समाचार
|| प्रदेश के लिये 5.75 लाख मीट्रिक टन अतिरिक्त यूरिया की मांग || कोरोना रोकथाम के लिये 27.51 करोड़ की आयुर्वेदिक दवा प्रदाय || जिले में अब तक 287.4 मि.मी. औसत वर्षा दर्ज || संपत्ति एवं जल कर में नहीं लगेगा अधिभार || 21 हजार से अधिक बिजली शिकायतों का मौके पर निराकरण || जिले के 25 मेधावी छात्र-छात्राओं का किया गया सम्मान || खरीफ मौसम में किसानों को खाद-बीज की परेशानी न हो- कलेक्टर || रोगी को सड़क पर छोड़ जाने की घटना अमानवीय और निंदनीय || किल कोरोना अभियान में 56.81 लाख घरों का सर्वे पूर्ण || होटल्स एवं रेस्टॉरेंट में कोरोना संक्रमण से बचाव के समस्त उपाय सुनिश्चित किए जाएं
अन्य ख़बरें
‘‘विटामिन ‘ए’ अनुपूरण-प्रथम चरण का आयोजन 7 जुलाई से 08 अगस्त तक
-
मुरैना | 25-जून-2020
    कोविड-19 महामारी को दृष्टिगत् रखते हुये शासन द्वारा जन समुदाय में रोग प्रतिरोधक क्षमता की वृद्वि किये जाने के उद्देश्य से जिले में वित्तीय वर्ष 2020-21 में  ‘‘विटामिन ‘ए’ अनुपूरण-प्रथम चरण का आयोजन 07 जुलाई से 08 अगस्त 2020 तक किया जायेगा। जिसके वेहतर क्रियान्वयन हेतु जिला स्तरीय प्लानिंग वैठक का आयोजन कलेक्टर श्रीमती प्रियंका दास की अध्यक्षता में कलेक्टर कक्ष में गुरूवार को मुरैना में किया गया। इस अवसर पर मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. आर.सी. बांदिल, जिला महिला एवं बाल विकास अधिकारी श्रीमती उपासना राय, एन.आई. के संभागीय समन्वयक ग्वालियर संभाग मिर्जा रफीक वेग, सिविल सर्जन, डीपीएम, मलेरिया अधिकारी, बीएमओ सहित स्वास्थ्य व महिला बाल विकास के समस्त जिला एवं ब्लॉक अधिकारीगण उपस्थित थे।    
    कलेक्टर श्रीमती प्रियंका दास निर्देश दिये कि आशा एवं आंगनवाडी कार्यकर्ता द्वारा 09 माह से 05 वर्ष के बच्चों को विटामिन ‘‘ए’’अनुपूरण हेतु सीमित संख्या में सत्र स्थल पर नियमित अंतराल से बुलाया जाये। किसी भी परिस्थिति में सत्र स्थल पर एक समय में 05 से अधिक हितग्राही उपस्थित नहीं हों तथा 02 व्यक्तियों के मध्य कम से कम 06 फीट की दूरी अवश्य रखी जायें। आशा एवं आंगनवाडी कार्यकर्ताओं द्वारा हितग्राहियों की माताओं को पूर्व में ही घर से साफ धुली हुई चम्मच लाने हेतु सूचना दी जाये तथा सुनिश्चित करें कि बच्चों की माताओं, पालको, परिवार के सदस्य जो बच्चों के साथ टीकाकरण स्थल पर आ रहे है, वे अपने साथ धुली हुई चम्मच अवश्य लाये। मैदानी कार्यकर्ताओं द्वारा विटामिन ‘‘ए’’ की बोतल के साथ प्रदायित 01 एम.एल./02 एम.एल. मार्किग युक्त चम्मच से विटामिन ‘‘ए’’ की दवा हितग्राहियों की चम्मच में डालने के उपरांत परिवार सदस्य द्वारा बच्चों को पिलाई जाये। ’’मॉप-अप दिवस’’ में  गृह भ्रमण के दौरान भी मैदानी कार्यकर्ताओं द्वारा विटामिन ‘‘ए‘‘ की खुराक हितग्राही के घर की साफ धूली हुई चम्मच में डालने के उपरांत परिवार सदस्य द्वारा बच्चों को पिलाई जाये। टीकाकरण स्थल पर साबुन से हाथ धोने, सेनेटार्इ्रजर से हाथ साफ करने की व्यवस्था की जाये। गृह भ्रमण के दौरान भी कार्यकर्ताओं द्वारा साबुन, सेनेटाईजर अवश्य साथ में रखें। कोविड-19 रेड जोन,  कन्टेंनमेंट क्षेत्रों में उक्त गतिविधि का आयोजन नहीं किया जाये। तथा ऐसे क्षेत्रों में परिस्थितियां सामान्य होने के उपरांत ही विटामिन ‘‘ए’’ का अनुपूरण की गतिविधि आयोजित की जाये। ग्रामीण क्षेत्रों एवं शहरी क्षेत्रों में चिन्हिंत संस्थाओं में क्वारेंटाईन में रखे गये प्रवासी मजदूर परिवारों में 09 माह से 05 वर्षीय आयुवर्ग के हितग्राहियों को चिंन्हित कर विटामिन ‘‘ए’’ अनुपूरण किया जाये। क्वारेंटाईन में 09 माह से 05 वर्षीय आयुवर्ग के बच्चोें का विटामिन ‘‘ए‘‘ अनुपूरण क्षेत्र की ए.एन.एम. द्वारा संस्था में पदस्थ  स्वास्थ्य कर्मियों, आयुष चिकित्सकों, पर्यवेक्षण के सहयोग से किया जाये। इससे पूर्व कार्यक्रम की विस्त्रित जानकारी प्रदान करते हुये एन.आई. के संभागीय समन्वयक  ग्वालियर संभाग मिर्जा रफीक वेग ने वताया कोविड-19 महामारी को दृष्टिगत् रखते हुये शासन द्वारा जन समुदाय में रोग प्रतिरोधक क्षमता की वृद्वि किये जाने हेतु विभिन्न प्रयास किये जा रहे है। भारत शासन के दिशा-निर्देशानुसार Campaign Mode Service के अंतर्गत 09 माह से 05 वर्षीय समस्त बच्चों को Mass Vitamin A Prophylaxis की खुराक दी जाना अत्यंत आवष्यक है। अतः जिले में वित्तीय वर्ष  2020-21 में  ‘‘विटामिन ‘ए’ अनुपूरण-प्रथम चरण का आयोजन 07 जुलाई से 08 अगस्त 2020 तक किया जायेगा। जिसके अंतर्गत स्वास्थ्य विभाग एवं महिला बाल विकास विभाग के मैदानी कार्यकर्ताओं द्वारा 09 माह से 05 वर्ष के बच्चों को विटामिन ‘ए’ घोल की खुराक पिलाई जायेगी। 
    यह साक्ष्य आधारित है, कि 06 माह के अंतराल में 09 माह से 05 वर्षीय समस्त बच्चों में विटामिन ‘‘ए’’ अनुपूरण द्वारा रोग प्रतिरोधक क्षमता में वृद्वि होती है, जिससे बाल्यावस्था में होने वाले कुपोषण में कमी आती है एवं बाल जीवितता में 20 प्रतिशत  की वृद्वि की जा सकती है। प्रत्येक ग्राम में ए.एन.एम. ऑगनवाडी कार्यकर्ता तथा आशा कार्यकर्ता के संयुक्त दल द्वारा नियमित टीकाकरण, ग्राम व शहरी स्वास्थ्य एवं पोषण दिवस के दौरान 09 माह से 05 वर्ष तक के उम्र के बच्चों को विटामिन ‘‘ए‘‘ का घोल की खुराक पिलाई जाये। छुटे हुये बच्चों को विटामिन ‘ए’ का घोल की खुराक नियमित टीकाकरण, स्वास्थ्य एवं पोषण दिवस के अगले दिन ‘‘मॉप-अप दिवस’’ में घर-घर जाकर ए.एन.एम., आंगनवाडी कार्यकर्ता तथा आशा कार्यकर्ता के संयुक्त दल द्वारा पिलाई जावे। मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. आर.सी. बांदिल ने कहा की व्हीएचएनडी, यूएचएनडी तथा मॉप-अप दिवस के दौरान फिजिकल डिस्टेंसिंग के नियमों का पालन करते हुये ए.एन.एम. के द्वारा अथवा ए.एन.एम. की निगरानी में ऑगनवाडी कार्यकर्ता, आशा कार्यकर्ता द्वारा विटामिन ‘‘ए’’ घोल की खुराक बच्चों को पिलाई जाये। 
 
(12 days ago)
डाउनलोड करे क्रुतीदेव फोन्ट में.
डाउनलोड करे चाणक्य फोन्ट में.
पाठकों की पसंद

संग्रह
जूनजुलाई 2020अगस्त
सोम.मंगल.बुध.गुरु.शुक्र.शनि.रवि.
293012345
6789101112
13141516171819
20212223242526
272829303112
3456789

© 2012 सर्वाधिकार सुरक्षित जनसम्पर्क विभाग भोपाल, मध्यप्रदेश             Best viewed in IE 7.0 and above with monitor resolution 1024x768.
Onder's Computer