समाचार
|| ट्रेडो में निःशुल्क प्रशिक्षण प्राप्त करने हेतु आवेदन 15 अगस्त तक आमंत्रित || विटामिन ए अनुपूरण अभियान 17 जुलाई से || कलेक्टर ने 09 कंटेनमेंट एरिया किए घोषित || ललितपुर-सिंगरौली परियोजना की समन्वय बैठक 20 जुलाई को || नगर पालिका/नगर परिषद वार्डो के आरक्षण की कार्यवाही 25 जुलाई को || जिले में औसत वर्षा 415.3 मि.मी. दर्ज सर्वाधिक वर्षा सिहावल में || फरार आरोपियों के गिरफ्तारी पर ईनाम घोषित || ड्यूटी लगाने के निर्देश || कंटेनमेंट एरिया घोषित || निःशुल्क ऑनलाइन अल्पविराम कार्यक्रम 20 जुलाई से, पंजीयन प्रारंभ
अन्य ख़बरें
जिले में वायरस का खतरा अभी टला नहीं हैं, जरूरी एहतियाति बरतीं जाएं - कलेक्टर
-
आगर-मालवा | 26-मई-2020
    देश में कोरोना वायरस के आंकडे लगातार बढ़ रहे है। इसके दृष्टिगत जिले में पूरी सतर्कता एवं सावधानी बरती जाए। जिले में वायरस का खतरा अभी टला नहीं हैं, जरूरी एहतियाति बरतीं जाएं। उक्त निर्देश कलेक्टर श्री संजय कुमार ने मंगलवार को कोविड-19 को लेकर आयोजित जिला अधिकारियों की बैठक में दिए। कलेक्टर ने कहा कि भारत सरकार एवं प्रदेश सरकार द्वारा कई प्रकार की गतिविधियों को लॉकडाउन में छूट प्रदान की गई हैं, इसकों ध्यान में रखते हुए सभी स्थानों पर सोशल डिस्टेंस का पालन अनिवार्य करवाएं। रात्रि के समय बंद का पालन करवाया जाए। कलेक्टर शासकीय कार्यालयों में वायरस को लेकर एहतियाति बरतने के निर्देश अधिकारियों को देते हुए कहा कि कार्यालयांे मे हैण्ड सेनेटाईजर की व्यवस्था रखे तथा सोशन दूरी का पालन करें।
    बैठक में सीईओ जिला पंचायत अंजली जोसेफ, अपर कलेक्टर एनएस राजावत, संयुक्त कलेक्टर अशफाक अली, एसडीएम मनीष जैन, सीएमएचओ डॉ. विजय कुमार सिंह सहित समस्त नगरीय निकायों के सीएमओ, तहसीलदार सहित अन्य अधिकारी मौजूद रहें।
    कलेक्टर ने कहा कि जिले में नागरिकों को वायरस से सुरक्षित रखने के लिए सोशल डिस्टेंस का पालन एवं घर से बाहर के दौरान मास्क उपयोग लम्बे समय तक करवाना होगा। कलेक्टर ने कहा कि जो नागरिक जिले में वायरस खत्म होने की वर्तमान स्थिति को लेकर गलतफहमी है वे न रहें, वायरस का खतरा पूरी तरह टला नहीं हैं। इस हेतु सावधानी रखें। कलेक्टर ने अधिकारियों से भी कहा कि वर्तमान स्थिति से वायरस की रोकथाम को लेकर सतर्कता में कोई कमी न आने दें। जो गतिविधियां पूर्व से जारी है, वे निरंतर रखें। जिले में सभी वस्तुओं की आपूर्ति सुचारू रहें। राहत केन्द्रों में भी सभी आवश्यक व्यवस्था रखी जाए। प्रचार-प्रसार वाहनों से लोगों को जागरूक किया जाए। सर्विलेंस टीम सर्दी, खांसी, बुखार के मरीजों को सर्वे कार्य जारी रखें। लक्षण वाले मरीजों का तत्काल परीक्षण करवाया जाए। सभी प्रहरियों का डेटा बैस लेवे प्रत्येक ग्रामवार पांच पांच प्रहरियों को कार्य देवे ताकि वो नागरिकों को जागरूक करते रहे।
 
(51 days ago)
डाउनलोड करे क्रुतीदेव फोन्ट में.
डाउनलोड करे चाणक्य फोन्ट में.
पाठकों की पसंद

संग्रह
जूनजुलाई 2020अगस्त
सोम.मंगल.बुध.गुरु.शुक्र.शनि.रवि.
293012345
6789101112
13141516171819
20212223242526
272829303112
3456789

© 2012 सर्वाधिकार सुरक्षित जनसम्पर्क विभाग भोपाल, मध्यप्रदेश             Best viewed in IE 7.0 and above with monitor resolution 1024x768.
Onder's Computer