समाचार
|| उद्योग मंत्री राजेन्द्र शुक्ल के आज के कार्यक्रम || कलेक्टर पहुँचे बाल संप्रेक्षण गृह || तकनीकी संस्थाओं में प्रवेश के लिए दस्तावेजों के सत्यापन का अंतिम अवसर || नगरीय विकास मंत्री श्रीमती माया सिंह ने बांटे आर्थिक सहायता के चेक || नगरीय विकास मंत्री श्रीमती माया सिंह ने सुनी क्षेत्र की समस्याएं || चन्द्रभान को कलेक्टर ने स्वीकृत की चार लाख की आर्थिक सहायता || मुख्य सचिव 23 और 24 अक्टूबर को शिवपुरी जिले के प्रवास पर || कुन्ता बाई को कलेक्टर ने स्वीकृत की चार लाख की आर्थिक सहायता || मुख्यमंत्री की विशेष वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग आज || मंत्री श्री पवैया के निवास पर हुई गोवर्धन पूजा
अन्य ख़बरें
दोनों जिलों के समन्वय से सोमवती अमावश्या मेले में रहेगी चाक चौबंद व्यवस्था
वाट्सएप ग्रुप में अधिकारी करेंगे सूचनाओं का आदान प्रदान, चित्रकूट की भादौं मास की सोमवती अमावस्या मेला की तैयारी बैठक सम्पन्न
सतना | 13-अगस्त-2017
 
   
   सतना जिले के प्रसिद्ध तीर्थ स्थल चित्रकूट में भाद्रमास की सोमवती अमावस्या के अवसर पर 20 से 22 अगस्त तक आयोजित होने वाले अमावस्या मेले में चित्रकूट आने वाले श्रृद्धालुओं और तीर्थयात्रियों की बडी संख्या के दृष्टिगत उत्तरप्रदेश के चित्रकूट और मध्यप्रदेश के सतना जिले के प्रशासनिक और पुलिस अधिकारियों के समन्वय के साथ चौक चौबंद व्यवस्थाये सुनिश्चित की जायेंगी। कलेक्टर सतना नरेशपाल और कर्बी चित्रकूट कलेक्टर शिवाकांत द्विवेदी की अध्यक्षता में जानकीकुण्ड सदगुरू सेवा संघ के सभाकक्ष में दोनों प्रांतों के वरिष्ठ अधिकारियों की सम्पन्न बैठक में यह निर्णय लिया गया। इस मौके पर सतना पुलिस अधीक्षक राजेश हिंगणकर चित्रकूट पुलिस अधीक्षक योगेन्द्र प्रताप, एडीएम सतना सुचिस्मिता सक्सेना, एसडीएम चित्रकूट नरेन्द्र बहादुर सिंह, एसडीएम मझगंवा ए.पी. द्विवेदी, नीलांशु चतुर्वेदी, कार्तिकेय द्विवेदी, साधुसंत और दोनों जिले के संबंधित विभागों के विभाग प्रमुख अधिकारी उपस्थित थे।
   कलेक्टर नरेशपाल ने कहा कि वाट्सएप ग्रुप के माध्यम से मेला डियुटी में कार्यरत सतना और चित्रकूट कर्बी जिले के वरिष्ठ प्रशासनिक और पुलिस अधिकारी एक दूसरे को निरंतर सूचनाओं का आदान प्रदान करेंगे। कर्बी के कलेक्टर श्री द्विवेदी ने बताया कि कामदगिरी परिक्रमा के उत्तरप्रदेश वाले भाग में फर्षी पत्थर लगाने का काम चल रहा है। उसे शीघ्र पूर्ण कर 18 अगस्त से अमावस्या मेला तक कार्य रोक दिया जायेगा। मेला अवधि में सतना जिले के कंट्रोल रूम में दो कर्मचारी उत्तरप्रदेश से और उत्तरप्रदेश के कंट्रोल रूम में समन्वय के लिए दो कर्मचारी मध्यप्रदेश के जिले से तैनात किये जायेंगे। एसडीएम मझगंवा ने अमावस्या मेला के दौरान की जाने वाली व्यवस्थाओं की विस्तार से जानकारी देते हुए बताया कि रजौला वायपास पर अस्थाई बस स्टैण्ड बनेगा। इसके अलावा मोहकमगढ बायपास तथा हनुमानधारा में भी अस्थाई वाहन पार्किंग की व्यवस्था की जायेगी। मध्यप्रदेश के हिस्से में आने वाले परिक्रमा पथ में प्रकाश की वैकल्पिक व्यवस्था के लिए तीन जनरेटर सेट स्थाई रूप से लगाये गये हैं। हनुमानधारा और गुप्तगोदावरी में भी अस्थाई जनरेटर सेट लगाये जायेंगे। एसडीएम कर्बी नरेन्द्र बहादुर सिंह ने बताया कि उत्तरप्रदेश की ओर से आने वाले वाहनों की पार्किंग खोही के पास की जायेगी। परिक्रमा पथ में साफ सफाई की व्यवस्था और पशुओं को रोकने तथा परिक्रमा पथ में बैठने वाले भिक्षुकगणों को नियंत्रण करने की कार्यवाही संयुक्त रूप से की जायेगी। खोही से लेकर साक्षी गोपाल मंदिर तक अस्थाई जनरेटर की व्यवस्था की जायेगी। अमावस्या मेला की सभी व्यवस्थायें 20 अगस्त तक हर हाल में पूरी करने के निर्देश दिये गये। इसी प्रकार मेला अवधि के पूर्व एसडीएम कर्बी एसडीएम मझगंवा तथा दोनों जिलों के पुलिस अधिकारियों के साथ मेला परिसर का संयुक्त भ्रमण कर आवश्यक व्यवस्थायें सुनिश्चित करने के निर्देश दिये गये।
   अमावस्या मेले के संबंध में कलेक्टर नरेशपाल ने मेला क्षेत्र में की जाने वाली आवश्यक व्यवस्थाओ के संबंध में विभागीय अधिकारियो को निर्देश दिये। उन्होने कहा कि परिक्रमा पथ में श्रद्धालुओ के आवागमन मे किसी भी प्रकार की रूकावट नही हो श्रद्धालुओं की सुविधा के दृष्टि से मेला क्षेत्र में पेयजल बिजली छाया चिकित्सा सुविधा एवं साफ-सफाई की सतत् व्यवस्था के संबंध में पर्याप्त इंतजाम किये जायेगें। भादौं मास की अमावस्या मेला अवसर पर पुलिस, लोक निर्माण वन विभाग, नगर परिषद चित्रकूट डिस्ट्रिक्ट कमांडेट होमगार्ड मुख्य चिकित्सा अधिकारी और म.प्र. राज्य विद्युत वितरण कम्पनी को उन्हे सौपे गये दायित्वो का कुशलतापूर्वक निर्वहन करने तथा आवश्यक व्यवस्थाये शीघ्र पूर्ण करने के निर्देश दिये गये। नगर परिषद चित्रकूट द्वारा पार्किंग स्थलो की साफ-सफाई विद्युत प्रकाश पेयजल की पर्याप्त व्यवस्था कराई जायेगी तथा प्रमुखद्वार कामता एवं वन विभाग के समीप मेला नियंत्रण कक्ष खोया-पाया केन्द्र की स्थापना कर ध्वनि प्रसारण की व्यवस्था के लिये हार्न स्पीकर लगाये जायेगें। विद्युत कम्पनी के अधिकारियो को विद्युत लाईनो एवं ट्रांसफार्मर का आवश्यक सुधार करते हुये मेला अवधि मे पर्याप्त संख्या मे लाईनमैन एवं कर्मचारियो की व्यवस्था करने तथा मेला क्षेत्र में पानी के मटके एवं टैंकरो सहित दो जनरेटर अलग से रखे जाकर स्ट्रीट लाईट की वैकल्पिक रूप से व्यवस्था भी सुनिश्चित करने के निर्देश संबंधित विभागीय अधिकारियो को दिये गये। बरसात के समय में मंदाकिनी नदी के तटो पर गोताखोर नाविक एवं होमगार्ड के जवानो सहित आपदा प्रबंधन के आवश्यक उपकरणो की व्यवस्था सुनिश्चित रखी जायेगी।
 
(68 days ago)
डाउनलोड करे क्रुतीदेव फोन्ट में.
डाउनलोड करे चाणक्य फोन्ट में.
पाठकों की पसंद

संग्रह
सितम्बरअक्तूबर 2017नवम्बर
सोम.मंगल.बुध.गुरु.शुक्र.शनि.रवि.
2526272829301
2345678
9101112131415
16171819202122
23242526272829
303112345

© 2012 सर्वाधिकार सुरक्षित जनसम्पर्क विभाग भोपाल, मध्यप्रदेश             Best viewed in IE 7.0 and above with monitor resolution 1024x768.
Onder's Computer