समाचार
|| मध्यप्रदेश में फिर से लागू होगी भामाशाह योजना : मुख्यमंत्री श्री चौहान || बासमती की जीआई टैगिंग के मामले में शिवराज ने अमरिंदर की निंदा की || मध्यप्रदेश में फिर से लागू होगी भामाशाह योजना : मुख्यमंत्री श्री चौहान || बासमती की जीआई टैगिंग के मामले में शिवराज ने अमरिंदर की निंदा की || कलेक्टर ने 6 गाँवों का किया भ्रमण, किसानों से किया संवाद || संस्कृत संस्कार और मानव मूल्यों की जननी || कोरोना संक्रमितों को हर हाल में मिलें बेहतर इलाज || प्रो. रमानाथ मिश्र डॉ.वाकणकर राष्ट्रीय सम्मान से सम्मानित || मोहगांव-खवासा मार्ग 31 अक्टूबर तक बंद रहेगा || जिला सलाहकार समिति की बैठक 10 को
अन्य ख़बरें
कोरोना पॉजिटिव के कॉन्टेक्ट ट्रेसिंग में लापरवाही बर्दाश्त नहीं होगी-कलेक्टर
ब्लॉक स्तर से प्रत्येक दिन 70-70 सैम्पल कराने के निर्देश, मेडिकल मोबाइल यूनिट 240 लोगों के कॉन्टेक्ट ट्रेस 48 घंटे में उपलब्ध करायें
मुरैना | 13-जुलाई-2020
    कलेक्टर श्रीमती प्रियंका दास ने निर्देश दिये है कि कोरोना पॉजिटिव विगत दिवस 101 मरीज जांच में आये हैं इनके कॉन्टेक्ट में आने वाले लोगों को मेडिकल मोबाइल यूनिट 48 घंटे के अंदर ट्रेस कर सैम्पल कराना सुनिश्चित करें। जिससे कोरोना के मरीजों की संख्या और अधिक न फैले इसके लिये फील्ड में लगे स्वास्थ्य कर्मी एवं बीएमओ अधिक से अधिक सैम्पल संख्या बढ़ायें। इस कार्य में किसी भी प्रकार की लापरवाही बर्दाश्त नहीं होगी। उन्हांेने कहा कि विगत दिवस अपर मुख्य सचिव स्वास्थ्य श्री मोहम्मद सुलेमान ने निर्देश दिये थे कि कोरोना पॉजिटिव मरीजों की संख्या के जितनी जल्दी कॉन्टेक्ट ट्रेस करके सैम्पल करा देंगे भले ही वह पॉजिटिव हो या निगेटिव आयें तभी एक साथ कोरोना की चेन तोड़ने में सफल रहेंगे। इसके लिये हमें कोरोना पॉजिटिव मरीजों के कॉन्टेक्ट को ट्रेस कराना व उसका सैम्पलिंग शत प्रतिशत कराना अनिवार्य होगा। यह निर्देश उन्होंने सोमवार को स्वास्थ्य अधिकारियों की बैठक में दिये। इस अवसर पर सिविल सर्जन डॉ एके गुप्ता, डॉ पदमेश उपाध्याय, बीपीएम श्री श्रीवास्तव, जिला टीकाकरण अधिकारी श्री अशोक गोयल सहित जिले में समस्त मेडिकल मोबाइल यूनिट के डॉक्टर्स उपस्थित थे।
    कलेक्टर श्रीमती प्रियंका दास ने कहा कि शुक्रवार 10 जुलाई को कोरोना पॉजिटिव रिपोर्ट 101 आयीं थी। जिसमें ग्रामीण क्षेत्र के 240 एवं शहरी क्षेत्र के 651 कुल 891 कॉन्टेक्ट ट्रेस करें। इसके अलावा 12 जुलाई को ग्रामीण क्षेत्र के 150 और शहरी क्षेत्र के 253 कुल 403 लोगों को ट्रेस कर उनके 48 घंटे के अंदर संपर्क कर कोरोना के सैम्पल करायें। एक भी व्यक्ति छूटा तो वही व्यक्ति अन्य व्यक्ति को संक्रमित कर सकता है। उन्होंने कहा कि 10 जुलाई के मेडिकल मोबाइल यूनिट के डॉ रवि शुक्ला पर 168, डॉ धीरज पर 210, डॉ भगत पर 101, डॉ अजय पर 178, डॉ ब्रजेश पर 4 और डॉ योगेन्द्र पर 75 ऐसे व्यक्ति हैं जिन्हें ट्रेस कर कोरोना के सैम्पल कराने हैं। यह व्यक्ति आसानी से सैम्पल कराने के लिये जायें अगर सैम्पल नहीं कराते हैं तो पुलिस बल का उपयोग किया जाये।
डॉ. अनुभा को कारण बताओ नोटिस, कम्प्यूटर ऑपरेटर अवनीश का दो दिवस का वेतन काटा
दो कम्प्यूटर ऑपरेटर का सात-सात दिवस का वेतन काटने के निर्देश
    बैठक में कलेक्टर ने डाटा तैयार नहीं करने वाले कम्प्यूटर ऑपरेटर श्री अवनीश का दो दिवस का वेतन काटने एवं डॉ अनुभा द्वारा शहर की कॉन्टेक्ट व्यक्तियों का डाटा उपलब्ध नहीं कराने पर कारण बताओ नोटिस जारी करने के निर्देश दिये। इसके साथ ही कम्प्यूटर ऑपरेटर श्री नरवरिया और श्री श्याम शर्मा द्वारा कम्प्यूटर ऑपरेटर के कार्य पर समय पर उपस्थित न होने एवं कार्य में लापरवाही बरतने के आरोप में 7-7 दिवस का वेतन काटने के निर्देश दिये। कलेक्टर श्रीमती प्रियंका दास ने कहा कि अब कोरोना की रिपोर्ट दोपहर 12 या 2 बजे तक उपलब्ध होगी। उनकी कॉन्टेक्ट लोगों की लिस्ट तैयार कर ही जिम्मेदार अधिकारी कर्मचारी घर को जायेंगे चाहे कितनी रात्रि क्यों न हो जाये।
    कलेक्टर श्रीमती प्रियंका दास ने समस्त बीएमओ को निर्देश दिये कि प्रतिदिन 70-70 लोगों के सैम्पल कराकर जिला अस्पताल भेजें जिसमें कोरोना पॉजिटिव के फर्स्ट कॉन्ट्रेक्ट के लोग, जनरल लोग या बिना लक्षण वाले लोगों को सैम्पल भी किये जा सकते हैं। मुझे प्रतिदिन प्रत्येक ब्लॉक से चाहे ग्रामीण क्षेत्र के ही ये सैम्पल हों प्रतिदिन इतने ही सैम्पल प्राप्त होने चाहिये। जहां से प्राप्त नहीं हुये उनके खिलाफ सख्त कार्यवाही होगी और वेतन भी काटा जा सकता है। उन्होंने कहा कि निगम मुरैना के अंतर्गत 6 मेडिकल मोबाइल यूनिट बनाई गई हैं। जिनमें तीन की जवाबदारी डॉ अल्पना और तीन की जवाबदारी अनुभा की होगी। जबकि ग्रामीण क्षेत्रों के लिये जिला मलेरिया अधिकारी की जिम्मेदारी होगी। उन्होंने कहा कि मुझे सातों विकासखंडों से प्रतिदिन 350 सैम्पल की जानकारी भेजें जिसकी प्रतिलिपि मेरे पास भी भिजवायें। कलेक्टर ने कहा कि पिछली तारीख में 3.5 हजार लोगों का फीडिंग नहीं हुआ है। इस कार्य में डीपीएम, अवनीश, महेश, मनीष, जादौन आदि लोग कम्प्यूटर ऑपरेटर के माध्यम से फीडिंग का कार्य करायें। उन्होंने कहा कि अब आने वाले दिनों में फार्म भरने की अपेक्षा टेबलेट उपलब्ध कराये जायेंगे। टेबलेट पर सीधे संपूर्ण जानकारी फीडिंग की जायेगी।

 
(24 days ago)
डाउनलोड करे क्रुतीदेव फोन्ट में.
डाउनलोड करे चाणक्य फोन्ट में.
पाठकों की पसंद

संग्रह
जुलाईअगस्त 2020सितम्बर
सोम.मंगल.बुध.गुरु.शुक्र.शनि.रवि.
272829303112
3456789
10111213141516
17181920212223
24252627282930
31123456

© 2012 सर्वाधिकार सुरक्षित जनसम्पर्क विभाग भोपाल, मध्यप्रदेश             Best viewed in IE 7.0 and above with monitor resolution 1024x768.
Onder's Computer