समाचार
|| ठोस एवं तरल अपशिष्ट प्रबंधन कार्यशाला का आयोजन आज || अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस के अवसर पर पूर्व लोकसभा अध्यक्ष श्रीमती महाजन का मंत्री श्री सिलावट ने किया अभिनंदन || महिला दिवस पर आयोजित शिविर में 241 महिलाओं का हुआ स्वास्थ्य परीक्षण || अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस के अवसर पर विधिक साक्षरता जागरूकता शिविर का आयोजन किया गया || संघर्ष कर आगे बढ़ी महिलाओं का महिला दिवस पर किया गया सम्मान || वैक्सीन लगवाने के लिये आधार कार्ड, आईडी नंबर साथ लायें: इन्हीं दस्तावेजों से ऑनलाइन पंजीयन करायें || प्रत्येक माह की 9 तारीख को जिले की सभी स्वास्थ्य संस्थाओं पर गर्भवती महिलाओं का परीक्षण || अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस पर आयोजित हुई दौड कार्यक्रम संपन्न || खाद्य कारोबारकर्ता को प्रशिक्षण दिलाने हेतु विेजंब योजना प्रारंभ || पी.सी.पी.एन.डी.टी. एक्ट के सलाहकार समिति के सदस्यों का एक दिवसीय उन्नमुखीकरण कार्यशाला 19 मार्च को
अन्य ख़बरें
स्कूलों की छतों पर लगेगा सोलर रूफटॉप
नवीन एवं नवकरणीय ऊर्जा मंत्री श्री डंग ने की विभागीय कार्यों की समीक्षा
टीकमगढ़ | 19-जनवरी-2021
    नवीन एवं नवकरणीय ऊर्जा मंत्री श्री हरदीप सिंह डंग ने प्रदेश के स्कूलों की छतों पर रूफटॉप सोलर संयंत्र स्थापित करने के निर्देश दिये हैं। प्रथम चरण में कुछ स्कूलों को चिन्हित कर सोलर पैनल लगाये जायेंगे। श्री डंग ने एक गाँव का चयन कर सोलर ऊर्जा के माध्यम से आत्मनिर्भर बनाते हुए मॉडल गाँव के रूप में स्थापित करने के भी निर्देश दिये। इनकी सफलता के बाद पूरे प्रदेश में योजना का प्रसार किया जायेगा। श्री डंग ने कहा कि सोलर ऊर्जा के क्षेत्र में मध्यप्रदेश अग्रणी राज्य के रूप में उभरा है। यह पारम्परिक ऊर्जा बचाने के साथ सस्ती भी पड़ती है और दूरस्थ क्षेत्र के लोगों को भी लाभ मिलता है। प्रमुख सचिव नवीन एवं नवकरणीय ऊर्जा श्री संजय दुबे और प्रबंध संचालक ऊर्जा विकास निगम श्री दीपक सक्सेना भी बैठक में उपस्थित थे।
   मंत्री श्री डंग ने कहा कि प्रदेश के निर्माणाधीन सौर ऊर्जा पार्क निर्धारित समय-सीमा में पूरा करें। उन्होंने 1500 मेगावॉट के आगर-शाजापुर-नीमच सोलर पार्क दिसम्बर-2022, 600 मेगावॉट का ओंकारेश्वर फ्लोटिंग सोलर पार्क जुलाई-2023, 950 मेगावॉट का छतरपुर सोलर पार्क जुलाई-2023, 1400 मेगावॉट का मुरैना सोलर पार्क अक्टूबर-2023 तक पूर्ण करने के निर्देश दिये। श्री डंग ने प्रदेश में 45 हजार सोलर पम्प की स्थापना भी जुलाई-2023 के पूर्व पूर्ण करने को कहा।
   श्री डंग ने कहा कि प्रदेश में सोलर ऊर्जा के क्षेत्र में पिछले एक दशक में दस गुना प्रगति हुई है। प्रदेश में 2380 मेगावॉट की 126 सौर ऊर्जा, 2444 मेगावॉट की 71 पवन ऊर्जा, 119 मेगावॉट की 34 बॉयोमास ऊर्जा, 99 मेगावॉट की 13 लघु जल विद्युत योजनाएँ हैं। श्री डंग ने सोलर और पवन ऊर्जा के एक्शन प्लान, कुसुम योजना, प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अभियान, सोलर रूफटॉप कार्यक्रम, निर्माणाधीन परियोजनाएँ, लघु जल एवं बॉयोमास ऊर्जा आदि की समीक्षा की।
 
(48 days ago)
डाउनलोड करे क्रुतीदेव फोन्ट में.
डाउनलोड करे चाणक्य फोन्ट में.
पाठकों की पसंद

संग्रह
फरवरीमार्च 2021अप्रैल
सोम.मंगल.बुध.गुरु.शुक्र.शनि.रवि.
22232425262728
1234567
891011121314
15161718192021
22232425262728
2930311234

© 2012 सर्वाधिकार सुरक्षित जनसम्पर्क विभाग भोपाल, मध्यप्रदेश             Best viewed in IE 7.0 and above with monitor resolution 1024x768.
Onder's Computer