समाचार
|| मुख्यमंत्री श्री चौहान के स्वेच्छानुदान से जिले के 24 लोगो को उपचार के लिए सहायता राशि स्वीकृत || जिले में अभी तक 558.5 मिली मीटर औसत वर्षा दर्ज || जिले में वर्षा की स्थिति || 26 सेम्पल की रिपोर्ट पाजिटिव प्राप्त हुई || ऑनलाईन स्थाई एवं निरंतर लोक अदालत 29 अगस्त को || ड्यूटी लगाने के निर्देश || कंटेनमेंट एरिया घोषित || कलेक्टर श्री चंद्रमौली शुक्ला ने देवास जिले में जारी किए नवीन प्रतिबंधनात्मक आदेश || किसी भी शहर में नहीं दिखे कचरे का ढेर रू नगरीय विकास मंत्री भूपेन्द्र सिंह || जिले में 714.7 मि.मी. औसत वर्षा दर्ज हुई
अन्य ख़बरें
हम सब मिलकर आत्मसात करें और कोरोना को भगाने में सहयोगी बने- चम्बल कमिश्नर
किल कोरोना टीमों को परिवार के सदस्यों की सही जानकारी दें - कलेक्टर, मुरैना जिले में किल-कोरोना अभियान की शुरूआत अधिकारियों ने की
मुरैना | 01-जुलाई-2020
    किल-कोरोना अभियान में डोर-टू-डोर सर्वे दल के सदस्य पहुंचकर आज से प्रारंभ कर रहे है, सभी नागरिक अभियान मे सर्वे टीम को सही जानकारी देकर कोरोना को भगाने में सहयोगी बनें। यह बात चम्बल कमिश्नर श्री रवीन्द्र कुमार मिश्रा ने किल कोरोना अभियान का शुभारंभ अवसर पर कही । वे आज निगम की इस्लामपुरा बस्ती में पहुंचे थे। इस अवसर पर आईजी चंबल रेंज श्री मनोज शर्मा, कलेक्टर श्रीमती प्रियंका दास, पुलिस अधीक्षक श्री अनुराग सुजानिया, मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत श्री तरूण भटनागर, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक श्री हंसराज सिंह, अपर कलेक्टर श्री एसके मिश्रा एसडीएम सहित राजस्व एवं पुलिस तथा स्वास्थ्य विभाग के अधिकारी कर्मचारी उपस्थित थे।        
    चंबल कमिश्नर श्री रवीन्द्र कुमार मिश्रा ने कहा कि कोविड-19 के व्यापक सर्वेलेन्स के लिए प्रदेश भर में 15 दिवसीय स्पेशल फीवर स्क्रीनिंग कैम्पेन ’’ किल कोरोना ’’ अभियान चलाया जा रहा है। अभियान की शुरूआत मुरैना जिले में बुधवार को की गई है। कमिश्नर श्री मिश्रा ने कहा कि आज पूरा विश्व इस वैश्विक महामारी कोरोना से जूझ रहा है। देश, प्रदेश और हमारा जिला भी इस महामारी से चार माह से लगातार संघर्ष कर रहा है। हमारे कोरोना योद्धा इस मिशन में लगे हुए है। अब ये योद्धा जिले के हर घर-घर पहुंचकर सर्वे और जांच करेगें। उन्होंने नागरिकों से अपील की है कि किल कोरोना अभियान में घर-घर पहुंच रहे सर्वे दल को आवश्यक  जानकारी देकर सहयोग प्रदान करें। सर्दी- खांसी जुकाम के साथ डेंगू, मलेरिया, डायरिया आदि के लक्षण पाए जाने पर भी जरूरी परामर्श और उपचार नागरिकों को मिलेगा। नागरिकों के सहयोग से ही हम कोरोना महामारी को हराने में समर्थ हो पाएंगे। मध्य प्रदेश में चलाया जा रहा किल-कोरोना अभियान पूरी दुनिया और देश में पहला अभियान है। जिसे एक उदाहरण के रूप में याद किया जायेगा। यह अभियान कोरोना को जड़ से समाप्त करने का महाअभियान है। मुरैना जिले में करीबन 19 लाख जनसंख्या के लिये 285 टीमें घर-घर पहुंचकर अभियान को सफल बनायेगी। उन्होंने कहा कि जिस प्रकार व्यक्ति न्यू राशन कार्ड बनवाने के लिये घर के सभी सदस्यों की जानकारी प्रदान करता है ठीक उसी प्रकार किल कोरोना अभियान में परिवार के समस्त सदस्यों की जानकारी बतायें उसे छिपायें नहीं। जिससे कारोना का खात्माकर अपने व्यापार, दुकान, प्रतिष्ठानों को खोल सकेंगे । उन्हांेने कहा कि कोरोना के कारण नातेदारी-रिस्तेदारियों में भी आना जाना नहीं हो पा रहा है।
    श्री मिश्रा ने कहा कि कोविड-19 वैश्विक महामारी पर हम अपनी समर्पित सेवाओं व राष्ट्रहित, सामाजिक, जनहित में निरंतर समन्वित प्रयास से विजय प्राप्त  करेंगे। ‘’किल कोरोना’’ दल के सदस्य के रूप में हम निरंतर समर्पित, पूर्ण निष्ठा व निःस्वार्थ भाव से प्रत्येक नागरिक का स्वास्थ्य परीक्षण कर उनके स्वस्थ्य रहने इस बीमारी से बचाव, नियंत्रण व उपचार हेतु परामर्श देगें व आवश्यकतानुसार उपचार का समाधानकारक कार्य भी करेगें। कोरोना हारेगा और हम जितेगें यही हम सब का संकल्प है।‘’
    चंबल रेंज आईजी श्री मनोज शर्मा ने कहा कि किल कोरोना अभियान में पुलिस प्रशासन भी टीम के साथ कंधे से कंधा मिलाकर सहयोग प्रदान करेगा। वो दिन दूर नहीं कि हम सब मिलकर कोरोना को हराकर ही दम लेंगे। उन्होंने कहा कि पुलिस के जवान सभी के भाई हैं। उनके साथ भी सहयोग प्रदान करें। 
    अभियान में कलेक्टर श्रीमती प्रियंका दास ने कहा कि किल कोरोना अभियान की टीम प्रत्येक घर पहुंचकर बीमारी के बारे में पूछताछ करेगी और इंफ्रारेड थर्मामीटर, पल्स ऑक्सीजन यंत्र से मशीन से व्यक्ति के शरीर की ऑक्सीजन को ज्ञात किया जायेगा। इसके बाद डॉक्टरों की टीम घर-घर पहुंचेगी और जो व्यक्ति बुखार, जुकाम या मलेरिया के मरीज मिलेंगे उनका समुचित इलाज करेगी। आवश्यक पड़ने पर कोरोना की जांच भी करायेगी। कोरोना से घबरायें नहीं कोरोना एक साधारण बीमारी है। अब इसके लिये जांच जिला चिकित्सालय में नहीं बल्कि जीवाजी क्लब वीआईपी रोड़ पर की जा रही है। 
डोर-टू-डोर होगा सर्वे
    डोर-टू-डोर सर्वे के लिए पूरे जिले में प्रतिदिन घर-घर सर्वे के लिए आंगनबाड़ी और आशा कार्यकर्ताओं की 285 टीमें गठित की गई हैं। सुपरवाईजर टीम एवं डाक्टरों की टीम जायेगी हैल्थ चैकअप के उपरान्त आवश्यक हुआ तो सेम्पलिंग की जांच करवायेंगी। प्रत्येक टीम को नॉन कान्टेक्ट थर्मामीटर, पल्स ऑक्सीमीटर और जरूरी प्रोटेक्टिव गियर उपलब्ध कराया गया है।
सार्थक एप में संदिग्ध मरीजों की होगी प्रविष्टि
    किल कोरोना अभियान में सर्वे द्वारा कोरोना संदिग्ध मरीजों के साथ-साथ मलेरिया, डेंगू, चिकनगुनिया आदि के संदिग्ध मरीजों को भी चिन्हांकित कर इनकी प्रविष्टि सार्थक एप में की जायेगी। कोविड-19 के संदिग्धों की जिनकी प्रविष्टि सार्थक एप पर की जाती है, सम्बन्धित क्षेत्रों के मरीजों की सेम्पलिंग की जायेगी। रोजाना चिन्हित किये गये संदिग्धों की सेम्पलिंग के बाद उनकी टेस्टिंग की जायेगी।
 
(44 days ago)
डाउनलोड करे क्रुतीदेव फोन्ट में.
डाउनलोड करे चाणक्य फोन्ट में.
पाठकों की पसंद

संग्रह
जुलाईअगस्त 2020सितम्बर
सोम.मंगल.बुध.गुरु.शुक्र.शनि.रवि.
272829303112
3456789
10111213141516
17181920212223
24252627282930
31123456

© 2012 सर्वाधिकार सुरक्षित जनसम्पर्क विभाग भोपाल, मध्यप्रदेश             Best viewed in IE 7.0 and above with monitor resolution 1024x768.
Onder's Computer