समाचार
|| पांच दिवसीय जनसमस्या निवारण शिविर आज से || उर्वरक एवं कीटनाशक विक्रेता का लायसेंस निरस्त || क्राइसेस मैनेजमेंट की बैठक अब 23 जनवरी को होगी || उपभोक्ता जागरूकता शिविर || एडीएम को प्रताड़ित करने की खबर निराधार एवं भ्रामक स्व-विचार धारणा के आधार पर प्रकाशित की गई खबर || पात्र शासकीय सेवकों को शीघ्र दी जाए पदोन्नति - मुख्यमंत्री श्री चौहान || युवा अपने कौशल से रोजगार देने वाले बनें: मंत्री श्री सखलेचा || प्रदेश में कोरोना टीकाकरण का कार्य सुचारू || अब तक 1.45 लाख युवाओं को मिला रोजगार || मुख्यमंत्री श्री चौहान के नवाचारी वित्तीय सुशासन ने बढ़ा दी मध्यप्रदेश की रैंकिंग
अन्य ख़बरें
महिला-बाल विकास विभाग की योजनाओं की जानकारी अब
ऑनडिमांड रेडियो एप anganwadi.radio-Voice of local में उपलब्ध
रीवा | 07-जनवरी-2021
    महिला एवं बाल विकास विभाग में विभागीय योजनाओं, संदेशों के प्रचार-प्रसार तथा व्यवहार परिवर्तन हेतु एंड्रायड एप anganwadi.radio  तैयार किया गया है। यह ऑनडिमांड रेडियो एप प्ले पर anganwadi.radio  के नाम से उपलब्ध है जहां से इसे मोबाइल में डाउनलोड किया जा सकता है। संभवत: मध्यप्रदेश, देश का पहला राज्य है जहां किसी शासकीय विभाग द्वारा विभागीय योजनाओं, संदेशों के प्रचार-प्रसार तथा व्यवहार परिवर्तन के लिये इस तरह की नवीन टेक्नॉलाजी का उपयोग करते हुए ऑनडिमांड रेडियो एप तैयार किया गया है।
    आंगनवाड़ी रेडियो का मुख्य उद्देश्य हितग्राही किशोरी बालिकाओं, महिलाओं के साथ ही आमजनों तक स्वास्थ्य, पोषण, विभागीय कार्यक्रमों, गतिविधियों व योजनाओं की जानकारियां और संदेश ऑडियो फॉरमेट में पहुंचाना है। यह हिन्दी भाषा के साथ ही स्थानीय बोलियों (भीली, गोंडी, कोरकू, बुन्देलखण्डी आदि) में भी रहेगी। स्थानीय बोलियों में संदेशों का आदान-प्रदान करने से आंगनवाड़ी रेडियो व्यवहार परिवर्तन में सहयोगी माध्यम साबित होगा।
    ऑगनवाड़ी रेडियो के माध्यम से संदेश, जिंगल, नाटक, कहानी, प्रश्नोत्तरी आदि ऑडियो केटेगरी के अंतर्गत पोषण शिक्षा, स्वास्थ्य, स्वच्छता, विकास, महिला सशक्तिकरण, बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ आदि विषयों को सुन सकते हैं।
    आमजन के अलावा ऑगनवाड़ी रेडियो एप में प्रदेश की आँगनवाड़ी कार्यकर्ताओं के लिये अपने संदेश रिकार्ड कर अपलोड करने हेतु डैशबोर्ड भी दिया गया है। इसके माध्यम से आँगनवाड़ी कार्यकर्ता स्थानीय बोली में स्वास्थ्य, पोषण आदि पर केन्द्रित लोक गीत, संदेश, सफलता की कहानी अपलोड कर सकेंगी जिसे सभी जगह सुना जा सकेगा। विभाग ने प्रारम्भिक चरण में सभी से सुझाव भी मांगे हैं, ताकि उसके आधार पर इस एप को ज्यादा उपयोगी एवं सहभागी युक्त बनाया जा सके। विभाग की सहयोगिनी मातृ समिति की महिलाओं, किशोरी बालिकाओं के समूह शोर्य दल आदि को भी आंगनवाड़ी रेडियो एप के माध्यम से संदेश देने एवं उनकी उपलब्धियों आदि को प्रसारित करने का प्रावधान किया गया है। स्थानीय स्तर पर आंगनवाड़ी कार्यकर्ताएं जनप्रतिनिधियों के संदेश सुझाव आदि भी रिकोर्ड कर एप में अपलोड कर प्रसारित किया जायेगा।

 
(13 days ago)
डाउनलोड करे क्रुतीदेव फोन्ट में.
डाउनलोड करे चाणक्य फोन्ट में.
पाठकों की पसंद

संग्रह
दिसम्बरजनवरी 2021फरवरी
सोम.मंगल.बुध.गुरु.शुक्र.शनि.रवि.
28293031123
45678910
11121314151617
18192021222324
25262728293031
1234567

© 2012 सर्वाधिकार सुरक्षित जनसम्पर्क विभाग भोपाल, मध्यप्रदेश             Best viewed in IE 7.0 and above with monitor resolution 1024x768.
Onder's Computer