समाचार
|| रोको-टोको अभियान - 328 व्यक्तियों से वसूला गया  51 हजार 750 रुपये का जुर्माना || कोरोना के संक्रमण से मुक्त होने पर 211 व्यक्ति डिस्चार्ज || खरीफ उपार्जन : अभी तक 9 हजार 466 किसानों ने कराया पंजीयन || निजी अस्पताल व नर्सिंग होम्स प्रदर्शित करें कोविड-19 के उपचार की दर सूची उच्च न्यायालय के निर्देश || नगर निगम द्वारा घनी बसाहटों में सेनिटाइजेशन कार्य जारी || बिना ब्‍याज पर कृषि साख  के लिए केसीसी मिलने पर प्रसन्नता (कहानी सच्ची है) || मुख्यमंत्री श्री चौहान ग्रामीणों को व्यवसाय के लिये सरकार की गांरटी पर बैंक ऋण वितरित करेंगे || मुख्यमंत्री श्री चौहान संबल योजना में 3700 हितग्राहियों को देंगे अनुगृह राशि || छोटे किसानों के लिए वरदान साबित होगी मुख्यमंत्री किसान सम्मान निधि योजना || जिला प्रशासन की बड़ी कार्यवाही
अन्य ख़बरें
केन्द्र प्रवर्तित योजनाओं का मुस्तैदी एवं जिम्मेदारी से क्रियान्वयन हो- सांसद श्री डीडी उइके
अंतिम छोर के व्यक्ति तक पहुंचे योजनाओं का लाभ, जिला विकास समन्वय और निगरानी समिति (दिशा) की बैठक आयोजित
बैतूल | 09-सितम्बर-2020
 
     सांसद श्री डीडी उइके ने कहा है कि जिले में केन्द्र प्रवर्तित योजनाओं का मुस्तैदी एवं जिम्मेदारी से क्रियान्वयन हो तथा समाज के अंतिम छोर के व्यक्ति तक योजनाओं का लाभ पहुंचे। सांसद श्री उइके बुधवार को जिला पंचायत के सभाकक्ष में आयोजित जिला विकास समन्वय और निगरानी समिति (दिशा) की बैठक को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि योजनाओं के जमीनी स्तर पर क्रियान्वयन में आ रही मामूली अड़चनों को स्थानीय स्तर पर समन्वय स्थापित कर दूर किया जाए। बैठक में प्रधान जिला पंचायत श्री सूरजलाल जावरकर, विधायक बैतूल श्री निलय डागा, विधायक आमला डॉ. योगेश पण्डाग्रे, कलेक्टर श्री राकेश सिंह, सीईओ जिला पंचायत श्री एमएल त्यागी सहित संबंधित विभागीय अधिकारी उपस्थित थे।
    बैठक में प्रधानमंत्री ग्राम सडक़ योजना की समीक्षा के दौरान सांसद श्री उइके ने कहा कि योजनांतर्गत निर्मित सडक़ों के किनारों की पटरियों एवं पुल-पुलियाओं को जोडऩे वाली सडक़ों का समतलीकरण किया जाए, ताकि दुर्घटनाओं का अंदेशा न रहे एवं सडक़ों को भी मजबूती मिले। उन्होंने कहा कि जिले के सीमावर्ती क्षेत्रों में जिन सडक़ों के निर्माण में दिक्कत आ रही है, उनमें समीपवर्ती जिले के अधिकारियों से समन्वय स्थापित कर सडक़ निर्माण को मूर्तरूप दिया जाए। विभाग के अधिकारियों से नई निर्मित होने वाली सडक़ों की भी जानकारी सांसद द्वारा ली गई।
    लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग की समीक्षा के दौरान विभागीय अधिकारी से कहा गया कि योजनांतर्गत निर्मित किए जाने वाले कार्यों का स्थानीय जनप्रतिनिधियों से भूमिपूजन, शिलान्यास एवं उद्घाटन करवाया जाए, ताकि आमजन को इन कार्यों के बारे में बेहतर जानकारी मिल सके। उन्होंने कहा कि समाज के प्रत्येक व्यक्ति को स्वच्छ एवं पर्याप्त पेयजल मिले, यह हम सबका दायित्व होना चाहिए। इसके अलावा लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग अंतर्गत निर्मित हो रही नल-जल योजनाओं की गुणवत्ता पर भी विभाग द्वारा विशेष ध्यान दिया जाए। समीक्षा के दौरान बैतूल विधायक श्री निलय डागा ने कहा कि जिन ग्रामों में पुरानी पाइप लाइन हैं एवं खराब हो रही है, उनको बदलने के लिए विभाग द्वारा कार्य किया जाए।
    कृषि कल्याण तथा कृषि विकास विभाग की समीक्षा के दौरान सांसद श्री उइके एवं विधायक डॉ. योगेश पंडाग्रे द्वारा खरीफ एवं रबी सीजन में विभागीय प्रबंधन की जानकारी ली गई। साथ ही कहा गया कि नकली खाद एवं बीज का विक्रय न हो, यह विभाग सुनिश्चित करे। सांसद ने स्पष्ट शब्दों में कहा कि कृषि विभाग इस बात पर विशेष ध्यान दे कि नकली खाद एवं बीज के विक्रय के किसानों को नुकसान नहीं पहुंचे। इस दिशा में की गई कार्रवाई से भी विभाग अवगत करवाए।
    आपूर्ति विभाग की समीक्षा के दौरान पात्र हितग्राहियों को पात्रता पर्ची वितरण एवं राशन लाभ दिए जाने की स्थिति की जानकारी ली गई। विभागीय अधिकारी से कहा गया कि वे शिकायतों के निराकरण पर ध्यान दें।
    लोक निर्माण विभाग की समीक्षा के दौरान विभाग के कार्यपालन यंत्री को निर्देशित किया गया कि सडक़ों पर आवश्यक संकेतक बोर्ड लगाए जाएं तथा स्पीड ब्रेकर मापदण्डों के अनुरूप बनवाए जाएं, ताकि आमजन को आवागमन में असुविधा न हो।
    आदिम जाति कल्याण विभाग की समीक्षा के दौरान केन्द्र सरकार द्वारा संचालित योजनाओं एवं उपलब्ध राशि की जानकारी ली गई। विद्युत विभाग की समीक्षा करते हुए सांसद श्री उइके ने खण्डवार शिविर आयोजित कर विद्युत उपभोक्ताओं की शासन की विद्युत देयकों के भुगतान में सहूलियत देने वाली विद्युत योजनाओं की जानकारी देने के निर्देश दिए गए। वहीं महिला एवं बाल विकास विभाग की समीक्षा भी बैठक के दौरान की गई।
    जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्री एमएल त्यागी ने जिले में प्रधानमंत्री ग्रामीण आवास योजना के तहत निर्मित आवासों की जानकारी दी तथा मनरेगा अंतर्गत अर्जित मानव दिवसों पर भी विस्तार से प्रकाश डाला।
    उद्यानिकी विभाग द्वारा बताया गया कि जिले में लीची जैसी उद्यानिकी फसलों के विस्तार के लिए किए जा रहे प्रयासों की जानकारी दी गई। बैठक में स्वास्थ्य विभाग द्वारा कोविड-19 प्रबंधन पर भी जानकारी दी गई। बैठक में समिति सदस्य एवं संबंधित विभागों के अधिकारी मौजूद थे।

स्व सहायता समूह की महिलाओं ने कोविड-19 प्रोटोकॉल का पालन करते हुए की जलपान की व्यवस्था
    बैठक में एनआरएलएम से जुड़ी स्व सहायता समूहों की महिलाओं द्वारा कोविड-19 के प्रोटोकॉल का पालन करते हुए जलपान की व्यवस्था की गई। इस दौरान सोशल डिस्टेंसिंग का भी पूरा ध्यान रखा गया।
(14 days ago)
डाउनलोड करे क्रुतीदेव फोन्ट में.
डाउनलोड करे चाणक्य फोन्ट में.
पाठकों की पसंद

संग्रह
अगस्तसितम्बर 2020अक्तूबर
सोम.मंगल.बुध.गुरु.शुक्र.शनि.रवि.
31123456
78910111213
14151617181920
21222324252627
2829301234
567891011

© 2012 सर्वाधिकार सुरक्षित जनसम्पर्क विभाग भोपाल, मध्यप्रदेश             Best viewed in IE 7.0 and above with monitor resolution 1024x768.
Onder's Computer