समाचार
|| आज का अधिकतम तापमान 25.5 डि.से. || निर्माण श्रमिकों के पंजीयन का अभियान 31 मार्च तक || बर्ड फ्लू की जद में आये प्रदेश के 32 जिले || स्कूलों की छतों पर लगेगा सोलर रूफटॉप || अनुसूचित-जाति के छात्रावासों में रहने वाले विद्यार्थियों की शिष्यवृत्ति में वृद्धि || राष्ट्रीय सड़क सुरक्षा माह के तहत यातायात नियमों का पालन करने वाले लोगों को फूल वितरण एवं माला पहनाकर किया सम्मानित || ग्रामीण जल-प्रदाय के लिये भारत सरकार से मिलेंगे अतिरिक्त 26 करोड़ || 25 जनवरी से होगी जूनियर राष्ट्रीय एथलेटिक प्रतियोगिता || केन्द्रीय वित्त पोषित योजनाओं में मिलने वाले सहायक अनुदान को बढ़ाया जाये || पुलिसकर्मियों को मिलेगा साप्ताहिक अवकाश
अन्य ख़बरें
शीत ऋतु में कोविड-19 के नियंत्रण हेतु सामान्य निर्देशों की एडवाइजरी
-
बैतूल | 13-नवम्बर-2020
 
    स्वास्थ्य विभाग द्वारा शीत ऋतु में कोविड-19 के नियंत्रण हेतु सामान्य निर्देशों की एडवाईजरी जारी की गई है।
    शीत ऋतु में कोविड-19 के नियंत्रण के निर्देश- जन समुदाय में ठंड से समुचित बचाव  के उपाय जैसे लम्बी आस्तीन वाले परिधानों का उपयोग, ऊनी कपड़े अथवा कई परतों वाले वस्त्र पहनना, सिर तथा तलवों को ठंड से बचाने, शारीरिक तापमान में आकस्मिक परिवर्तन से बचाव जैसे उपायों संबंधी जागरूकता लाई जाये।
    शीत ऋतु में प्राय: घरों में खिडक़ी-दरवाजे बंद रखे जाने के कारण घरेलू सदस्यों में श्वसन संक्रमण जैसे सर्दी, खासी, मौसमी फ्लू आदि की भी अधिकता देखी जाती है, जिसके बचाव के लिए शारीरिक दूरी, मास्क का उपयोग, बार-बार हाथों की स्वच्छता साबुन-पानी से हाथ धोकर अथवा सैनिटाईजर का उपयोग कर तथा श्वसन शिष्टाचार का पालन किया जाये।
    सर्दियों के मौसम में अक्सर धुआं अथवा प्रदूषणयुक्त हवा नीचे जमती है, जिससे श्वसन/ह्नदय रोग से ग्रस्त व्यक्तियों तथा बुजुर्गों को अधिक समस्या हो सकती है। अतएव ऐसे सवंदेनशील व्यक्तियों द्वारा घर से बाहर निकलने से परहेज किया जाये। बंद तथा भीड़-भाड़ वाले स्थलों जैसे बाजार, मनोरजंन पार्क, थियेटर, धार्मिक आयोजन, विवाह समारोह आदि में जाने से बचा जाये। यदि ऐसे स्थलों पर जाना अत्यंत आवश्यक हो तो, सामुहिक जमावट वाले स्थलों पर कोविड-19 की रोकथाम हेतु समुचित व्यवहारों का पालन किया जाये।
कोविड-19 की रोकथाम हेतु समुचित व्यवहार-
     न्यूनतम 6 फीट की शरीरिक दूरी अपनाई जाये। फेस कवर/मास्क का उपयोग अनिवार्यत: किया जाये। हाथ गंदे न दिखने पर भी बार-बार साबुन-पानी से (न्यूनतम 40-60 सेकेण्ड तक) अथवा एल्कोहॉल युक्त हैन्ड सेनिटाइजर (न्यूनतम 20 सेकेण्ड तक) अच्छी तरह साफ किये जाये। खांसते-छींकते समय मुख को टिशु/रूमाल/मुड़े हुये बांह का उपयोग करने संबंधी श्वसन शिष्टाचार का पालन किया जाये। उपयोग किये गये टिशु का सुरक्षित निपटान ढक्कन वाले डस्टबिन में किया जाये। अपने स्वास्थ्य की स्व-निगरानी की जाये एवं आईएलआई/सारी जैसे कोई भी लक्षण होने पर राज्य/जिला हेल्प लाइन ( 07141-1075) पर सम्पर्क किया जाये। सार्वजनिक स्थलों पर थूकने को वर्जित किया जाये।
शीत ऋतु में कार्यस्थलों पर बरती जाने वाली सावधानियां-
    कार्यस्थलों के खुले क्षेत्रों जैसे उद्यान, फूड उद्यान आदि का नियमित विसंक्रमण 1 प्रतिशत सोडियम हाईपोक्लोराईट सॉल्यूशन से किया जाये। कार्यस्थलों के दरवाजे के हैंडल, लिफ्ट के बटन, हैन्ड रेले, झूले, फिसल-पट्टियों, कुर्सी, टेबल, बेंच, शौचालय के नल आदि तथा दीवार व फर्श की सफाई ऑफिस खुलने से पहले 1 प्रतिशत सोडियम हाईपोक्लोराइट सॉल्यूशन से की जाये। कार्यस्थलों पर सार्वजनिक हाथ धुलाई के स्थानों पर साबुन अथवा हैन्ड सैनिटाइजर की पर्याप्त व्यवस्था रखी जाये। पेयजल एवं हैन्ड वॉशिंग स्टेशन, शौचालय, शावर आदि की नियमित सफाई सुनिश्चित की जाये। सार्वजनिक स्थलों पर जगह-जगह पर ढक्कन वाले डस्टबिन रखे जाये ताकि समस्त अधिकारियों/कर्मचारियों तथा स्टाफ द्वारा उपयोग किये गये फेस कवर/मास्क का सुरिक्षत निपटान किया जा सके। लिफ्ट में शारीरिक दूरी अपनाई जाये एवं एक समय पर केवल सीमित व्यक्तियों को ही प्रवेश दिया जाये।
 
(67 days ago)
डाउनलोड करे क्रुतीदेव फोन्ट में.
डाउनलोड करे चाणक्य फोन्ट में.
पाठकों की पसंद

संग्रह
दिसम्बरजनवरी 2021फरवरी
सोम.मंगल.बुध.गुरु.शुक्र.शनि.रवि.
28293031123
45678910
11121314151617
18192021222324
25262728293031
1234567

© 2012 सर्वाधिकार सुरक्षित जनसम्पर्क विभाग भोपाल, मध्यप्रदेश             Best viewed in IE 7.0 and above with monitor resolution 1024x768.
Onder's Computer