समाचार
|| सुविधाजनक टीकाकरण हेतु ऑनलाइन पंजीयन अवश्य करायें || मुख्यमंत्री श्री चौहान अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस पर हुनर-हाट का शुभांरभ करेंगे || जिला चिकित्सालय में महिला दिवस पर महिला स्वास्थ्य शिविर का आयोजन || नोवल कोरोना वायरस (कोविड-19) मीडिया बुलेटिन || बैंक महाप्रबंधक ने वीडियो कांफ्रेंसिंग से की शाखा व समितियों के कामकाज की समीक्षा || अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस पर विशेष - जिद और जुनून ने भावना डेहरिया को बनाया प्रेरक पर्वतारोही (कहानी सच्ची है) || स्वास्थ्य मंत्री ने सॉचेत में ऑगनबाड़ी भवन का किया लोकार्पण || केसीसी धारक किसानों से 08 मार्च तक बैंक शाखा में आधार नम्बर अपडेट कराने की अपील || कोविड-19 के विश्व में महिला नेतृत्व की समान उन्नति थीम पर मनाया जाएगा अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस || जिले में अभी तक कोरोना के 2515 पॉजीटिव मरीज मिले
अन्य ख़बरें
मृत कौआ के नमूने में बर्डफ्लू स्ट्रैन एच-5 की पुष्टि
पोलट्री उत्पादों का सावधानी पूर्वक उपयोग करें
दतिया | 10-जनवरी-2021
 
      जिला प्रशासन ने जिले में मृत कौआ में बर्डफ्लू स्टैªन एच-5 पुष्टि होने पर लोगों से पोलट्री उत्पादों को सावधानी पूर्व उपयोग करने की अपील की है।
    कलेक्टर श्री संजय कुमार एवं पशुपालन विभाग के उपसंचालक डॉ. जी दास ने संयुक्त रूप से नागरिकों से अपील की है कि पोलट्री एवं पोलट्री उत्पादों का सावधानी पूर्वक उपयोग करें। अगर मुर्गियों में वर्डफ्लू के लक्षण तथा संक्रमित एवं मृत पक्षियों की जानकारी होने पर तत्काल निकटत्म पशु चिकित्सालय को सूचना दें।  उक्त परस्थिति में घबराने की आवश्यकता नहीं है। क्योंकि उक्त स्ट्रैन मनुष्य में आसानी से नहीं फैलता है।
    उपसंचालक ने पोलट्री व्यवसाय एवं स्लाटर करने वाले लोगों से भी विशेष सावधानी वरतने के साथ हाथ में ग्लब्स एवं मुंह पर मास्क आवश्यक रूप से लगाए। उल्लेखनीय है कि जिले मंे कौआ के मृत पाए जाने पर उसके लिए गए सैम्पल को राष्ट्रीय उच्च सुरक्षा पशु रोग संस्थान आनंद भोपाल को भेजा गया था। जिसमें बर्डफ्लू स्टेन एच-5 की पुष्टि हुई है। बर्डफ्लू वायरस जनित रोग है और पोलट्री के लिए खतरनाक बीमारी है लेकिन मनुष्यों पर इसका असर कम होता है।
पक्षियों में बर्डफ्लू के लक्षण
    पक्षियों की आंख, गर्दन एवं सिर के आस-पास सूजन एवं रिसाव, बुखार आना (42 डिग्री सैल्सियस) अंड़ों की संख्या में कमी, कलंगी एवं पैरो का रंग बदलना, पक्षियों में अचानक कमजोरी आ जाना, हरकत कम होना, पंखों का झड़ना, गर्दन का अकड़ना, पक्षियों की अधिक संख्या में आप्रकृतिक मृत्यु होना।
बर्डफ्लू से बचने के लिए ये सावधानियां बरतें
    बर्डफ्लू से बचने के लिए पोल्ट्री मीट एवं अंडे का सेवन अच्छी तरह पकाने के बाद करें। संक्रमित पक्षियों के संपर्क में आने से बचें। पोल्ट्री उत्पाद खरीदते समय साफ-सफाई का विशेष ध्यान रखें। संक्रमण से बचने के लिए हाथों को लगातार धोएं और सेनेटाइज करते रहें। जिस इलाके में संक्रमण है कोशिश करें कि वहां न जाएं या मास्क पहनकर ही जाएं। पोल्ट्री दुकानदार पोल्ट्री की हैंडलिंग करते समय मास्क, ग्लव्स आदि पहनना सुनिश्चित करें। किसी भी प्रकार की जानकारी या सूचना के लिए अपनी निकटतम पशु चिकित्सा संस्था पर संपर्क करें।
(56 days ago)
डाउनलोड करे क्रुतीदेव फोन्ट में.
डाउनलोड करे चाणक्य फोन्ट में.
पाठकों की पसंद

संग्रह
फरवरीमार्च 2021अप्रैल
सोम.मंगल.बुध.गुरु.शुक्र.शनि.रवि.
22232425262728
1234567
891011121314
15161718192021
22232425262728
2930311234

© 2012 सर्वाधिकार सुरक्षित जनसम्पर्क विभाग भोपाल, मध्यप्रदेश             Best viewed in IE 7.0 and above with monitor resolution 1024x768.
Onder's Computer