन से करानी होगी। इसके अलावा पुलिस को जो जिम्मेदारी जहां की दी गई वह बराबर उसी तर्ज पर डयूटी करते रहेंगे। दुकानदार एवं ग्राहक सोशल डिस्टेसिंग का उल्लंघन करते है तो यह प्रयोग 7 दिन तक देखा जायेगा। अगर नियमों का उल्लंघन हुआ या कोरोना के मरीजों की संख्या तीव्र गति से बढ़ती है तो बाजार को पुनः ऑड ईवन की तर्ज पर खोला जायेगा। इस प्रकार की निर्णय स्वतः निरस्त मानें जावेंगे।      
    शासन की गाईड लाइन के अनुसार अब रेड जोन और ग्रीन जोन ही रहेंगे -
    कलेक्टर श्रीमती प्रियंका दास ने कहा कि भारत सरकार व प्रदेश सरकार द्वारा अब कोरोना वायरस के जिलेे रेड जोन एवं ग्रीन से ही जाने जायेंगे। रेड जोन में जाने के लिये व्यक्ति को अनुमति के साथ-साथ ई-पास लेना होगा, जबकि ग्रीन जोन में भी व्यक्ति बिना अनुमति के नहीं जा सकेंगे। फैक्ट्री मालिक मजदूरों की अनुमति लेता है तो फैक्ट्री में मजदूरों को बिना अनुमति पर आने की अनुमति रहेगी।
होटल, मॉल खोलने पर विचार नहीं -
    कोरोना वायरस से बचाव को ध्यान में रखते हुये अभी होटल एवं मॉल खोलने पर विचार शासन की गाइडलाइन में नहीं है। इसलिये अभी इस पर विचार किया जाना उचित नहीं होगा।

भोजनालय, रेस्टोरेंट और खोमचे खुलेंगे -
    कलेक्टर ने कहा कि जनप्रतिनिधियों की सहमति से शहर में भोजनालय, रेस्टोरमेंट एवं खोमचे खुलेंगे किन्तु रेस्टोरेंट, भोजनालय या खोमचे की दुकान पर खाने की अनुमति नहीं होगी, पैकिंग कराकर ही घर ले जा सकेंगे।        
मिठाई की दुकानें खुलेंगी  -
    कलेक्टर ने बताया कि शहर में लम्बे समय से मिठाई की दुकानें बंद है, उन्हें अब खोला जायेगा, किन्तु मिठाई या नाश्ता पैकिंग करके ही दुकानदार देंगे, दुकान पर खाने की अनुमति नहीं होगी।  
चाय की दुकानें खुलेंगी-
    कलेक्टर ने बताया कि शहर में चाय की दुकान खुलेंगी किन्तु चाय मिट्टी का कुल्लड़ या कागज के डिस्पोजल गिलास में ही बिक्री होगी। कांच का गिलास या चीनी मिट्टी के गिलास में चाय की बिक्री नहीं होगी।
नाई, ब्यूटीपार्लर की दुकान खुलेंगे-
    कलेक्टर ने कहा कि बैठक में निर्णय लिया है कि नाई एवं ब्यूटीपार्लन की दुकान खोंली जायें। किन्तु सोशल डिस्टेसिंग का पालन करना अनिवार्य है, दुकान में जितनी सिटिंग है उतने ही लोग अंदर रहेगें। संख्या बढ़ने पर बेटिंग बोर्ड बाहर लगायें और टोकन देकर उन्हें अंदर बुलाये या मोबाइल नम्बर से सूचित करें। उन्होंने कहा कि आवश्यक हो तो सैविंग कराने के लिये स्वयं अपनी टोबल ग्राहक अपने साथ में लावे।
शादी की अनुमति 50 लोगों तक मिलेगी-
    कलेक्टर ने कहा कि कोरोना वायरस को ध्यान में रखते हुये सोशल डिस्टेसिंग का पालन किया जाये। इसके लिये 50 व्यक्ति ही शादी में उपस्थित रहेंगे। इसके लिये जिला स्तर पर अनुमति लेना अनिवार्य रहेगा।
थोक सब्जीमंडी प्रातः 4 से दोपहर 12 बजे तक खुलेगी-
    कलेक्टर ने कहा कि निगम के अंतर्गत संचालित थोक सब्जी मंडी पहले रात्रि 4 से प्रातः 7 बजे तक खोलने की अनुमति थी, अब इसे रात्रि 4 बजे से दोपहर 12 बजे तक खोला जा सकेगा। जिसमें किसान अपनी थोक सब्जी मंडी में फुटकर के हिसाब से सब्जी विक्रय कर सकेंगे।
एमआरपी से अधिक रेट पर नहीं होगी शराब की बिक्री -
    जनप्रतिनिधियों ने कहा कि शहर में शराब की दुकान पर एमआरपी से अधिक रेट पर विक्रय जारी है। इस पर कलेक्टर ने कहा कि एमआरपी से अधिक कीमत पर शराब बेचने वाले दुकानदारों पर कार्रवाही होगी।  
(124 days ago)
डाउनलोड करे क्रुतीदेव फोन्ट में.
डाउनलोड करे चाणक्य फोन्ट में.
पाठकों की पसंद

संग्रह
अगस्तसितम्बर 2020अक्तूबर
सोम.मंगल.बुध.गुरु.शुक्र.शनि.रवि.
31123456
78910111213
14151617181920
21222324252627
2829301234
567891011

© 2012 सर्वाधिकार सुरक्षित जनसम्पर्क विभाग भोपाल, मध्यप्रदेश             Best viewed in IE 7.0 and above with monitor resolution 1024x768.
Onder's Computer