समाचार
|| जिला कोविड कमांड केंद्र 24X7 कार्यरत रखने के निर्देश || खाली पड़े शासकीय आवास बने आइसोलेशन रूम || सोशल मीडिया पर कोरोना की भ्रामक जानकारी || कोरोना कर्फ्यू काल में मीडिया एवं कार्यालय को रहेगी छूट: पुलिस अधीक्षक || मजदूर भाई-बहन कोरोना संकट में परेशान न हो : मुख्यमंत्री श्री चौहान || बुधवार 21 अप्रैल का कोरोना हेल्थ बुलेटिन || 30 अप्रैल तक घर पर रहें, कोरोना को हराये : मुख्यमंत्री श्री चौहान || जिला चिकित्सालय हरदा में कार्यरत चिकित्सा अधिकारियों का दिनांक 30 अप्रैल तक का आपातकालीन ड्यूटी रोस्टर तैयार || कोविड-19 मरीजों के उपचार के लिये सभी जिलों में ऑक्सीजन की उपलब्धता के हर संभव प्रयास || कोविड-19 संक्रमण पर नियंत्रण पाने के लिये सरकार द्वारा उठाये प्रभावी कदम
अन्य ख़बरें
सीधी की दुर्घटना दु:खद - मुख्यमंत्री श्री चौहान
मंत्री श्री तुलसी सिलावट और राज्यमंत्री श्री रामखेलावन पटेल ने दुर्घटना पीड़ितों के परिजन को दी सांत्वना, प्रत्येक मृतक के परिवार को केन्द्र सरकार की ओर से दो लाख रूपये तथा राज्य सरकार की ओर से पाँच लाख रूपये की सहायता राशि देने की घोषणा, जिला प्रशासन ने प्रत्येक मृतक की अंत्यष्टि के लिए 10-10 हजार रूपये की सहायता दी
सतना | 16-फरवरी-2021
     सीधी जिले के सारदा पाटन गांव में सीधी से सतना जा रही बस के अनियंत्रित होकर नहर में गिर जाने से भीषण सड़क दुर्घटना हुई। इस दुर्घटना में 43 यात्रियों की दु:खद मौत हो गई। ग्रामीणों तथा बचाव दल ने 7 व्यक्तियों को सुरक्षित निकाला। राहत एवं बचाव कार्य जारी है, मृतकों की संख्या बढ़ सकती है। मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने सीधी जिले में सारदा पाटन गाँव के पास नहर में बस गिरने की दुर्भाग्यपूर्ण दुर्घटना पर गहरा शोक व्यक्त करते हुए कहा कि यह घटना मेरे लिए अत्यंत दु:खद है। मन बहुत व्यथित और दु:खी है। सात व्यक्तियों को रेस्क्यू कर बचा लिया गया है। राहत कार्य लगातार जारी है। शव नहर से निकाले जा रहे हैं। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने दिवंगत आत्माओं को भाव पूर्ण श्रद्धांजलि दी और ईश्वर से उन्हें अपने श्री चरणों में स्थान देने की प्रार्थना की है।
     मुख्यमंत्री श्री चौहान ने बताया कि प्रत्येक मृतक के परिवार को केन्द्र सरकार की ओर से दो लाख रूपये तथा राज्य सरकार की ओर से पाँच लाख रूपये की सहायता राशि प्रदान की जा रही है। दु:ख की घड़ी में हम पीड़ितों के परिजनों के साथ हैं। पूरा प्रदेश उनके साथ खड़ा है। मेरी सबसे अपील है कि धैर्य रखें। मैं, राज्य सरकार और पूरी जनता आपके साथ है।
     मुख्यमंत्री की ओर से जल संसाधन मंत्री श्री तुलसी सिलावट तथा ग्रामीण विकास एवं पिछड़ावर्ग अल्पसंख्यक कल्याण राज्यमंत्री श्री राम खेलावन पटेल रीवा हवाई पट्टी में उतर कर दोपहर 2:40 बजे दुर्घटना स्थल पहुंचे। दोनों मंत्रियों ने दुर्घटना स्थल पर राहत और बचाव कार्य की समीक्षा की। इसके बाद मंत्री श्री सिलावट तथा राज्यमंत्री श्री पटेल ने दुर्घटना के शिकार व्यक्तियों के परिजनों से भेंटकर उन्हें सांत्वना दी तथा शोक व्यक्त किया। मौके पर उपस्थित पत्रकारों से चर्चा करते हुए जल संसाधन मंत्री ने कहा कि घटना बहुत ही दु:खद तथा दुर्भाग्य पूर्ण है। दुर्घटना की उच्च स्तरीय जांच के आदेश दे दिये गये हैं। दुर्घटना पीड़ितों को हर संभव सहायता दी जायेगी। दु:ख की इस घड़ी में सरकार और प्रशासन पीड़ितों के साथ है।
    अंतिम संस्कार के लिए 10-10 हजार रूपये की अंत्येष्टि सहायता प्रदान:-दुर्घटना में मृत व्यक्तियों के अंतिम संस्कार के लिए जिला प्रशासन सीधी की ओर से 10.10 हजार रूपये की सहायता राशि मृतकों के परिजनों को दी गयी।
पुलिस, प्रशासन एवं एनडीआरएफ की टीमों ने किया राहत तथा बचाव कार्य
    बस दुर्घटना की सूचना मिलते ही रीवा संभाग के कमिश्नर राजेश कुमार जैन, आईजी उमेश जोगा तथा डीआईजी अनिल सिंह कुशवाह तत्काल दुर्घटना घटना स्थल पर पहुंचे। उन्होंने राहत तथा बचाव कार्य की सतत निगरानी की। पुलिस होमगार्ड तथा एनडीआरएफ की टीमों ने राहत एवं बचाव कार्य किया। मुख्यमंत्री जी के निर्देश पर बाणसागर नहर का पानी तत्काल रोका गया। क्रेन की मदद से दुर्घटना ग्रस्त बस को बाहर निकाला गया। राहत और बचाव दल ने दुर्घटना में मृत 43 व्यक्तियों के शव बरामद किये। दुर्घटना स्थल पर सांसद श्री सीधी श्रीमती रीति पाठक, विधायक चुरहट श्री शरदेन्दु तिवारी एवं विधायक सिहावल तथा पूर्व मंत्री श्री कमलेश्वर पटेल ने राहत तथा बचाव कार्य की निगरानी की एवं मृतकों के परिजनों को सांत्वना दी। दुर्घटना पीड़ितों को सहायता देने एवं राहत तथा बचाव कार्य संपन्न कराने के लिए कलेक्टर सीधी रवीन्द्र चौधरी, कलेक्टर सतना अजय कटेसरिया, कलेक्टर रीवा डॉ इलैयाराजा टी, एसपी सीधी पंकज कुमवात, एसपी रीवा राकेश कुमार सिंह, एसपी सतना धर्मबीर सिंह दुर्घटना स्थल पर मौजूद रहे। दुर्घटना पीड़ितों को सहायता देने के लिए डॉक्टरों का दल तैनात रहा।  
(64 days ago)
डाउनलोड करे क्रुतीदेव फोन्ट में.
डाउनलोड करे चाणक्य फोन्ट में.
पाठकों की पसंद

संग्रह
मार्चअप्रैल 2021मई
सोम.मंगल.बुध.गुरु.शुक्र.शनि.रवि.
2930311234
567891011
12131415161718
19202122232425
262728293012
3456789

© 2012 सर्वाधिकार सुरक्षित जनसम्पर्क विभाग भोपाल, मध्यप्रदेश             Best viewed in IE 7.0 and above with monitor resolution 1024x768.
Onder's Computer