समाचार
|| कोविड-19 मीडिया बुलेटिन - जिले में कोरोना वायरस के संक्रमण से 139 नये व्यक्ति हुये स्वस्थ || किसानों को 5 दिनों के मौसम को देखते हुये कृषि कार्य करने की सलाह || अभी तक जिले में 178046 व्यक्तियों ने लगवाया टीका || कोरोना कर्फ्यू के दौरान पथ विक्रेताओं के माध्यम से फल-सब्जी की आपूर्ति है जारी || जिले के खरीदी केन्द्रों में गेहूं की खरीदी जारी || विकासखंड चौरई के एक ग्राम व चौरई नगर के 2 वार्डों का निर्धारित क्षेत्र कंटेनमेंट एरिया घोषित || विकासखंड परासिया के 2 नगरों का निर्धारित क्षेत्र कंटेनमेंट एरिया घोषित || ट्रेन से आने वाले 7 यात्रियों को किया गया कोरेंटाईन || विकासखंड जुन्नारदेव के एक ग्राम व दो नगरों का निर्धारित क्षेत्र कंटेनमेंट एरिया घोषित || विकासखंड चौरई के एक ग्राम व एक नगर का निर्धारित क्षेत्र कंटेनमेंट एरिया घोषित
अन्य ख़बरें
युवाओं को प्रदेश में ही मिलेगा रोजगार : लोक निर्माण मंत्री श्री भार्गव
रोजगार के क्षेत्र में नवाचार करने के निर्देश, "आत्म-निर्भर मध्यप्रदेश" अंतर्विभागीय रोजगार-समूह की बैठक संपन्न
आगर-मालवा | 25-फरवरी-2021
   लोक निर्माण, कुटीर एवं ग्रामोद्योग मंत्री श्री गोपाल भार्गव ने कहा है कि प्रदेश के युवाओं को प्रदेश में ही रोजगार मुहैया कराया जाएगा। आत्म-निर्भर मध्यप्रदेश के तहत रोजगार सृजन के लिये गठित रोजगार समूह तीन माह में रिपोर्ट तैयार करेगा। उन्होंने कहा कि रोजगार गतिविधियों में वर्तमान संसाधनों को सुदृढ़ बनाने के साथ-साथ नवाचार को बढ़ावा दिया जाए। मंत्री श्री भार्गव ने यह निर्देश आत्म-निर्भर मध्यप्रदेश रोड मेप तैयार करने के लिये गठित अंतर्विभागीय रोजगार-समूह की बैठक में दिए।
    बैठक में सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्यम विकास एवं प्रौद्योगिकी मंत्री श्री ओमप्रकाश सखलेचा, पर्यटन एवं संस्कृति मंत्री सुश्री उषा ठाकुर सहित संबंधित विभागीय अधिकारी उपस्थित थे।
    मंत्री श्री भार्गव ने कहा कि आत्म-निर्भर मध्यप्रदेश के लक्ष्यों में सर्वाधिक महत्वपूर्ण लक्ष्य रोजगार संसाधनों की बढ़ोत्तरी है। उन्होंने कहा कि प्रदेश के शिक्षित और अशिक्षित युवाओं को प्रदेश में ही रोजगार, स्व-रोजगार प्राप्त हो, इसके लिये सभी विभाग समन्वित प्रयास करें। उन्होंने कहा कि रोजगार-समूह की आगामी बैठकों में विशेषज्ञ संस्थाओं को भी आमंत्रित किया जाए। उन्होंने कहा कि प्रदेश में आजीविका मिशन और ग्रामोद्योग इकाईयों के माध्यम से ग्रामीण क्षेत्रों में रोजगार को बढ़ावा दिया जा सकता है। इन समूहों द्वारा उत्पादित सामग्री के विक्रय के लिये बाजार उपलब्ध कराने की विस्तृत कार्य-योजना भी तैयार की जाये।
    सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्यम विकास एवं प्रौद्योगिकी मंत्री श्री ओमप्रकाश सखलेचा ने कहा कि आईटी के क्षेत्र में भी प्रदेश में बड़े स्तर पर रोजगार सृजन किया जा सकता है। उन्होंने रोजगार सेतु पोर्टल की तर्ज पर प्रदेश की स्किल मेनपावर का पोर्टल तैयार करने का सुझाव दिया।
    पर्यटन एवं संस्कृति मंत्री सुश्री उषा ठाकुर ने कहा कि प्रदेश में पर्यटन के क्षेत्र में रोजगार गतिविधियों को बढ़ावा दिया जायेगा। इसके लिये पर्यटन और संस्कृति विभाग द्वारा समन्वित प्रयास प्रारंभ कर दिये है। खजुराहो, ओरछा, महेश्वर जैसे धार्मिक और पर्यटन स्थलों पर स्थानीय युवाओं के लिये ट्रेनिंग प्रोग्राम चलाने का कार्य भी विभाग द्वारा किया जा रहा है।
(51 days ago)
डाउनलोड करे क्रुतीदेव फोन्ट में.
डाउनलोड करे चाणक्य फोन्ट में.
पाठकों की पसंद

संग्रह
मार्चअप्रैल 2021मई
सोम.मंगल.बुध.गुरु.शुक्र.शनि.रवि.
2930311234
567891011
12131415161718
19202122232425
262728293012
3456789

© 2012 सर्वाधिकार सुरक्षित जनसम्पर्क विभाग भोपाल, मध्यप्रदेश             Best viewed in IE 7.0 and above with monitor resolution 1024x768.
Onder's Computer