समाचार
|| जिले में 353.3 मिमी औसत वर्षा || मिल बांचे मध्यप्रदेश कार्यक्रम 26 अगस्त को राज्यमंत्री श्री आर्य गोहद में होगे शामिल || राज्यमंत्री श्री लालसिंह आर्य का दौरा कार्यक्रम || प्रदेश में 2 जिलों में सामान्य से अधिक और 20 जिलों में सामान्य वर्षा || सरकारी सामग्री खरीदी के नियमों में बदलाव होगा || जिले में अबतक 526.8 मि.मी. औसत वर्षा दर्ज || विवाहो का अनिवार्य रजिस्ट्रीकरण नियम, 2008 विवाह का रजिस्ट्रीकरण कराना नितांत अनिवार्य है || जेनरिक दवा उत्पादन में भारत सबसे बड़ा देश || स्थायी कृषि पम्प कनेक्शन में भार वृद्धि की जाँच के संबंध में नये निर्देश || राज्यमंत्री श्री आर्य ने किया प्रदेश में बाल शोषण समाप्ति अभियान का शुभारंभ
अन्य ख़बरें
कलेक्टर श्री पी. नरहरि की सक्रिय पहल पर आशीष गोगाटे को मिला अपने भूखण्ड का कब्जा
-
इन्दौर | 21-अप्रैल-2017
 
   
    कलेक्टर श्री पी. नरहरि की सक्रिय पहल पर उनके निर्देशानुसार राजस्व अमले द्वारा त्वरित कार्यवाही कर विगत 18 वर्षों से अपने क्रयशुदा भूखण्ड का कब्जा लेने के लिये परेशान आशीष गोगाटे को उसकी भूमि पर वास्तविक कब्जा प्राप्त हुआ। कलेक्टर की सक्रिय पहल पर प्राप्त इस सफलता से शिकायतकर्ता पूर्णत: संतुष्ट हुआ तथा उसने कलेक्टर को इस त्वरित सकारात्मक कार्यवाही के लिये आभार प्रकट किया।
    शिकायतकर्ता आशीष पिता राजाराम गोगाटे वर्तमान निवासी 7042 मजिस्ट्रेट टेरेस मिसिसागा ऑन केनाडा ने कलेक्टर को जनसुनवाई में शिकायत की थी कि उनके द्वारा वर्ष 1999 में ग्राम जम्बूडी हप्सी तहसील हातोद में दस हजार वर्गफीट का एक भूखण्ड रजिस्टर्ड विक्रय पत्र द्वारा विक्रेता गोमटेश एण्ड सिक्योरिटी प्रायवेट लिमिटेड से क्रय किया था। भूमि क्रय करने के बाद आवेदक कनाडा में निवासरत हो चुका था। वहां से प्रतिवर्ष इस कार्य के लिये इंदौर आता था। परंतु उसे उसकी भूमि का कब्जा प्राप्त नहीं हो सका था। आवेदक की भूमि पर अन्य व्यक्ति कब्जा कर विगत 15 वर्षों से खेती कर रहे थे तथा गेट पर ताला लगाकर रखते थे।
    उक्त शिकायत कलेक्टर को प्राप्त होने के पश्चात उनके द्वारा तहसीलदार हातोद को प्रकरण का परीक्षण कर तत्काल कार्यवाही करने के निर्देश दिये गये। तहसीलदार हातोद श्री श्रीकांत शर्मा ने प्रकरण पंजीबद्ध कर संबंधित पक्षकारों को तलब किया। विक्रेता संस्था गोमटेश एण्ड सिक्योरिटी के डायरेक्टर श्री मुकेश जैन से चर्चा की गई। उन्हें समझाया गया कि उनके द्वारा क्रेता आशीष को भूमि विक्रय करने के 18 वर्ष पश्चात भी क्रेता को क्रयशुदा भूमि का वास्तविक कब्जा प्राप्त नहीं हो पाना विधिविरूद्ध है। प्रकरण में तहसीलदार के हस्तक्षेप से विक्रेता एवं उससे संबंधित पक्ष क्रेता को भूमि का कब्जा सौंपने के लिये तैयार हो गये। आवेदक के वर्तमान में कनाडा में होने से उनकी तरफ से उनके भाई शशिकांत पिता माधवराव ने मौके पर उपस्थित होकर उक्त भूखण्ड का कब्जा प्राप्त किया। पटवारी श्री चन्द्रशेखर परमार की उपस्थिति में भूमि की चतुर्सीमा चिन्हित कर कब्जा सीमेंट कांक्रीट के पोल लगाकर वायर फेंसिंग कराकर दिलाया गया।  
(124 days ago)
डाउनलोड करे क्रुतीदेव फोन्ट में.
डाउनलोड करे चाणक्य फोन्ट में.
पाठकों की पसंद

संग्रह
जुलाईअगस्त 2017सितम्बर
सोम.मंगल.बुध.गुरु.शुक्र.शनि.रवि.
31123456
78910111213
14151617181920
21222324252627
28293031123
45678910

© 2012 सर्वाधिकार सुरक्षित जनसम्पर्क विभाग भोपाल, मध्यप्रदेश             Best viewed in IE 7.0 and above with monitor resolution 1024x768.
Onder's Computer