समाचार
|| हमीदिया अस्पताल में बनेगा 20 बिस्तरों का कोविड बलून अस्पताल  मंत्री सारंग ने किया स्थल निरीक्षण || प्रदेश में कोरोना पॉजिटिविटी रेट कम हो रहा है : मंत्री श्री सारंग || स्वास्थ्य व्यवस्थाओं के कुशल प्रबंधन में सदैव तत्पर राज्य मंत्री श्री परमार || कोरोना संक्रमित मरीजों के परिवहन के लिए 200 अतिरिक्त एम्बुलेंस की स्वीकृति : मंत्री डॉ. चौधरी || अभी तक 2 लाख 44 हजार 57 कोरोना मरीजों तक पहुँची मेडिकल किट || जिले में अब तक 7665 कोरोना पॉजीटिव मरीज मिले || कलेक्टर ने सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र गोहपारू का किया औचक निरीक्षण || कलेक्टर ने जयसिंहनगर चिकित्सालय को प्राप्त नई एंबुलेंस का किया निरीक्षण || कलेक्टर ने निर्माणाधीन ओपन कैप ढ़ोलर का किया निरीक्षण || किल कोरोना-3 के तहत खांसी, सर्दी, बुखार के संभावित मरीजों का कोरोना वेलेंटियर कर रहे सर्वे
अन्य ख़बरें
सहयोग से ही सुरक्षा, मास्क पहनें, धोते रहें हाथ, रखें दो गज की दूरी "अनुकूल व्यवहार परिवर्तन सघन अभियान"
जिले में 30 नवम्बर तक जारी रहेंगी अनुकूल व्यवहार परिवर्तन की गतिविधियां
देवास | 16-अक्तूबर-2020
     कलेक्टर श्री चंद्रमौली शुक्ला के मार्गदर्शन में देवास जिले में विभिन्न विभागों के सहयोग से दिनांक 07 अक्टूबर से 30 नवम्बर 2020 तक कोविड-19 "अनुकूल व्यवहार परिवर्तन सघन अभियान" चलाया जा रहा है।  मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ एम पी शर्मा ने बताया कि अनुकूल व्यवहार परिवर्तन सघन अभियान "सावधानी में ही सुरक्षा है," कोरोना से बचने के लिए है जरूरी, मास्क पहनें, धोते रहें हाथ या हाथों को सेनेटाइज करे, दो गज की दूरी रखें।
    सीएमएचओ डॉ शर्मा ने बताया कि कोविड-19 संकमण के प्रकरण लगातार पाये जा रहे है। कोरोना वायरस संकमण के खतरे के बीच त्योहार इत्यादि आने के कारण लोगों में मिलना-जुलना और एकत्रित होना आरंभ हो गया है। शीत ऋतु भी आने को है जिसके कारण वातावरण का तापमान कम हो जाता है और वह वायरस प्रसार के लिए उपयुक्त होता है। ऐसे में व्यवहार परिवर्तन की आवश्यकता को देखते हुए प्रदेश के अन्य जिलों के साथ-साथ देवास जिले में भी विभिन्न विभागों के सहयोग से 30 नवम्बर 2020 तक  कोविड-19 "अनुकूल व्यवहार परिवर्तन सघन अभियान" चलाया जायेगा। कोरोना संक्रमण रोकने के लिये निम्न अनुकूल व्यवहार करे- दूर से अभिवादन करें ना किसी से हाथ मिलाए ना गले मिले। आपस में 2 गज की दूरी जरूर रखे। घर से बाहर निकलने पर हमेशा मास्क पहनें। बार-बार अपनी आंख, नाक और मुंह को छूने से बचें। खाँसते और छींकते समय अपने मुंह तथा नाक को ढंक कर रखे, श्वसन संबंधी शिष्टाचार का पालन करें। बार-बार साबुन तथा पानी अथवा अल्कोहल युक्त सेनिटाईजर से हाथों को धोएं। सार्वजनिक स्थानों पर ना थूके, तंबाकू गुटका खैनी पान आदि खाकर यहां-वहां तथा सार्वजनिक स्थानों पर ना थूकें। बार-बार छुए जाने वाली सतहों को नियमित रूप से विसंक्रमित करें। अनावश्यक यात्रा से बचे। कोरोना को लेकर किसी से भेदभाव ना करें। अनावश्यक भीड़ भाड़ इकट्ठा ना होने दें तथा भीड़-भाड़ वाली जगह जाने से बचे। अफवाहों पर ध्यान ना दें और सोशल मीडिया पर किसी भी अपुष्ट जानकारी को प्रसारित ना करें। सूचना के भरोसेमंद स्त्रोतों से ही जानकारी लें। आपस में सभी एक दूसरे को मनोवैज्ञानिक रूप से सहयोग प्रदान करे।

 
(204 days ago)
डाउनलोड करे क्रुतीदेव फोन्ट में.
डाउनलोड करे चाणक्य फोन्ट में.
पाठकों की पसंद

संग्रह
अप्रैलमई 2021जून
सोम.मंगल.बुध.गुरु.शुक्र.शनि.रवि.
262728293012
3456789
10111213141516
17181920212223
24252627282930
31123456

© 2012 सर्वाधिकार सुरक्षित जनसम्पर्क विभाग भोपाल, मध्यप्रदेश             Best viewed in IE 7.0 and above with monitor resolution 1024x768.
Onder's Computer