समाचार
|| पीसी-पीएनडीटी एक्ट के अंतर्गत जिला सलाहकार समिति की बैठक 5 जून को || भूतपूर्व सैनिक एवं वीर नारी विस्तृत जानकारी 15 जून तक दें || फोटोयुक्त मतदाता सूची पुनरीक्षण के तहत एक से 9 जुलाई तक दावे एवं आपत्तियां प्राप्त होंगीं || नि:शक्त विद्यार्थियों की शेष बची परीक्षायें 9 जून से || 5 जून से शिक्षक पद के अभ्यर्थी अपलोडेड दस्तावेजों में कर सकेंगे सुधार || अध्यक्ष रेरा श्री अन्टोनी डिसा ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग से की 9 प्रकरणों की सुनवाई || डिजिटल लर्निंग प्रोग्राम के तहत वॉट्सएप ग्रुप के माध्यम से शिक्षा की व्यवस्था करें || जल संसाधन मंत्री श्री सिलावट निर्माणाधीन सड़क के कार्यों का निरीक्षण किया || म.प्र. कृषि उपज मण्डी संशोधन अधिनियम के प्रारूप परीक्षण और अभिमत के लिये अपर मुख्य सचिव (श्रम) की अध्यक्षता में समिति गठित || ऑनलाइन आवेदन पर फिंगर प्रिंट के स्थान पर ओटीपी की सुविधा मिलेगी-मंत्री श्री पटेल
अन्य ख़बरें
इम्यूनिटी के साथ आत्मबल को भी बड़ाएं
-
शिवपुरी | 23-मई-2020
 
   
     कोरोना संकट के कारण लॉकडाउन में प्रदेश  के नागरिकों को उत्साह, आनंद की अनुभूति कराने और स्वयं से जुडाव के लिए  राज्य आनंद संस्थान के लोकप्रिय अल्पविराम कार्यक्रम के ऑनलाइन प्रशिक्षण का प्रतिदिन आयोजन किया जा रहा है।
    राज्य आनंद संस्थान के मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्री अखिलेश अर्गल ने बताया कि कोरोना के इस संकट काल के दौरान नागरिकों में फैले भय और अवसाद को दूर करने के लिए संस्थान ऑनलाईन अल्पविराम कार्यक्रम 4 मई से संचालित कर रहा है।
    इस कार्यक्रम में 40 प्रतिभागी ऑनलाइन जुड़ सकते है। इससे स्वयं के जीवन के प्रति जागरूकता, जीवन का लेखा-जोखा, किसने हमारी मदद की, हमने किसकी मदद की, मेरे जीवन के लक्ष्य आदि मुद्दों पर बात की जाती है। श्री अर्गल ने बताया कि पिछले 60 दिनों से कोरोना माहामारी से बचाव के लिए हम सभी अपने-अपने घरों में हैं। बाहर के इस संकट से बचने का सबसे सही उपाय यही है कि हम स्वयं को घर के अंदर रखें, सोशल डिस्टेंसिग का पालन करें, भीड़ नहीं  लगाए और भीड़ हो ऐसी जगह पर नहीं जाएं। जब हम बाहर नहीं जा पा रह हों तो क्यों ना अपने स्वयं के अंदर जाएं, स्वयं के जीवन के भीतर उतरें। अपनी अंतरात्मा से बातचीत  करें, स्वयं को समय दें।
    संस्थान के द्वारा 04 मई से प्रतिदिन 40 लोग का पंजीयन कर एक समूह बनाया जा रहा है, जिसमें अगले छर: दिनों तक लगातार अल्पविराम के सत्रो का ऑनलाइन अभ्यास कराया जा रहा है। राज्य आनंद संस्थान के प्रशिक्षित मास्टर ट्रेनर्स द्वारा ऑनलाइन वीडियो के माध्यम से यह अभ्यास कराया जा रहा है। अब तक इस प्रकार के 15 कोर्सों में प्रतिभागियों का पंजीयन किया गया है। जिससे  450 से अधिक लोगों ने लाभ उठाया है।
    यह प्रक्रिया और कार्यक्रम निरंतर जारी है। कोई भी व्यक्ति राज्य आनंद संस्थान की बेवसाईट www.anandsansthanmp.in  पर जाकर आनंद शिविर टैब को क्लिक कर अपना पंजीयन निःशुल्क करा सकता है। इस सम्बन्ध में अधिक सहायता के लिए फोन (7723929667) पर संपर्क भी कर सकते है। संस्थान के मुख्य कार्यपालन अधिकारी ने नागरिकों से अपील की है कि इस कार्यक्रम से जुड़ें। इस अभ्यास को करने से आप अपने आंतरिक आनंद को पहचानने में सक्षम हो पायेंगे। जीवन को समझने के नजरिए में  बदलाव आएगा जो निश्चित रूप से आपके आनंद को बड़ा सकेगा।
(11 days ago)
डाउनलोड करे क्रुतीदेव फोन्ट में.
डाउनलोड करे चाणक्य फोन्ट में.
पाठकों की पसंद

संग्रह
मईजून 2020जुलाई
सोम.मंगल.बुध.गुरु.शुक्र.शनि.रवि.
25262728293031
1234567
891011121314
15161718192021
22232425262728
293012345

© 2012 सर्वाधिकार सुरक्षित जनसम्पर्क विभाग भोपाल, मध्यप्रदेश             Best viewed in IE 7.0 and above with monitor resolution 1024x768.
Onder's Computer