समाचार
|| पूर्व मंत्री श्री शुक्ल ने रघुवंशम पंचांग का किया विमोचन || स्टेच्यू आफ यूनिटी से सीधे जुड़ा रीवा || जिले में लगातार जारी है अवैध शराब निर्माण,भंडारण एवं परिवहन पर कार्यवाही || 04 नए मरीज मिले, 07 हुए स्वस्थ || बर्ड फ्लू की रोकथाम के लिए पशु चिकित्सा दलों द्वारा जलाशयों, पोल्ट्री फार्मो का किया जा रहा है निरीक्षण || जिले में अभी तक कोरोना के 2441 पॉजीटिव मरीज मिले || गाडरवारा में फेस मास्क नहीं लगाने पर लगा 8 हजार रूपये से अधिक का जुर्माना || 16 जनवरी तक कोविड- 19 के 85 हजार 613 सेंपल लिए- 80 हजार 796 सेंपल निगेटिव || संयुक्त संचालक लोक शिक्षण ने किया शालाओं का निरीक्षण || रोजगार अवसर मेला का आयोजन गाडरवारा में 18 जनवरी को एवं नरसिंहपुर में 20 जनवरी को
अन्य ख़बरें
"मिलावट से मुक्ति अभियान" में सभी की सहभागिता एव सहयोग जरूरी
-
आगर-मालवा | 12-नवम्बर-2020
          देश भर में खाद्य सामग्री की गुणवत्ता एवम शुद्धता की निगरानी संस्थान खाद्य सुरक्षा एवम मानक प्राधिकरण (भारत सरकार) के "सुरक्षित आहार स्वास्थ्य का आधार" मूल मंत्र के आधार तथा मुख्यमंत्री की शुद्ध खाद्य सामग्री की उपलब्धता सुनिश्चित करने की पहल पर शरू की गई "मिलावट से मुक्ति अभियान" में सभी की सहभागिता एवम सहयोग जरूरी है। मिलावट एक सामाजिक बुराई है, मिलावटकर्ता समाज के दुश्मन है । ऐसे किसी व्यक्ति को संरक्षण देने या सहयोग करना भी जाने आनजाने में अपराध को बढ़ावा देना है।
    जागरूकता के लिए सभी खाद्य कारोबार कर्ता एव ग्राहकों के लिए कुछ सामान्य जानकारी इस प्रकार है जिन्हें अपनाकर सेहत से होने वाले खिलवाड़ से बच सके  -
1.बेस्ट बिफोर अवधि व्यतीत सामग्री की समय समय पर जांच कर नियमित रूप से हटाते रहे। इस तरह की सामग्री दुकान में विक्रय हेतु प्रदर्शित करना अपराध है। इसे तत्काल वापिस करे या नष्ट करे।
2 खाद्य सामग्री को साफ कपड़े, कांच ढंक कर रखे। जिससे धूल एवम कीट मक्खी से होने वाली बीमारियों से बच सके।
3 गुणवत्ता पूर्ण खाद्य सामग्री का ही अपने परिसर में निर्माण, संग्रहण, प्रदर्शन एवम विक्रय करे। घटिया सामग्री का निर्माण एवम विक्रय कर अपनी प्रतिष्ठा दांव पर न लगाये। छोटा लाभ कमा कर किसी की सेहत से खिलवाड़ न करे।
4 खाद्य सामग्री को तलने के लिए उपयोग किये जाने वाले तेल को अधिकतम 3 बार से ज्यादा गर्म न करे। बार बार तेल के गर्म होने से कॉम्लेक्स कंपाउंड बनते है, जो कैंसर जैसी घातक बीमारी के लिए जिम्मेदार है। समय समय पर कड़ाई का तेल पूर्णतः बदलते रहे। पैक्ड खाद्य तेलों का ही उपयोग करे।
5 खरीदी बिलो का नियमित रूप से संधारण करे। खाद्य सामग्री लेते या खरीदते समय पैक्ड या निर्माण डेट एवम बेस्ट बिफोर अवश्य जांच ले। सन्निकट बेस्ट बिफोर वाली खाद्य सामग्री उपयोगिता के अनुसार कम मात्रा में ही खरीदे।
6 खाद्य एवं अखाद्य सामग्री को अलग अलग रखे। जिसे यह आसानी से पता चल सके कि कौन खाद्य सामग्री है  एवम् कोन सी नहीं। साथ ही अपद्रव की भी आसानी से पहचान हो सके।
7 होटल रेस्टॉरेंट संचालक तलने के लिए उपयोग किये जाने वाले तेल, घी, वसा का प्रकार परिसर में अवश्य उल्लेखित करे।
8 कचरा पेटी /डस्टबीन का उपयोग करे। गीले एवम् सूखे कचरे का अलग अलग संग्रहण करे।
9 परिसर में खाद्य लाइसेंस एवम फ़ूड सेफ्टी डिस्प्ले बोर्ड जिसमे अपने लाइसेंस नंबर तथा हेल्पलाइन नंबर  का उल्लेख हो ग्राहक को स्पस्ट रूप से दिखाई देने वाले स्थान पर अनिवार्यता  लगा कर रखे।
10 छोटी बचत के लिए अपने विश्वशनीय ग्राहक को, उनकी सेहत के साथ खिलवाड़ न करे। इससे ग्राहक एवम विश्वास दोनो का नुकसान हो सकता है।
11 तेल,घी दूध जैसी सभी महत्वपूर्ण खाद्य सामग्री पुजन का घी एवम तेल नही होता है, पूजन घी के नाम से घटिया गुणवत्ता के घी का खाद्य सामग्री की दुकान में संग्रहण,प्रदर्शन न करे।
12 खाद्य रंग का प्रयोग खाद्य सामग्री को आकर्षक बनाने के लिए किया जाता है, खाद्य रंग से शरीर को कोई पोषक तत्व नही मिलते है। इनके विपरीत यदि घोड़ा या हाथी छाप रंग के उपयोग से बचे, ये कपड़े रंगने के रंग होते है, खाद्य रंग के पैकेट पर सिंथेटिक फ़ूड कलर प्रिपरेशन शब्द अवश्य पढ़ कर ही उपयोग करे।
13 फ़ास्ट फ़ूड चायनीज़ फ़ूड का सेवन कम से कम करे। इनमे एम एस जी, विनेगर सोडियम बंजोएट जैसे लत डालने वाले रसायनों का प्रयोग किया जाता है।,
14 बिना खाद्य लाइसेंस पंजीयन के खाद्य कारोबार करना कानून अपराध है, ऐसा करते पाए जाने पर जुर्माना एवम् कम छ: माह तक की सजा अथवा दोनों ही सकते है।
15. प्राकृतिक फल एवम् सब्जी पर किसी भी प्रकार के रंग या रसायन से पकाना धोना अपराध है। न हीं फलो पर मोम की कोटिंग या किसी भी प्रकार के स्टीकर लगाकर बेचे।
16 किसी भी खाद्य सामग्री में तंबाकू या निकोटिन, सैकरीन  मिलाना अपराध है। ऐसा करते पाए जाने पर कम से कम 6 माह तक की सजा हो सकती है।
17 पैकिंग वाली खाद्य सामग्री के पैकेट पर खाद्य सामग्री का नाम, संघटक की सूची, निर्माण या पैकिंग की तिथि, यूज बाय डेट(दूध एवम् ब्रेड पैकेट पर) या बेस्ट बिफोर, मूल्य वजन या मात्रा,निर्माता या पैकर का नाम एवम् पूरा पता, 14 अंक का एफ एस एस ए आई लाइसेंस न, अवश्य होना चाहिए।
18 खरीदी बिलो का नियमित रूप से संधारण करे। खाद्य सामग्री लेते या खरीदते समय पैक्ड या निर्माण डेट एवम बेस्ट बिफोर अवश्य जांच ले। सेल या मॉल से थोक में खाद्य सामग्री खरीदते वक्त सन्निकट बेस्ट बिफोर वाली खाद्य सामग्री उपयोगिता के अनुसार कम मात्रा में ही खरीदे।
19 दुकानदार अपनी छोटी बचत के लिए अपने विश्वशनीय ग्राहक जोकि भगवान का रूप होते है उनकी सेहत के साथ खिलवाड़ न करे। साथ ही ग्राहक भी सस्ते के चक्कर मे घटिया खाद्य सामग्री लेकर अपनी सेहत ने खिलवाड़ न करे।
20    नमक तेल एवम चीनी का उपयोग कम ही करे। क्योंकि ये बीमारियों का घर है।
21 दूध एवम् मावा से बनी मिठाई लंबे समय तक संग्रहित करके न रखें, जरूरत के अनुसार ही खरीदे । क्योंकि हरेक खाद्य सामग्री एक निश्चित समय अंतराल के बाद खराब हो सकती है। जिसमे से दूध, फल एवम् मीट जैसे रिस्की फूड आइटम्स के सेवन में विशेष रूप से ध्यान रखा जाना चाहिए।
22 चांदी वर्क हाथ मे लेकर अंगुली एवम अंगूठे के बीच रगड़ने पर खत्म हो जाता है। किन्तु एलुमिनियम वर्क को ऐसा करने पर खत्म होने के बजाय गोल बॉल में बदल जाता है।

23 खाद्य तेल में से खोपरा तेल एवम पाम तेल ठण्ड में जम जाते है। जबकि अन्य खाद्य तेल नही जमते है। जबकि घी ठण्ड में जम जाता है किंतु सस्ता घी जैसा दिखाई देने वाली खाद्य सामग्री वनस्पति होती है। जिसे बाजार के डालडा या राग घी के नाम से बेचा जाता है। इससे सावधान रहें। वनस्पति, तेल के हाइड्रोजिनेशन से बनाया जाता है। जो स्वयं पृथक से एक खाद्य सामग्री है। आजकल कुकिंग मीडियम या फेट स्प्रेड के नाम से छोटे छोटे पैकेट में भी उपलब्ध है।
 
(66 days ago)
डाउनलोड करे क्रुतीदेव फोन्ट में.
डाउनलोड करे चाणक्य फोन्ट में.
पाठकों की पसंद

संग्रह
दिसम्बरजनवरी 2021फरवरी
सोम.मंगल.बुध.गुरु.शुक्र.शनि.रवि.
28293031123
45678910
11121314151617
18192021222324
25262728293031
1234567

© 2012 सर्वाधिकार सुरक्षित जनसम्पर्क विभाग भोपाल, मध्यप्रदेश             Best viewed in IE 7.0 and above with monitor resolution 1024x768.
Onder's Computer