समाचार
|| कमिश्नर श्री दुबे ने एकात्म यात्रा समापन कार्यक्रम की तैयारियों का लिया जायजा || वन अधिकार पट्टेधारकों को मिलेगा भावांतर भुगतान योजना का लाभ || गणतंत्र दिवस की संध्या पर भारत पर्व का होगा आयोजन || वाहन दुर्घटना में मृत्यु पर 15 हजार रुपये की आर्थिक सहायता स्वीकृत || जिला पंचायत की सामान्य सभा की बैठक 17 जनवरी को || जिला टॉस्क फोर्स समिति की बैठक आज || उपभोक्ता संरक्षण के लिए राज्य व संभाग स्तरीय पुरूस्कार दिए जायेंगे || त्रिस्तरीय पंचायतों के निर्वाचन हेतु कलेक्टर ने दिये मताधिकार हेतु निर्देश || बुधवार को भोपाल में कलेक्टर विशेष गढ़पाले को मिलेगा 5-एस अवॉर्ड || बेटी को मिला शिक्षा से जीवन बेहतर करने का अवसर "सफलता की कहानी"
अन्य ख़बरें
कलेक्टर ने की शिक्षा विभाग की समीक्षा
बिना पूर्व अनुमोदन के शिक्षकों को नही मिलेगा अवकाश-कलेक्टर, स्वच्छता, मध्यान्ह भोजन तथा उपस्थिति पर विशेष जोर
पन्ना | 01-सितम्बर-2017
 
   
    कलेक्टर जे.पी. आईरीन सिंथिया की अध्यक्षता में डाईट के सभाकक्ष में शिक्षा विभाग की समीक्षा बैठक आयोजित की गयी। बैठक में कलेक्टर ने जिले की शिक्षण संस्थाओं के प्राचार्यो, विकासखण्ड शिक्षा अधिकारियों, विकासखण्ड स्त्रोत समन्वयक तथा जनशिक्षकों के कार्यो की समीक्षा की। उन्होंने विशेष तौर पर शिक्षण संस्थाओं में स्वच्छता, मध्यान्ह भोजन, शिक्षकों तथा विद्यार्थियों की उपस्थिति के संबंध में विभिन्न दिशानिर्देश दिए। उन्होंने कहा कि बिना पूर्व लिखित अनुमोदन के शिक्षक अवकाश पर नही जाएं। उपस्थिति दर्ज कर शालाओं से अनुपस्थित रहने वाले शिक्षकों के विरूद्ध कडी कार्यवाही करें। उन्होंने बच्चों तथा शिक्षकों की उपस्थिति का प्रतिवेदन नियमित जिला शिक्षा अधिकारी तथा जिला परियोजना समन्वयक को भेजने के निर्देश दिए।
    बैठक में कलेक्टर ने कहा कि प्रत्येक शिक्षण संस्थाओं में नियमित सफाई की व्यवस्था करें। शौचालय की साफ-सफाई तथा उपयोग भी सुनिश्चित करें। मध्यान्ह भोजन में गुणवत्ता, स्वच्छता मात्रा तथा मीनू अनुरूप भोजन निर्माण का विशेष निरीक्षण करें। स्व-सहायता समूह द्वारा मध्यान्ह भोजन निर्माण में किसी भी तरह की अनियमितता पाए जाने पर तत्काल बर्खास्तगी कार्यवाही कर दूसरे समूह को दायित्व सौंपे। बच्चों के जीवन तथा स्वास्थ्य से किसी भी तरह का समझौता स्वीकार नही किया जाएगा। उन्होंने जनशिक्षकों तथा संकुल प्राचार्यो को अपने क्षेत्र के स्कूलों में मध्यान्ह भोजन का निरीक्षण कर प्रतिवेदन एक सप्ताह के भीतर प्रस्तुत करने के निर्देश दिए।
   कलेक्टर ने कहा कि शालाओं के निरीक्षण के दौरान शिक्षक उपस्थिति पंजी में हस्ताक्षर करने के बाद भी उपस्थित नही पाए जा रहे। ऐसे शिक्षकों के विरूद्ध अनुशासनात्मक कार्यवाही करें। शिक्षकों की उपस्थिति पंजी तथा अवकाश पंजी में स्पष्ट जानकारी दर्ज करें। विशेष परिस्थितियों के अलावा संस्था प्रभारी के अनुमोदन के बाद भी अवकाश स्वीकार किया जाएगा। अन्यथा वेतन कटौती की जाएगी। शिक्षण संस्थाओं का संचालन व्यवस्थित तरीके से समय सारणी अनुरूप किया जाए। प्रातः 10.40 बजे से कक्षाएं प्रारंभ हो जानी चाहिए। बोर्ड कक्षाओं का कोर्स समय पर पूरा कराएं। निर्धारित समय के बाद ही शिक्षक विद्यालय छोडें। जिन विद्यालयों में शिक्षक नही हैं वे नजदीकी विद्यालयों से शिक्षकों की व्यवस्था कराएं। आवश्यकता अनुरूप अतिथि शिक्षकों की भर्ती के लिए कार्यवाही करें। उन्होंने स्कूलों में विद्यार्थियों की उपस्थिति पर असंतोष व्यक्त करते हुए कहा कि शिक्षक बच्चों के साथ प्यार और मानवता से पेश आएं ताकि उनके मन में शिक्षकों के लिए सम्मान तथा अपनापन का भाव पैदा हो। जिससे उन्हें नियमित स्कूल आने की प्रेरणा मिले। उन्होंने विद्यालयों में शैक्षणिक गतिविधियों के साथ-साथ खेलकूद एवं अन्य मनोरंजक गतिविधियां भी कराने के निर्देश दिए।
   कलेक्टर ने कहा कि विभिन्न शिक्षण संस्थाओं में खाली कक्ष उपलब्ध हैं इन्हें किराए पर चल रहे आंगनवाडी केन्द्रों को सौंपे। हाईस्कूल तथा हायर सेकेण्डरी के विद्यार्थियों के लिए लैब तथा प्रायोगिक कक्षाएं अनिवार्य रूप से लगाई जानी चाहिए। जिन विद्यालयों में लैब नही हैं वे विद्यालय के विकास के लिए मिली राशि से लैब की व्यवस्था करें। उन्होंने जनशिक्षकों तथा प्राचार्यो को स्कूलों में दर्ज विद्यार्थियों की शत प्रतिशत आधार सीडिंग कराने के निर्देश दिए। बैठक के दौरान डाइट परिसर स्थित प्राथमिक शाला सुकरात के मध्यान्ह भोजन में इल्ली मिलने का मामला सामने आया। यह भोजन सेंट्रेलाइज्ड किचन में तैयार किया गया था। कलेक्टर ने तत्काल बीईओ/बीआरसी को जांच कर कार्यवाही के निर्देश दिए। बैठक में जिला शिक्षा अधिकारी के.एस. कुशवाहा, शिक्षा विभाग के उपयंत्री ए.एस. कौर, बीईओ, बीआरसी, शिक्षण संस्थाओं के प्राचार्य, संकुल प्रभारी तथा जनशिक्षक उपस्थित रहे।
(137 days ago)
डाउनलोड करे क्रुतीदेव फोन्ट में.
डाउनलोड करे चाणक्य फोन्ट में.
पाठकों की पसंद

संग्रह
दिसम्बरजनवरी 2018फरवरी
सोम.मंगल.बुध.गुरु.शुक्र.शनि.रवि.
25262728293031
1234567
891011121314
15161718192021
22232425262728
2930311234

© 2012 सर्वाधिकार सुरक्षित जनसम्पर्क विभाग भोपाल, मध्यप्रदेश             Best viewed in IE 7.0 and above with monitor resolution 1024x768.
Onder's Computer