समाचार
|| मुँह बोली बहन श्रीमती जैनब बाई ने किया मंत्री श्री पवैया का तिलक || किसानों की मण्डी में विक्रय फसल का भुगतान सुनिश्चित करें - कलेक्टर || मंत्री श्रीमती माया सिंह आज विभिन्न कार्यक्रमों में शामिल होंगीं || स्मार्ट सिटी के तहत दो उद्यानों के विकास कार्यों का भूमि पूजन || स्वच्छता अभियान मोहम्मद गोस के मकबरे हजीरा पर चलेगा आज || गौशाला विस्तार हेतु कलेक्टर ने किया शासकीय भूमि का अवलोकन || मनोज शाक्य भी करा सकेंगे सरकारी मदद से अपना हृदय रोग उपचार "सफलता की कहानी" || भावांतर भुगतान योजना के लाभ से किसान वंचित नहीं रहें || प्रशिक्षण स्थल पर मिलेंगे डाक मतपत्र के आवेदन पत्र || डाक मतपत्र के लिये आवेदन करने की अंतिम तिथि 2 नवम्बर तक
अन्य ख़बरें
कमिश्नर ने कलेक्टर और अपर कलेक्टर राजस्व न्यायालय का किया निरीक्षण
कलेक्टर न्यायालय से 12 प्रकरण गायब पाये जाने पर सेवानिवृत्त रीडर के विरूद्ध एफआईआर दर्ज करने के दिये निर्देश, कमिश्नर ने नजूल शाखा, नकल शाखा एवं अभिलेखागार का भी किया निरीक्षण
शहडोल | 13-अक्तूबर-2017
 
   
    कमिश्नर शहडोल संभाग श्री बी.एम.शर्मा ने आज कलेक्टर, राजस्व न्यायालय, अपर कलेक्टर राजस्व न्यायालय, नजूल शाखा, नकल शाखा का निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान कमिश्नर ने कलेक्टर राजस्व न्यायालय शहडोल से लगभग 12 राजस्व प्रकरण गायब पाये जाने पर सेवानिवृत्त रीडर ओमकार सिंह को नोटिस जारी कर आगामी सात दिवसों में कलेक्टर राजस्व न्यायालय से गायब लगभग 12 प्रकरणों को प्रस्तुत कराने के निर्देश दिये हैं। कमिश्नर ने निर्देशित करते हुये कहा है कि अगर निर्धारित समयावधि में सेवानिवृत्त रीडर द्वारा 12 राजस्व प्रकरणों के संबंध में समुचित जानकारी नही मुहैया कराने की स्थिति में सेवानिवृत्त रीडर की पेंशन रोकने की कार्यवाही की जाये साथ ही उसके विरूद्ध एफआईआर दर्ज कराई जाये। कमिश्नर ने कलेक्टर राजस्व न्यायालय से मनमाने तौर पर 12 राजस्व प्रकरणों के गायब होने पर कड़ी नाराजगी व्यक्त करते हुये इस स्थिति को अत्यंत खेद जनक बताया। कमिश्नर ने निरीक्षण के दौरान निगरानी प्रकरणों, अपील के प्रकरणों की भी समीक्षा की तथा दायरा पंजी में दर्ज प्रकरणों को आरसीएमएस में दर्ज नहंी करने पर कड़ी नाराजगी व्यक्त की। उनहोने कहा कि आरसीएमएस के आंकड़े कुछ बोल रहे हैं और राजस्व पंजी कुछ अलग आंकड़े प्रस्तुत कर रही है, कमिश्नर ने निर्देश दिये कि आरसीएमएस और दायरा पंजी के आंकड़ों में समानता होनी चाहिए। कमिश्नर ने अपर कलेक्टर के राजस्व न्यायालय का भी निरीक्षण किया, निरीक्षण के दौरान राजस्व प्रकरणों के निराकरण में अपेक्षित प्रगति नहीं पाये जाने पर कमिश्नर ने कड़ी नाराजगी व्यक्त की। अपर कलेक्टर राजस्व न्यायालय में वर्ष 2010-11 के प्रकरण नई पंजी में दर्ज होने पर कमिश्नर द्वारा कड़ी नाराजगी व्यक्त की गई तथा रीडर को कड़ी फटकार लगाई गई। निरीक्षण के दौरान वर्ष 1998-99 की निगरानी पंजी का भी कमिश्नर द्वारा अवलोकन किया गया। अवलोकन के दौरान पाया गया कि अपर कलेक्टर राजस्व न्यायालय में वर्ष 2007-08 के  कई राजस्व प्रकरण लंबित पाये जाने पर कमिश्नर द्वारा कड़ी नाराजगी व्यक्त की गई। कई प्रकरणों में वर्ष 2009 के बाद सुनवाई नहीं होने पर तथा राजस्व प्रकरणों में किसी प्रकार की टीप अंकित नहीं होने पर कमिश्नर द्वारा कड़ी नाराजगी व्यक्त करते हुये चेतावनी दी गई तथा निर्देशित किया गया कि इन प्रकरणों का अभियान चलाकर निराकरण किया जाये। कमिश्नर ने अपर कलेक्टर को निर्देश दिये कि वे आगामी सोमवार को राजस्व प्रकरणों की पंजी व्यवस्थित कर उसकी रिपोर्ट उन्हें प्रस्तुत करेंगें। कमिश्नर श्री बी.एम.शर्मा ने नजूल शाखा का भी निरीक्षण किया, नजूल शाखा में कमिश्नर द्वारा दायरा पंजी का अवलोकन किया गया। अवलोकन के दौरान कमिश्नर ने पाया कि नजूल शाखा के लिपिक द्वारा वर्ष 2010-11 के नजूल के प्रकरणों को मनमानेतौर पर पंजी में दर्ज किया गया है तथा उनके नम्बरों में गंभीर प्रकार की त्रुटि की गई है, इस पर कमिश्नर ने कड़ी नाराजगी व्यक्त की तथा मौके पर उपस्थित नजूल शाखा के प्रभारी डिप्टी कलेक्टर को त्रुटि में सुधार करने के निर्देश दिये। कमिश्नर ने इस दौरान आरसीएमएस का दायरा पंजी से मिलान कर स्थिति का अवलोकन किया तथा डायवर्सन प्रभारी डिप्टी कलेक्टर श्री डी.आर.कुर्रे को निर्देश दिये कि वे प्रकरणों का सत्यापन कर रिपोर्ट उनके समक्ष प्रस्तुत करेंगें। इस दौरान कमिश्नर ने नजूल शाखा में पदस्थ कर्मचारियों की सेवा पुस्तिकाओं और पास बुकों का भी निरीक्षण किया तथा सेवा पुस्तिकाओं और पास बुकों में वर्ष 2010 के बाद इंट्री नहीं होने पर कमिश्नर ने कड़ी नाराजगी व्यक्त की तथा निर्देश दिये कि कर्मचारियों की सेवा पुस्तिकाओं में कटौती राशियों की इंट्री कराई जाये तथा सेवा पुस्तिकाओं का समय-समय पर सत्यापन भी कराया जाये। कमिश्नर ने नकल शाखा का निरीक्षण किया, नकल शाखा के निरीक्षण के दौरान जनवरी 2016 के आवेदन नकल के लिये लंबित पाये जाने पर कमिश्नर ने कड़ी नाराजगी व्यक्त की। कमिश्नर ने भू-भाटक निर्धारण एवं वसूली रजिस्टर का भी निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान कमिश्नर ने राजस्व अभिलेखागार का भी निरीक्षण किया, निरीक्षण के दौरान कमिश्नर ने राजस्व अभिलेखागार के कर्मचारियों से उन्हें सौंपे गये दायित्वों के संबंध में जानकारी ली तथा कहा कि राजस्व अभिलेखागार शहडोल के सेक्सन राईटरों की गंभीर शिकायतें उन्हें प्राप्त हो रही है। उन्होंने सेक्शन राईटरों को निर्देश दिये कि वे अपने रवैये में सुधार लायें, कमिश्नर ने मौके पर उपस्थित कलेक्टर को निर्देश दिये कि राजस्व अभिलेखागार की स्थिति में सुधार लायें जो कर्मचारी किसानों को परेशान करते हैं उन्हें राजस्व अभिलेखागार से तत्काल हटायें। कमिश्नर ने यह भी निर्देश दिये कि नकल शाखा और रिकार्ड रूम का प्रभार एक ही डिप्टी कलेक्टर को सौंपा जाये ताकि रिकार्ड ढूंढने में आसानी हो। कमिश्नर ने निर्देश दिये कि राजस्व अभिलेखागारों से किसानों को आसानी से रिकार्ड मिलना चाहिए यह सभी अधिकारी सुनिश्चित करें। कमिश्नर ने जिला निर्वाचन कार्यालय का भी निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान कलेक्टर शहडोल श्री नरेश पाल, अपर कलेक्टर श्री सरोधन सिंह, संयुक्त कलेक्टर श्री रमेश सिंह एवं अन्य अधिकारी उपस्थित रहे।
(8 days ago)
डाउनलोड करे क्रुतीदेव फोन्ट में.
डाउनलोड करे चाणक्य फोन्ट में.
पाठकों की पसंद

संग्रह
सितम्बरअक्तूबर 2017नवम्बर
सोम.मंगल.बुध.गुरु.शुक्र.शनि.रवि.
2526272829301
2345678
9101112131415
16171819202122
23242526272829
303112345

© 2012 सर्वाधिकार सुरक्षित जनसम्पर्क विभाग भोपाल, मध्यप्रदेश             Best viewed in IE 7.0 and above with monitor resolution 1024x768.
Onder's Computer