समाचार
|| सोशल डिस्टेंसिंग और मास्क लगाने के नियमों का पालन नहीं करने वाले 124 लोगों पर 15 हजार रूपए का जुर्माना || छोटी ओमती बनेगा नया कंटेनमेंट जोन || 20 समूह नल-जल योजनाओं से 2659 ग्रामों में मिलेगा पेयजल || मत्स्य प्रजनन काल 16 जून से 15 अगस्त तक मत्स्याखेट निषेध || जेल बंदियों से मुलाकात की प्रतिबंध अवधि बढ़ी || होम क्वारेंटाइन व्यक्तियों को दिया जाएगा होम क्वारेंटाइन || बीएमसी से 07 मरीज स्वस्थ होकर खुशी-खुशी घर लौटे || सदर  कंटेनमेंट क्षेत्र में निःषुल्क राशन वितरण || शहर के विभिन्न स्थानों पर सरोकर योजना के तहत जरूरतमंदों को भोजन एवं राशन के पैकेट वितरित || 3 और पॉजिटिव मरीज मिले
अन्य ख़बरें
नगरीय निकायों के क्षेत्र में नालो की सफाई 15 जून से पहले करावे-कलेक्टर
बाढ राहत कार्य योजना 30 मई तक तैयार करने के निर्देश, बैठक में नाव खरीदने की दिशा में हुई चर्चा
श्योपुर | 23-मई-2020
 
   
    कलेक्टर श्री राकेश कुमार श्रीवास्तव ने कहा है कि आगामी मानसून से पहले आपदा प्रबंधन की दिशा में सभी प्रकार की तैयारियां विभागीय अधिकारी सुनिश्चित करें। जिससे जिले की चंबल, पार्वती, कूनो एवं सीप नदी के अलावा अन्य क्षेत्रो में बाढ की स्थिति में समय रहते कार्यवाईयों को अमल में लाया जा सके। इसी दिशा में नगरीय निकायों के क्षेत्र में नालो की सफाई 15 जून से पहले मुख्य नगर पालिका अधिकारी कराना सुनिश्चित करें। जिससे शहरी क्षेत्रो में बाढ की स्थिति निर्मित नही हो पाये। वे आज कलेक्टर कार्यालय श्योपुर के सभागार में बाढ राहत एवं आपदा प्रबंधन की तैयारियों की बैठक को संबोधित कर रहे थे।
    बैठक में पुलिस अधीक्षक श्री सम्पत उपाध्याय, सीईओ जिला पंचायत श्री हर्ष सिहं, वनमण्डलाधिकारी सामान्य श्री सुंधाशु यादव, कूनो श्री पीके वर्मा, अपर कलेक्टर श्री एसआर नायर, सहायक कलेक्टर श्री पवार नवजीवन विजय, एसडीएम श्योपुर श्री रूपेश उपाध्याय, कराहल श्री विजय यादव, विजयपुर श्री त्रिलोचन गौड, कमाण्डेट होमगार्ड श्री कुलदीप मलिक, कार्यपालन यंत्री पीडब्ल्यूडी श्री सकल्प गोलिया, जल संसाधन श्री सुभाष गुप्ता, एसएलआर श्री अनिल शर्मा, सीईओ जनपद श्योपुर श्री एबी प्रजापति, कराहल श्री एसएस भटनागर, तहसीलदार वीरपुर श्री वीरसिहं आवासिया, प्रभारी तहसीलदार श्योपुर कु. रजनी बघेल, बडौदा श्री भरत नायक, कराहल श्री शिवराज मीणा, सीएमओ नगर पालिका श्री आनन्द शर्मा अन्य संबंधित विभागीय अधिकारी उपस्थित थे।  
     कलेक्टर श्री राकेश कुमार श्रीवास्तव ने कहा कि आपदा प्रबंधन की दिशा में सर्वे एवं राहत टीम बनाई जाकर बाढ राहत की कार्य योजना 30 मई तक तैयार की जावे। जिससे बाढ की संभावना के मद्देनजर कार्य योजना को अमल में लाया जा सके। उन्होने कहा कि जिले के अनुविभागीय अधिकारी राजस्व एवं एसडीओपी अपने स्तर पर भी बैठक आयोजित कर बाढ की संभावना वाले क्षेत्रो का चिन्हांकन करें। उन्होने कहा कि गोताखोरो की सूची होमगार्ड एवं वन विभाग द्वारा तैयार की जावे। जिससे आवश्यतानुसार उनका उपयोग बाढ में किया जा सकें। उन्होने कहा कि आरडीसी के माध्यम से बडौदा शहर में पुल-पुलियो का निर्माण शीघ्र कराया जावे। जिससें तीन नालो के माध्यम से बडौदा शहर पानी से नही घिर पाये। उन्होने कहा कि राजस्व विभाग के माध्यम से बाढ राहत की दिशा में जो निर्देश प्राप्त हुई है। उनसे सभी अधिकारियों को अवगत कराया जावे।
    पुलिस अधीक्षक श्री सम्पत उपाध्याय ने बैठक में कहा कि बाढ राहत की दिशा में प्रारंभिक तैयारियां समय रहतें पूर्ण की जावे। साथ ही बाढ की संभावना वाले क्षेत्रो में रिसोर्स रखे जाकर व्यवस्थाओ को चिन्हांकित किया जावे। उन्होने कहा कि बाढ की संभावना वाले क्षेत्रो में ग्रामीणो को बाढ की संभावना के बारे में अवगत कराया जावे। साथ ही बाढ की दिशा में होने वाली परेशानियों की भी जानकारी दी जावे।
    जिला पंचायत के सीईओ श्री हर्ष सिहं ने बैठक में कहा कि बाढ की संभावना वाले क्षेत्रो से वर्षा के दौरान 3-4 महीना आवागमन कट जाता है। इसलिए बाढ से घिरने वाले गांवो मे राशन, दवाईयां आदि की व्यवस्था पूर्व में ही सुनिश्चित की जावे। उन्होने कहा कि पीडब्ल्यूडी के माध्यम से पुल-पुलियो का ठीक कराने की कार्यवाही की जावे। साथ ही संकेतक चिन्ह लगाये जावे।
    डीएफओ सामान्य वन मंडल श्री सुंधाशु यादव ने बैठक में कहा कि वर्षा के पूर्व चंबल सेंचुरी नाव और बोट को तैनात रहने के लिए पांबद किया जावेगा। साथ ही आवश्यकता पडने पर बास, बल्ली, सूखी लकडी की व्यवस्था वन विभाग के माध्यम से कराई जावेगी। साथ ही गोताखोरो का चिन्हांकन किया जाकर मुस्तैद रहने के लिए सूची तैयार की जावेगी।
    अपर कलेक्टर श्री एसआर नायर ने बैठक में कहा कि राजस्व विभाग के माध्यम से बाढ राहत की दिशा में जारी निर्देशों के अंतर्गत प्रारंभिक तैयारियों करने के बारे मे अवगत करया। साथ ही कलेक्टर कार्यालय में संचालित कन्ट्रोलरूम, पुलिस कन्ट्रोलरूम के माध्यम से बाढ की जानकारियों का आदान-प्रदान कराया जावेगा। साथ ही भू-अभिलेख कार्यालय में भी कन्ट्रोलरूम जानकारियां सकलित करने के लिए बनाया जावेगा। उन्होने कहा कि जल संसाधन एवं लोक निर्माण विभाग के कार्यालयों में भी कन्ट्रोलरूम स्थापित किया जावेगा। इसके अलावा तहसील स्तर पर भी कन्ट्रोलरूम बनाये जावेगे।
    एसडीएम श्री रूपेश उपाध्याय ने बैठक में कहा कि ग्राम सूडी और साड चारो तरफ पानी से बाढ के दौरान घिर जाते है। खातौली, दातंरदा में भी विगत वर्ष सडक पर पानी भरने से परेशानी आई थी। इसके अलावा बडौदा शहर तीन नालो से घिरा है। उन नालो की सफाई नगरीय निकाय के द्वारा कराई जावे। साथ ही आरडीसी के माध्यम से पुल-पुलिया बनाई जावे।
    बैठक में होमगार्ड के कमाण्डेट श्री कुलदीप मलिक, कार्यपालन यंत्री पीडब्ल्यूडी श्री संकल्प गोलिया एवं जल संसाधन श्री सुभाष गुप्ता ने विभगीय कन्ट्रोलरूम बनाने की जानकारी दी। साथ ही बाढ की स्थिति निर्मित होने पर विभागीय गतिविधियां प्राथमिकता पर जारी रखने का आश्वासन दिया।
(10 days ago)
डाउनलोड करे क्रुतीदेव फोन्ट में.
डाउनलोड करे चाणक्य फोन्ट में.
पाठकों की पसंद

संग्रह
मईजून 2020जुलाई
सोम.मंगल.बुध.गुरु.शुक्र.शनि.रवि.
25262728293031
1234567
891011121314
15161718192021
22232425262728
293012345

© 2012 सर्वाधिकार सुरक्षित जनसम्पर्क विभाग भोपाल, मध्यप्रदेश             Best viewed in IE 7.0 and above with monitor resolution 1024x768.
Onder's Computer