समाचार
|| ग्राम स्तर पर बन रही गरीबी उन्मूलन योजना || फसल उत्पादकता वृद्धि के लिये कीट और बीमारियों पर नियंत्रण जरूरी -मंत्री श्री पटेल || विद्युत आउटसोर्स कर्मचारियों के वेतन में अनियमितता की जांच के निर्देश || डिजिटल साक्षरता आज की जरूरत और ऐसी मानसिकता विकसित करना आवश्यक - श्रीमती सिंधिया || भोपाल गैस त्रासदी की 36वी बरसी 3 दिसम्बर को || आनन्द विभाग द्वारा आज विश्व दिव्यांग || जारी है उज्जैन जिले में स्थानीय निर्वाचन के लिये ईवीएम का प्रदर्शन || सातवे वेतनमान के एरियर के भुगतान में आ रही || बड़नगर एसडीएम ने ग्राम रूनिजा में ग्राम चौपाल आयोजित की || पशु औषधालयों एवं पशुओं से सम्बन्धित संस्थाओं का समय निर्धारित
अन्य ख़बरें
पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग की समीक्षा बैठक सम्पन्न
गरीब कल्याण रोजगार अभियान अंतर्गत प्रारम्भ कार्यों को 24 अक्टूबर तक पूर्ण करना सुनिश्चित करें - कलेक्टर श्री चौधरी, बिना कार्य पूर्ण किये राशि आहरित करने वाले सचिवों के विरुद्ध एफ आई आर दर्ज कराने के निर्देश
सीधी | 11-अक्तूबर-2020
          कलेक्टर रवींद्र कुमार चौधरी द्वारा जिला पंचायत सभागार में आयोजित बैठक में पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग द्वारा संचालित विभिन्न योजनाओं की विस्तृत समीक्षा की गई। कलेक्टर श्री चौधरी ने जिले में गरीब कल्याण रोजगार अभियान अंतर्गत प्रारंभ सभी निर्माण कार्यों को 24 अक्टूबर के पहले पूर्ण करने के निर्देश दिए हैं। कोरोना संकट के समय ग्रामीण अर्थव्यवस्था को बल देने एवं प्रवासी श्रमिकों को रोजगार उपलब्ध कराने के उद्देश्य से गरीब कल्याण रोजगार अभियान अंतर्गत जिले में सामुदायिक शौचालयों, पंचायत भवनों आंगनवाड़ी भवनों, ग्रामीण सड़कों, फलोद्यान, जल संरक्षण, पशु शेड, मछली तालाब, वर्मी कम्पोस्ट आदि कार्य किये जा रहे हैं। कलेक्टर श्री चौधरी ने उक्त कार्यों में गुणवत्ता एवं समय-सीमा का विशेष ध्यान रखने के निर्देश दिए हैं। कलेक्टर श्री चौधरी द्वारा निर्देशित किया गया है कि निर्धारित समय-सीमा में सभी कार्य पूर्ण किए जाएं तथा पूर्ण हो चुके निर्माण कार्यों की अनिवार्य रूप से जियो टैगिंग की जाए। कलेक्टर श्री चौधरी ने कार्य में कम प्रगति वाले सचिव एवं उपयंत्री को नोटिस जारी करने के निर्देश दिए हैं। कलेक्टर श्री चौधरी ने कहा कि आगामी सप्ताह में पुनः प्रगति की समीक्षा की जाएगी। अपेक्षित प्रगति नहीं होने पर संबंधितों के विरुद्ध अनुशासनात्मक कार्यवाही की जाएगी।
         समीक्षा के दौरान यह पाए जाने पर की कई सचिवों द्वारा बिना कार्य कराए ही राशि आहरित कर ली गयी है, कलेक्टर श्री चौधरी ने ऐसे सभी प्रकरणों में  जांच कर सचिवों को पद से पृथक करने तथा उनके विरुद्ध एफ आई आर दर्ज कराने के निर्देश दिए हैं। कलेक्टर श्री चौधरी ने कहा कि शासकीय कार्यों में इस प्रकार की वित्तीय अनियमितता स्वीकार्य नहीं है। इस कार्य में जो भी व्यक्ति प्रत्यक्ष या अप्रत्यक्ष रूप से संलग्न होंगे उन सभी के विरुद्ध अनुशासनात्मक कार्यवाही की जाएगी।
         प्रधानमंत्री आवास योजना की समीक्षा करते हुए कलेक्टर श्री चौधरी ने निर्देशित किया है कि प्रधानमंत्री आवास योजना के पूर्व में अपात्र किए गए सभी हितग्राहियों की पात्रता संबंधी जांच कर यह सुनिश्चित कर लें कि किसी भी पात्र को वंचित नहीं किया गया है। यदि ऐसे हितग्राही जांच में पाए जाते हैं, तो उन्हें प्राथमिकता के आधार पर योजना का लाभ दिया जाएगा। कलेक्टर श्री चौधरी ने जिले के लिए प्राप्त नवीन लक्ष्य 19 हजार आवासों के लिए हितग्राहियों के चिन्हांकन के निर्देश दिए हैं। उन्होंने पूरी निष्पक्षता एवं पारदर्शिता से हितग्राहियों के चयन के निर्देश दिए हैं। कलेक्टर श्री चौधरी ने सत्यापन हेतु जिले के विभिन्न विभागों के अधिकारियों को ग्राम पंचायत वार जिम्मेदारी सौंपने के निर्देश दिए हैं। कलेक्टर श्री चौधरी ने आवास निर्माण में लापरवाही पर संबंधित पीसीओ तथा सचिव के विरुद्ध नोटिस जारी करने के निर्देश दिए हैं।
         इसके साथ ही कलेक्टर श्री चौधरी द्वारा 14वें तथा 15 वें वित्त आयोग द्वारा प्राप्त राशि के सदुपयोग के निर्देश दिए गए हैं। उन्होंने निर्देशित किया है कि जो भी कार्य पूर्ण हो चुके हैं उनका मूल्यांकन किया जाकर सीसी जारी करने की कार्यवाही करें। कलेक्टर ने महात्मा गांधी नरेगा योजना अंतर्गत अधिक से अधिक श्रमिकों को नियोजित करने के निर्देश दिए गए हैं। उन्होंने कहा कि श्रमिकों की मजदूरी का भुगतान निर्धारित समय-सीमा में किया जाए।
         मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत आर के शुक्ल द्वारा सीएम हेल्पलाइन में दर्ज शिकायतों के निराकरण की विस्तृत समीक्षा की गई। उन्होंने सभी संबंधित अधिकारियों को अभियान चलाकर शिकायतों के गुणवत्तापूर्ण निराकरण के निर्देश दिए हैं। श्री शुक्ल ने कहा कि शिकायतों को अनावश्यक लंबित नहीं रखते हुए संबंधित अधिकारी द्वारा शिकायतों की स्वतः समीक्षा की जाए तथा हितग्राहियों से संवाद स्थापित करते हुए उनका संतुष्टिपूर्वक निराकरण सुनिश्चित करें।
         बैठक में कार्यपालन यंत्री ग्रामीण यांत्रिकी सेवा हिमांशु तिवारी, उपखंड अधिकारी चुरहट एवं प्रभारी सीईओ जनपद पंचायत रामपुर नैकिन अभिषेक सिंह सहित सभी सीईओ जनपद पंचायत, सहायक यंत्री, उपयंत्री एवं संबंधित विभागीय अधिकारी उपस्थित रहे।
(52 days ago)
डाउनलोड करे क्रुतीदेव फोन्ट में.
डाउनलोड करे चाणक्य फोन्ट में.
पाठकों की पसंद

संग्रह
नवम्बरदिसम्बर 2020जनवरी
सोम.मंगल.बुध.गुरु.शुक्र.शनि.रवि.
30123456
78910111213
14151617181920
21222324252627
28293031123
45678910

© 2012 सर्वाधिकार सुरक्षित जनसम्पर्क विभाग भोपाल, मध्यप्रदेश             Best viewed in IE 7.0 and above with monitor resolution 1024x768.
Onder's Computer