समाचार
|| मुख्यमंत्री ने दी तीन जरूरतमंदों को उपचार सहायता || विभागीय जांच लंबित रखने के आरोप में अपर कलेक्टर भिण्ड टी.एन.सिंह को कमिश्नर डॉ. अग्रवाल ने दिया कारण बताओं नोटिस || डॉ.भागीरथ प्रसाद, ने किया ए.टी.एम. का निरीक्षण || जिले में संचालित आधार केन्द्र || दतिया शहरी आंगनबाड़ी केन्द्र क्रमांक 9 द्वितीय का निरीक्षण || तहसीलदार गोहद श्री ओ.पी.राजपूत को कारण बताओं नोटिस || मुख्यमंत्री श्री चौहान 19 दिसम्बर को करेंगे एकात्म यात्रा का शुभारंभ - संभागायुक्त || तीन संस्थाओं के अमानक बीज पाये जाने पर उनके भण्डारण विक्रय एवं स्थानांतर पर लगाई रोक || एसपी श्री अवस्थी हुए बच्चों से रूबरू || बैतूल जिले के 9 नवीन गांवों के बनेंगे अधिकार-अभिलेख
अन्य ख़बरें
पुलिस जवान समाजसेवा में क्रियाशील रहे-उसके परिवार और बच्चों की सुविधाओं की व्यवस्था शासन करेगा-मुख्यमंत्री श्री शिवराजसिंह चौहान
पुलिस जवानों के लिये 25 हजार मकान और 12 हजार पुलिस जवानों की भर्ती की तैयारी, पुलिस हाउसिंग बोर्ड की 15 मंजिला इमारतों का भूमिपूजन सम्पन्न
इन्दौर | 14-अप्रैल-2017
 
 
   यह भवन पुलिस के जवानों के लिये ही नहीं वरन उन भांजे-भांजियों के लिये बना रहे हैं जो अपने पिता-पुत्र,भाई-बहन आदि को पुलिस की नौकरी के माध्यम से समाजसेवा के लिये क्रियाशील और उर्जावान रखते हैं। एक पुलिस जवान जब जागता है तब समाज का प्रत्येक व्यक्ति त्यौहार, शादी समारोह आदि शांतिपूर्वक तरीके से मना पाता है, समाज चैन से तब सो पाता है, जब पुलिस जवान रात्रि में जागकर गश्त करता है। सेवा का इससे बड़ा उदाहरण नहीं है। पुलिस जवान की सतर्कता से ही समाज में शांति, व्यवस्था और कानून-व्यवस्था बनी रहती है। मध्यप्रदेश की पुलिस ने अभूतपूर्व कार्य किये हैं। इसमें सबसे प्रमुख कार्य चम्बल के बीहड़ों को डाकू विहीन कर विकास के नये मार्ग तैयार करना हैं। अब चम्बल में डाकू नहीं विकास का रोडमैप तैयार हो रहा है। मध्यप्रदेश पुलिस की यह सबसे बड़ी सफलता है कि मध्यप्रदेश में नक्शलवाद को फैलने नहीं दिया और नक्सलियों को मध्यप्रदेश की सीमा के बाहर ही रोक दिया है। सिमी जैसे आंतकवादी संगठनों के नेटवर्क को ध्वस्त किया है। यह बात मुख्यमंत्री श्री शिवराजसिंह चौहान ने पुलिस हाउसिंग बोर्ड कार्पोरेशन के  महेश गार्ड लाइन स्थित 15वीं बटालियन में आयोजित भूमिपूजन कार्यक्रम में कही।
   कार्यक्रम में वन मंत्री श्री गौरीशंकर शेजवार, महापौर श्रीमती मालिनी लक्ष्मणसिंह गौड़, मध्यप्रदेश हाउसिंग बोर्ड के चेयरमेन श्री कृष्णमुरारी मोघे, विधायक श्री सुदर्शन गुप्ता, विधायक सुश्री उषा ठाकुर, विधायक श्री राजेश सोनकर, संभागायुक्त श्री संजय दुबे, एडीजी श्री अजय शर्मा, श्री संजय राणा आदि अधिकारी भी उपस्थित रहे।
   मुख्यमंत्री ने कहा कि मध्यप्रदेश पुलिस की सजगता के कारण आज पूरा प्रदेश शांति का टापू बना हुआ है। मातायें, बहनें निर्भिक रूप से कहीं भी आ-जा सकती हैं। अपराधियों पर नकेल कसने में पुलिस ने बेहतर भूमिका निभायी है। पुलिस के जवान प्रदेश में शांति और कानून व्यवस्था बनाये रखने में अपना योगदान दे रहे हैं। उनके परिवार के लिये आवास व अन्य सुविधाओं को उपलब्ध कराने का कार्य मध्यप्रदेश सरकार का है, इसके लिये मध्यप्रदेश सरकार निरंतर प्रयास कर रही है। पुलिस जवानों के लिये 25 हजार मकान स्वीकृत किये गये हैं, दो वर्ष में ही यह 15 मंजिला इमारतें तैयार की जायेंगी। पूरे आधुनिक तरीके से इन इमारतों का निर्माण किया जा रहा है। इसमें सर्वसुविधायुक्त व्यवस्था भी उपलब्ध रहेगी।
   मुख्यमंत्री श्री शिवराजसिंह चौहान ने पुलिस जवान के बेटे-बेटियों को सम्बोधित करते हुये कहा कि जवान के सभी बेट-बेटी मन लगाकर पढ़ाई करें। पढ़ाई में किसी प्रकार का व्यवधान आने पर वे सीधे मुझसे सम्पर्क करें। उनकी हर समस्यायें हल होंगी। उनकी उच्च स्तर पढ़ाई के लिये आवश्यकता होने पर सरकार संसाधन के साथ-साथ राशि भी उपलब्ध कराने के प्रयास करेगी। मुख्यमंत्री ने कहा कि मेरी व्यक्तिगत इच्छा है कि मेरे भांजे-भांजी आईएएस, आईपीएस डॉक्टर, इंजीनियर, वैज्ञानिक, उद्योगपति बनें और देश-प्रदेश के लिये अपना बेहतर योगदान दें। पुलिस का जवान अपने कर्म से समाजसेवा के लिये 24 घण्टे क्रियाशील रहता है। परिवार और बच्चे-बच्चियों को पूरा समय नहीं दे पाता है। पुलिस की नौकरी वास्तव में समाजसेवा का सबसे बड़ा उदाहरण है। प्रदेश के लोग होली, दीपावली, दशहरा, ईद, रक्षाबंधन जैसे त्यौहार अपने परिवार के साथ मनाते हैं, किंतु उस समय भी पुलिस का जवान समाज की चौकसी के लिये ड्यूटी पर रहता है। अब हम उन जवानों के परिवार के लिये और सभी सुविधायें उपलब्ध कराने के लिये कृतसंकल्पित हैं।  
    कार्यक्रम में पुलिस महानिदेशक श्री ऋषि शुक्ला ने पुलिस परिवार के लिये 25 हजार मकान स्वीकृत कराने के लिये मुख्यमंत्री श्री शिवराजसिंह चौहान का धन्यवाद दिया और कहा की मुख्यमंत्री महोदय के विशेष प्रयासों से इस वर्ष 12 हजार से अधिक पुलिस जवानों की भर्ती की जा रही है। समाज में कानून-व्यवस्था बनाये रखना एक महती जिम्मेदारी है, जिसे पुलिस जवानों से बेहतर तरीके से निभाया है। माननीय मुख्यमंत्रीजी का मनना है कि कानून-व्यवस्था सुदृढ होने पर ही विकास संभव है और इस कार्य के लिये पुलिस बल निरंतर क्रियाशील रहा है। पुलिस को समाज में प्रतिदिन नयी चुनौतियों का सामना करना पड़ता है इसके लिये हम निरंतर तकनीकी दक्षता को बढ़ा रहे हैं। पुलिस जवानों की भर्ती कर रहे हैं और तकनीकी कौशल के माध्यम से अपराधियों पर लगाम लगाने का प्रयास भी कर रहे हैं।
   कार्यक्रम में पुलिस हाउसिंग बोर्ड के महानिदेशक श्री सरबजीतसिंह ने कहा कि मध्यप्रदेश में पहली बार 15 माले की बहुमंजिला इमारत का निर्माण इंदौर में किया जा रहा है। इस प्रोजेक्ट के माध्यम से 944 मकान पुलिस को उपलब्ध कराये जायेंगे। यह प्रोजेक्ट पूरी तरह इकोफ्रेण्डली है, जिसमें सौर उर्जा के माध्यम से विद्युत सप्लाई की व्यवस्था की जायेगी। यह प्रोजेक्टर दो वर्ष में पूर्ण होगा, इससे पुलिस जवानों की आवासी समस्या को हल करने में मदद मिलेगी। पुलिस हाउसिंग बोर्ड इस वर्ष 25 हजार से अधिक मकान बनाने के लिये तैयारी कर रहा है। इसका टर्नओवर 540 करोड़ रुपये से भी अधिक है। इंदौर में मुख्यमंत्री पुलिस आवास योजना अंतर्गत मोनोलेथिक शियर वॉल टेक्नालॉजी का प्रयोग प्रथम बार किया जा रहा है। इसमें आईआईटी विद्यार्थियों की भी मदद ली गयी।
 
(243 days ago)
डाउनलोड करे क्रुतीदेव फोन्ट में.
डाउनलोड करे चाणक्य फोन्ट में.
पाठकों की पसंद

संग्रह
नवम्बरदिसम्बर 2017जनवरी
सोम.मंगल.बुध.गुरु.शुक्र.शनि.रवि.
27282930123
45678910
11121314151617
18192021222324
25262728293031
1234567

© 2012 सर्वाधिकार सुरक्षित जनसम्पर्क विभाग भोपाल, मध्यप्रदेश             Best viewed in IE 7.0 and above with monitor resolution 1024x768.
Onder's Computer