समाचार
|| रविवार को एक दिन का लॉक डाउन रहेगा, शनिवार को मार्केट खुलेंगे || एसओपी का पालन नहीं करने पर दस दुकानें सील की गई || ग्राम बाजा में मिला कोरोना संक्रमित मरीज || आज की नॉवल कोरोना वायरस हेल्थ बुलेटिन || आज 10 पॉजिटिव केस सामने आए || बटियागढ कोविड केयर सेंटर से 04 योद्धाओं की हुई छुट्टी || नगरपालिका क्षेत्रांतर्गत कर्नेलगंज गुना में संपूर्णं लॉकडाउन समाप्‍त || कलेक्ट्रेट परिसर मंदिर यथावत रहेगा- कलेक्टर श्री सिंह || आदिवासियों से मारपीट-दुर्व्‍यवहार को गंभीरता से लिया जाएगा - कलेक्‍टर || जैसे हम बच्चे अपना चेकअप करवाने आ सकते हैं, आप बड़े लोग भी आइए, यहां इलाज करवाइए, इस बीमारी को हम लोग मिलकर हरायेगें
अन्य ख़बरें
कोई भी पात्र व्यक्ति वनाधिकार पट्टे से वंचित न रहे- कलेक्टर
वनाधिकार पट्टा तथा राजस्व अभियान को गति देने कार्यशाला सह बैठक आयोजित
रायसेन | 03-जुलाई-2020
    एक निर्धन व्यक्ति के लिए स्वयं का भूखण्ड और सिर पर छत होना एक सपने की तरह होता है। प्रदेश सरकार द्वारा इन निर्धन व्यक्तियों को जिस स्थान पर वह निवासरत हैं, उन्हें वनाधिकार पट्टा प्रदान कर भू-खण्ड का मालिक बनाने के लिए अभियान चलाया जा रहा है। इस अभियान के तहत कोई भी पात्र व्यक्ति अपने अधिकार से वंचित न रहे, यह हम सभी को सुनिश्चित करना है। यह बात कलेक्टर श्री उमाशंकर भार्गव ने वन अधिकार पट्टा, राजस्व अभियान को गति देने के लिए जिला मुख्यालय स्थित वन परिसर में आयोजित बैठक सह कार्यशाला में कही। बैठक में डीएफओ श्री राजेश खरे, सीईओ जिला पंचायत श्री पीसी शर्मा तथा एसडीएम श्री एलके खरे सहित संबंधित अधिकारी उपस्थित थे।
   बैठक सह कार्यशाला में कलेक्टर श्री भार्गव ने वन अधिकार पट्टों के प्रकरणों की जानकारी लेते हुए राजस्व अधिकारियों तथा वन अमले को वन अधिकार पट्टों के दावा प्रकरणों में व्यवहारिक दृष्टिकोण अपनाते हुए शीघ्र निराकृत करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि कोई भी पात्र व्यक्ति वन अधिकार पट्टे से वंचित ना रहे, यह सुनिश्चित किया जाए। वर्ष 2005 से पूर्व से रह रहे व्यक्ति के पास दस्तावेज नहीं होने पर पंचनामा बनाकर नियमानुसार कार्यवाही की जाए। जो व्यक्ति अनुसूचित जनजाति वर्ग का नहीं है और तीन पीढ़ियों से वहीं रह रहा है तो उन्हें भी पट्टा वितरित किया जा सकता है। उन्होंने तेन्दूपत्ता संग्रहण समितियों के सदस्यों का संबल योजना में पंजीयन सुनिश्चित कराने के निर्देश दिए, जिससे कि उन्हें भी संबल योजना का लाभ मिल सके।
कोरोना संक्रमण को रोकना हम सभी की जिम्मेदारी है
   कलेक्टर श्री भार्गव ने कोरोना संक्रमण के नियंत्रण के लिए चलाए जा रहे किल कोरोना अभियान के सुचारू क्रियान्वयन के लिए निर्देश देते हुए कहा कि किल कोरोना अभियान शासन का महत्वपूर्ण अभियान है। जिसमें सर्वे दल द्वारा घर-घर जाकर सर्वे करते हुए कोरोना संदिग्ध व्यक्तियों, गर्भवती महिलाओं, बच्चों, वृद्धजनों को चिन्हित किया जा रहा है। परिवार के सदस्यों से सर्दी, खांसी, बुखार, सांस लेने में तकलीफ, गले में खराश, टीवी, ब्लड प्रेशर, शुगर के मरीजों की जानकारी एकत्रित की जा रही है तथा स्वास्थ्य दल द्वारा उपचार भी किया जा रहा है। साथ ही कोरोना संदिग्ध व्यक्तियों के सेम्पल लेकर जांच के लिए भेजे जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि कोविड-19 संक्रमण से स्वयं को, अपने परिवार को, अपने मोहल्ले को तथा अपने समाज को सुरक्षित रखना हमारी मेहती जिम्मेदारी है। लोगों को भी कोविड-19 संक्रमण से बचाव के लिए सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करने, मास्क लगाने सहित अन्य सावधानियां बरतने के लिए जागरूक किया जाए।
आपदा की सूचना मिलते ही तत्काल शुरू करें राहत कार्य
   कलेक्टर श्री भार्गव ने अतिवृष्टि, जलभराव एवं बाढ़ की स्थिति के दौरान शीघ्र राहत एवं बचाव कार्य के लिए की गई तैयारियों की जानकारी लेते हुए सूचना मिलने पर त्वरित रूप से राहत एवं बचाव कार्य शुरू करने के निर्देश दिए। पंचायत भवन सुदृढ़ीकरण अभियान की जानकारी लेते हुए उन्होंने पंचायत भवनों के पुताई सहित अन्य कार्य पूर्ण करने के निर्देश देने हुए कहा कि पंचायत भवन में सभी आवश्यक व्यवस्थाएं सुनिश्चित की जाएं। उन्होंने ग्रामों में अधिक से अधिक रोजगार के अवसर उपलब्ध कराने के लिए मनरेगा के तहत ग्रामों में किए जा रहे निर्माण कार्यो का निरीक्षण करने के भी निर्देश दिए। उन्होंने आगामी सांची विधानसभा चुनाव के लिए गंभीरतापूर्वक अपने दायित्वों का निर्वहन करने के लिए भी कहा।
राजस्व के लंबित प्रकरणों का करें शीघ्र निराकरण
   कलेक्टर श्री भार्गव ने राजस्व अभियान की जानकारी लेते हुए नामातंरण, बंटवारा, सीमांकन सहित राजस्व संबंधी अन्य प्रकरणों को शीघ्र निराकृत करने के निर्देश दिए। उन्होंने आरसीएमएस पोर्टल में दर्ज प्रकरणों की जानकारी लेते हुए लंबित प्रकरणों पर शीघ्र कार्यवाही करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि बारिश के मौसम को दृष्टिगत रखते हुए आकाशीय बिजली गिरने, सर्पदंश सहित अन्य आकस्मिक कारणों से मृत्यु होने पर पीड़ितों को शीघ्र राहत उपलब्ध कराने के लिए पोस्टमार्टम रिपोर्ट सहित अन्य आवश्यक कार्यवाही त्वरित रूप से की जाए। बैठक सह कार्यशाला में वनरक्षकों तथा राजस्व अमले के अभियानों से जुड़े सवालों के जबाव भी दिए गए। 

 
(35 days ago)
डाउनलोड करे क्रुतीदेव फोन्ट में.
डाउनलोड करे चाणक्य फोन्ट में.
पाठकों की पसंद

संग्रह
जुलाईअगस्त 2020सितम्बर
सोम.मंगल.बुध.गुरु.शुक्र.शनि.रवि.
272829303112
3456789
10111213141516
17181920212223
24252627282930
31123456

© 2012 सर्वाधिकार सुरक्षित जनसम्पर्क विभाग भोपाल, मध्यप्रदेश             Best viewed in IE 7.0 and above with monitor resolution 1024x768.
Onder's Computer