समाचार
|| अपराधिक घटनाओं पर तत्काल नियंत्रण हो || कलेक्टर ने की नागरिकों से गुरु पूर्णिमा पर्व घर में मनाने की अपील || पीड़ित मानवता की सेवा की बढ़ाई जायेगी गतिविधियां || कोरोना संक्रमित पाए गए व्यक्तियों के निवास स्थल कंटेंटमेंट क्षेत्र घोषित || चौथे दिन 43 हजार 717 घरों के 2 लाख से अधिक व्यक्तियों के स्वास्थ्य का हुआ सर्वे "किल कोरोना अभियान" || कलेक्टर ने 10 बिल्डरों के विरूद्ध प्रकरणों में किया अभियोजन की कार्यवाही का आदेश पारित || कोरोना से स्वस्थ होने पर 6 व्यक्ति डिस्चार्ज. || पौधारोपण कार्यक्रम में सहभागी बनने के इच्छुक व्यक्ति व संस्थाएं करें ऑनलाइन आवेदन || गत सत्र के अतिथि विद्वान ही नए सत्र के लिए आमंत्रित होगें || वार्डों के आरक्षण की कार्यवाही जल्द करने के निर्देश
अन्य ख़बरें
अब बालाघाट के किसान हुए हाईटेक, ऑनलाईन प्राप्त कर रहे प्रशिक्षण
कोरोना के साथ भी-कोरोना के बाद भी, कृष‍ि विज्ञान केंद्र किसानो के साथ
बालाघाट | 21-मई-2020
 
 
   कोरोना वायरस संक्रमण से बचाव के लिए लागू देश व्यापी लॉक डाउन के दौर में कृषि विज्ञान केन्द्र, बड़गांव, बालाघाट के वैज्ञानिकों द्वारा आगामी खरीफ सीजन की तैयारियों को लेकर कुछ नया सोचा एवं ऑनलाईन (गूगल मीट एप) प्लेटफार्म के माध्यम से जिले के किसानों को प्रषिक्षण देना प्रारम्भ कर दिया। कृषि विज्ञान केन्द्र, बड़गांव, बालाघाट के वरिष्ठ वैज्ञानिक एवं प्रमुख डॉ. आर.एल. राऊत के मार्गदर्शन में कृषि वैज्ञानिकों द्वारा किसानों को खरीफ सीजन की तैयारियों, किचन गार्डन, किस्में का चयन, पौध सरंक्षण, मिट्टी परीक्षण, खाद संरक्षण एवं उद्यानिकी फसलों को लेकर उन्हें ऑनलाईन प्रषिक्षण एवं मार्गदर्शन दे रहे हैं। इस दौरान कृषि वैज्ञानिकों द्वारा किसानों की विभिन्न समस्याओं का निराकरण भी ऑनलाईन ही किया जा रहा हैं।
ऑनलाईन ऐप के माध्यम से मिल रहा मार्गदर्शन
    कृषि विज्ञान केन्द्र, बड़गांव, बालाघाट के प्रमुख वैज्ञानिक डॉ. आर.एल. राऊत ने बताया कि वैश्विक महामारी कोरोना-19 के कारण लॉकडाउन के दौरान किसानों को एकत्रित कर उन्हें प्रशिक्षण देना संभव नहीं हैं। वरिष्ठ वैज्ञानिक डॉ. राऊत के मुताबिक आगामी खरीफ सीजन की तैयारियों को लेकर जिले के किसानों को तकनीकि मार्गदर्षन देना अति आवष्यक हैं। इसलिए वर्तमान में परिस्थितियों के मद्देनजर डिजीटल तकनीक के तहत गूगल मीट ऐप का उपयोग कर किसानों को खरीफ सीजन की तैयारियों को लेकर ऑनलाईन प्रषिक्षण कृषि वैज्ञानिकों द्वारा दिया जा रहा हैं।
    कृषि विज्ञान केन्द्र, बड़गांव, बालाघाट के प्रमुख वैज्ञानिक डॉ. राऊत ने बताया कि 11 मई 2020 से ऑनलाईन प्रशिक्षण शुरू कर दिया गया हैं, जो पूर्णतः सफल रहा। उन्होनें बताया कि ऑनलाईन प्रशिक्षण प्राप्त करने के इच्छुक कृषकों को गूगल मीट एप डाउनलोड करना होता हैं। इसके बाद किसानों को एक लिंक भेजी जाती हैं, जिसके द्वारा कृषि वैज्ञानिकों द्वारा किसान प्रशिक्षण से जुड़ते हैं एवं किसानों को ऑनलाईन प्रशिक्षण दिया जाता हैं। प्रशिक्षण के दौरान किसानों की समस्याओं को निराकरण भी किया जाता हैं।
किसानों को दे रहे हैं ये ऑनलाईन तकनीकी जानकारी
    वैश्विक आपदा कोरोना महामारी के दौर कृषि विज्ञान केन्द्र, बड़गांव, बालाघाट के कृषि वैज्ञानिकों ने जिले के अन्नदाताओं की चिंता करते हुए उन्हें खरीफ सीजन की तैयारियों के लिए ऑनलाईन परीक्षण का इंतजार किया हैं। कृषि विज्ञान केन्द्र, बड़गांव, बालाघाट के प्रमुख वैज्ञानिक डॉ. आर.एल. राऊत के मार्गदर्शन में कृषि वैज्ञानिकों डॉ. एस.आर. धुवारे, डॉ. एस.के. जाटव, डॉ. बी.के. प्रजापति, डॉ. एम.पी. इंगले, श्री सुखलाल वास्केल, श्री धर्मेन्द्र आगाषे, श्री जितेन्द्र मर्सकोले, श्री हेमंत राहंगडाले एवं श्री जितेन्द्र नगपुरे द्वारा किसानों को फल सब्जियों का सरंक्षण एवं मूल्य संवर्धन, मूंग में पौध सरंक्षण के उपाय, बीज की ग्रेडिंग एवं पैकिंग कैसे करें, किचन गार्डन की देखभाल कैसे करें, खरीफ के पूव्र किसान भाई किस प्रकार की तैयारी करें। आदि विषयों पर प्रषिक्षण दिया जा चुका हैं एवं अन्य समयानुकूल विषयों पर प्रषिक्षण कार्यक्रम सतत जारी रहेगा।
किसानों का क्या कहना हैं
    ऑनलाईन प्रषिक्षण से जुड़ने वाले किसानों का कहना हैं, कि कोरोना के संक्रमण काल के समय घर बैंठे अपने मोबाईल पर खेती से समय अनुकूल एवं आवश्यक जानकारी हमारा मार्गदर्शन कर रही हैं एवं आने वाले सीजन में इसके अच्छे परिणाम प्राप्त होंगे।
कृषि विज्ञान केन्द्र की चाहत
    कृषि विज्ञान केन्द्र के वरिष्ठ वैज्ञानिक एवं प्रमुख डॉ. आर.एल. राऊत का मानना हैं, कि निश्चित रूप से तकनीक इस सोशल डिस्टेंन्सिग के साथ किसानों को जुड़ने का एक सशक्त माध्यम बनने जा रहा हैं, बस इस बात का इंतजार हैं, कि किसान फोन लगाकर कहे कि हमें भी प्रशिक्षण से जोड़ लो और हम कहे कि इस बार 250 की सीमा से अधिक किसान हो गये आप अगली बार के प्रशिक्षण में भाग लीजियें।
(45 days ago)
डाउनलोड करे क्रुतीदेव फोन्ट में.
डाउनलोड करे चाणक्य फोन्ट में.
पाठकों की पसंद

संग्रह
जूनजुलाई 2020अगस्त
सोम.मंगल.बुध.गुरु.शुक्र.शनि.रवि.
293012345
6789101112
13141516171819
20212223242526
272829303112
3456789

© 2012 सर्वाधिकार सुरक्षित जनसम्पर्क विभाग भोपाल, मध्यप्रदेश             Best viewed in IE 7.0 and above with monitor resolution 1024x768.
Onder's Computer