समाचार
|| गंदगी भारत छोड़ो-मध्यप्रदेश अभियान 16 से 30 अगस्त तक || प्रधानमंत्री ने की लटेरी के कृषक से बातचीत || मध्यप्रदेश में आत्म-निर्भर रोड मेप के लिये शिक्षा और स्वास्थ्य पर वेबीनार || कोरोना से स्वस्थ होने पर 30 व्यक्तियों को किया गया डिस्चार्ज || विराम को सफल बनाने में नागरिकों के सहयोग के प्रति कलेक्टर ने जताया आभार || सिविल डिफेंस ने रोको-टोको अभियान में दिया सहयोग || रेडक्रास द्वारा सिहोरा में आयोजित शिविर में 36 यूनिट रक्त का संग्रह || 792 व्यक्तियों पर 79 हजार रुपए का जुर्माना (रोको-टोको अभियान) || रेरा में सम्प्रवर्तक त्रैमासिक विवरणीय अब 15 अगस्त तक जमा कर सकेंगे || आज की नॉवल कोरोना वायरस हेल्थ बुलेटिन
अन्य ख़बरें
अधिकारी चुनाव आयोग के बिन्दुओं पर तत्काल अपडेट रहें - कलेक्टर
-
मुरैना | 16-जुलाई-2020
    उप निर्वाचन 2020 हेतु कोविड-19 के बचाव सुविधाओं, उपायों के संबंध में चुनाव आयोग ने जानकारी चाही गयी है। जिसमें अधिकारी अपने-अपने सुझाव अवगत करायें। जिससे उप निर्वाचन 2020 में आवश्यक सुझावों पर अमल किया जा सके। यह बात कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी श्रीमती प्रियंका दास ने गुरूवार को कलेक्ट्रेट सभाकक्ष मुरैना में कही। इस अवसर पर अपर कलेक्टर श्री एसके मिश्रा, एडीशनल एसपी श्री हंसराज सिंह, पांचों विधानसभा क्षेत्रों के रिटर्निंग ऑफीसर, चुनाव कार्य में लगने वाले अन्य विभागीय अधिकारी एवं सीएमएचओ उपस्थित थे।  
    समीक्षा बैठक में सभी ने बताया कि ईव्हीएम एवं व्हीव्हीपीएटी मशीनांे के प्रथम रेण्डमाईजेशन उपरांत प्रत्येक विधानसभा क्षेत्र की अलग-अलग मशीनोंे के स्थानांतरण की कार्यवाही सोशल डिस्टेंस के तहत की जायेगी। कोविड-19 को ध्यान में रखते हुये प्रत्येक विधानसभा क्षेत्र में 2 दिन का समय आयेगा। इस प्रकार मुरैना जिले की 5 विधानसभा क्षेत्र में 10 दिन का समय दिया जाना उचित है। ईव्हीएम एवं व्हीव्हीपीएटी मशीनों की कमीशनिंग एक समय पर एक ही विधानसभा क्षेत्र की जाये। जिससे सोशल डिस्टेंस का पालन हो सकें। कमिशनिंग में 5 दिवस का समय दिया जाना उचित होगा। 
    प्रशिक्षण की सतत् मॉनीटर्रिंग हेतु जिला स्तर पर प्रशिक्षण आयोजित किये जायें। जिसमें प्रशिक्षणार्थी 50-50 उपस्थित रहेगें। प्रशिक्षण के समय थर्मल स्क्रीनिंग एवं सेेनेटाईजर की आवश्यकता होगी एवं प्रशिक्षण  के लिये अतिरिक्त समय लगेगा। एसएसटी चैक पोस्टो पर कोविड-19 के बचाव हेतु प्रत्येक एसएसटी चैक पोस्टों पर एसएसटी मजिस्ट्रेट एवं उनकी टीमों के लिये थर्मल स्क्रीनिंग, एन-95 मास्क, सेनेटाईजर, हेण्ड ग्लाप्स आवश्यक मात्रा में उपलब्ध कराने होगें।
    स्वीप के तहत सोशल मीडिया का अधिक उपयोग किये जाने की आवश्यकता है। स्कूल के बच्चों का उपयोग स्वीप गतिविधियों में नहीं किया जाये। घर-घर सम्पर्क कर मतदाताओं को मतदान के लिये प्रेरित किया जाये। स्वीप गतिविधियां सोशल मीडिया, फ्लेक्स, विज्ञापन केवल टीवी चैनल, लोकल चैनल, फेसबुक, वाट्सैफ का अधिक उपयोग किया जाये। नाम निर्देशन के समय रिटर्निंग ऑफीसर के कक्ष में 5 व्यक्ति ही प्रवेश करते है। नाम-निर्देशन के समय अभ्यर्थियों के साथ जो जुलूस, रैली आती है, उसके लिये शर्तो के अधीन प्रतिधात्मक रहे। इसके साथ ही सामग्री वितरण एवं वापसी, मतगणना आदि के संबंध में सभी लोंगो के सुझाव तैयार कर चुनाव आयोग को भेजने की बात कही।
(24 days ago)
डाउनलोड करे क्रुतीदेव फोन्ट में.
डाउनलोड करे चाणक्य फोन्ट में.
पाठकों की पसंद

संग्रह
जुलाईअगस्त 2020सितम्बर
सोम.मंगल.बुध.गुरु.शुक्र.शनि.रवि.
272829303112
3456789
10111213141516
17181920212223
24252627282930
31123456

© 2012 सर्वाधिकार सुरक्षित जनसम्पर्क विभाग भोपाल, मध्यप्रदेश             Best viewed in IE 7.0 and above with monitor resolution 1024x768.
Onder's Computer