समाचार
|| होम आइसोलेशन के नियमों का सख्ती से करायें पालन || कंट्रोल रूम में आयोजित की गई गुरुद्वारा प्रबंध समिति के पदाधिकारियों की बैठक || कोरोना के मद्देनजर ठण्ड का मौसम ज्यादा चुनौती पूर्ण स्वयं सेवी संगठनों को निभानी होगी ज्यादा जिम्मेदारी || विदिशा के सभी उप स्वास्थ्य केन्द्रों में प्रसव की सुविधाएं मुहैया हो-संभागायुक्त श्री कियावत || सहायिका व कार्यकर्ता पद के लिए अनंतिम सूची जारी || आज का अधिकतम तापमान 27 डि.से. || गुरूनानक जयंती मनाये जाने के संबंध में बैठक || रोको-टोको अभियान : 485 व्यक्तियों से वसूला गया 79 हजार 620 रुपये का जुर्माना || रोग प्रतिरोधक क्षमता के कारण कड़कनाथ की माँग बढ़ी || कोरोना के संक्रमण से मुक्त होने पर 72 व्यक्ति डिस्चार्ज
अन्य ख़बरें
स्ट्रीट वेंडर योजना का लाभ लेकर सुनीता बाई ने की व्यवसाय में तरक्की (सफलता की कहानी)
-
सीहोर | 12-नवम्बर-2020
       पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग द्वारा संचालित मप राज्य ग्रामीण आजीविका मिशन अन्तर्गत बुदनी विकासखंड अन्तर्गत ग्राम पीली करार में गठित एकता स्व-सहायता समूह की सुनीता बाई ने मुख्य‍मंत्री स्ट्रीट वेण्डर योजना का लाभ लेते हुए खिलौने की दुकान का संचालन कर व्यवसाय बढ़ा रही है। मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान द्वारा ग्रामीण पथ विक्रेता योजना का सीधा संवाद के माध्य से सुनीता बाई से बात की तो सुनीता बाई ने बताया कि मुझे बैंक ऑफ इंडिया बुदनी से आसानी से ऋण मिल गया एवं आज में बहुत खुश हूं मेरी प्रतिदिन की बिक्री 500 से 700 रू होती है जिसमें मुझे मुनाफा 300 से 400 रू तक हो जाता है।
   सुनिता बाई बताती है वे लॉकडाऊन से पहले खिलौने एवं प्लास्टिक से बने सामान बेचकर प्रतिदिन 200 से 300 रू कमा लेती थी परन्तु कोविड.19 के दौरान लॉकडाऊन में व्यवसाय पूरी तरह चोपट हो गया और मेरे द्वारा जमा की गई पूंजी खर्च हो गई। पति से अलग रहने के कारण अपने परिवार का भरण-पोषण भी मुझे स्वंय को करना पड़ता था जिससे परिवार का सामान्य  खर्च तो चल गया परन्तु अन्यी कार्य जैसे शादी, त्यौहार तथा सामाजिक कार्य आकास्मिक खर्चों पर पैसे की कमी होने लगी एवं आर्थिक तंगी का सामना करना पड़ा। आपदा की घड़ी में विकासखण्ड बुदनी के ग्राम पीली करार के ग्राम पंचायत सचिव से सुनीता बाई को मुख्यमंत्री ग्रामीण स्ट्रीट वेण्डर योजना की जानकारी प्राप्त हुई तभी उन्हों ने योजना के लाभ के उददेश्य से आवेदन कर आवेदन की एक कॉपी पंचायत सचिव को दी सचिव द्वारा उक्तक आवेदन जनपद में प्रस्तुरत कर बैंक में प्रेषित किया।
   मप्र राज्य ग्रामीण आजीविका मिशन विकासखण्ड बुदनी द्वारा मुझे बैंक ऑफ इंडिया शाखा में बैंक मेनेजर से सम्प र्क करने हेतु मार्गदर्शन दिया बैंक मैनेजर द्वारा समस्ता दस्तादवेज की पुष्टि कर पात्रतानुसार मेरे खाते में 10 हजार रू की राशि हस्तांदतरित की गई जिससे मैने खिलोने और प्लास्टिक के अन्यय सामान भोपाल से क्रय कर पुन: दुकान चालू की गई।
   मुख्यमंत्री स्ट्रीट वेण्डर योजना का लाभ लेने के पश्चात वर्तमान में मेरी कमाई 500 से 700 रुपये प्रतिदिन होने लगी। लॉकडाऊन के दौरान मुझे चिंता होने लगी थी की अपनी दुकान का सामान्‍कैसे भर पाऊंगी परन्तु  मुख्यमंत्री स्ट्रीट वेण्डर योजना का लाभ लेने के बाद मेरी कमाई दोगुनी हो गई जिससे मैं हर माह बैंक ऋण की किश्त‍आसानी से जमा कर सकती हूं। मुख्यमंत्री ने सुनीता दीदी का उज्जवल भविष्य की अनेक शुभकामनायें देते हुये प्रदेश की जनता से कहा कि स्व सहायता समूह द्वारा निर्मित उत्पाकद सामग्री को अधिक से अधिक खरीदें और समूह की महिलाओं का मनोबल बढ़ाये जिससे हमारे आत्मप निर्भर भारत का सपना पूर्ण हो सके।
 
(15 days ago)
डाउनलोड करे क्रुतीदेव फोन्ट में.
डाउनलोड करे चाणक्य फोन्ट में.
पाठकों की पसंद

संग्रह
अक्तूबरनवम्बर 2020दिसम्बर
सोम.मंगल.बुध.गुरु.शुक्र.शनि.रवि.
2627282930311
2345678
9101112131415
16171819202122
23242526272829
30123456

© 2012 सर्वाधिकार सुरक्षित जनसम्पर्क विभाग भोपाल, मध्यप्रदेश             Best viewed in IE 7.0 and above with monitor resolution 1024x768.
Onder's Computer