समाचार
|| लोकसेवकों और उनके परिजनों के आकस्मिक निधन पर कलेक्टर ने व्यक्त किया शोक || बुधवार को 1418 लाभार्थियों को लगाया गया कोविड-19 वैक्सीन || जिला पंजीयक व उप पंजीयक कार्यालय 10 प्रतिशत कर्मचारियों के साथ खुल सकेंगे || कोरोना से लड़ाई में आगे आये डीएफओ श्री विश्वकर्मा (कोविड स्टोरी) || प्रशासन द्वारा कराया जा रहा है जनता कर्फ्यू का पालन || निधि को मिला अपनों का साथ होम आईसोलेशन में रहकर दी कोरोना को मात (कोविड स्टोरी) || नगरीय निकायों सहित ग्रामीण क्षेत्रों में कराया गया सैनिटाईजेशन || किल कोरोना अभियान के तहत ग्रामीण एवं शहरी क्षेत्रों में घर-घर जाकर किया जा रहा सर्वे "खुशियों की दास्तां" || कोरोना वालेंटियर ईश्वर सिंह राठौर और टीम ग्रामीणों को संक्रमण से बचाने में बन रही मददगार "खुशियों की दास्ताँ" || जिले में 45 वर्ष से अधियु आयु वर्ग तथा 18 से 44 वर्ष तक के नागरिकों का कोविड-19 टीकाकरण जारी
अन्य ख़बरें
जिले में धारा 144 प्रभावशील
-
पन्ना | 15-अप्रैल-2021
    अपर कलेक्टर एवं अपर जिला दण्डाधिकारी श्री जे.पी. धुर्वे द्वारा गृह विभाग द्वारा जारी निर्देशों के परिपालन में कोविड-19 महामारी की रोकथाम एवं बचाव के लिए गठित जिला स्तरीय संकट प्रबंधन समूह की बैठक में लिए गए निर्णय अनुसार जिले में कोरोना वायरस के संक्रमण प्रभावी नियंत्रण एवं जनसामान्य के स्वास्थ्य हित एवं लोक शांति बनाए रखने के उद्देश्य से दण्ड प्रक्रिया संहिता 1973 की धारा 144 (1) एवं मध्यप्रदेश पब्लिक हेल्थ एक्ट 1949 की धारा 71 (1) 72 (2) के तहत सम्पूर्ण जिले में अतिरिक्त प्रतिबंधात्मक आदेश लागू किए गए हैं। पन्ना जिले की सम्पूर्ण राजस्व सीमा में दिनांक 15 अप्रैल 2021 को रात्रि 10 बजे से दिनांक 22 अप्रैल 2021 को प्रातः 6 बजे तक कोरोना कर्फ्यू प्रभावी रहेगा।
कोरोना कर्फ्यू के दौरान अतिआवश्यक कार्य होने पर ही घरों के बाहर मास्क लगाकर, सोशल डिस्टंेसिंग के साथ निकलें। इस दौरान किसी प्रकार का जुलूस आदि निकालना प्रबिंधित रहेगा। शादी विवाह, धार्मिक कार्यक्रमों के लिए प्रशासन की अनुमति लेना अनिवार्य होगा। प्रिंट, इलेक्ट्रनिक मीडिया एवं सोशल मीडिया में भ्रामक अथवा आधारहीन समाचार प्रकाशित, प्रसारित करना पूर्णतः प्रतिबंधित। कन्टेनमेंट जोन में आगामी 10 दिनों तक आवागमन प्रतिबंधित होगा।
    इस अवधि में अन्य राज्य से माल एवं सेवाओं का आवागमन, अस्पताल, नर्सिंग होम, मेडिकल, एन्श्योंन्स कम्पनी, अन्य स्वास्थ्य सेवाएं, क्रेमिस्ट, किराना दुकान, रेस्टोरेंट (होम डिलेवरी) के लिए पेट्रोल पम्प, बैंक व एटीएम, फल, सब्जी की दुकानें, ठेले चालू रहेंगे। औद्योगिक इकाईया, औद्योगिक मजदूरों, उद्योग हेतु कच्चा तैयार माल, उद्योगों के अधिकारी, कर्मचारियों को आवागमन की छूट रहेगी। एम्बुलेन्स, फायर बिग्रेड, टेलीकम्यूनिकेशन, विद्युत प्रदाय, रसोई गैस होम डिलेवरी, दूध एकत्रीकरण एवं वितरण, सार्वजनिक वितरण प्रणाली दुकानें, मनरेगा कार्य में लगे श्रमिक, तेन्दूपत्ता संग्राहक तथा इनके ट्रासपोर्टस्, केन्द्र सरकार, राज्य सरकार एवं स्थानीय निकायों के अधिकारी, कर्मचारियों को शासकीय कार्य के लिए आवागमन, इलेक्ट्रीशियन, प्लांमर, कार पेंटर आदि द्वारा सेवा प्रदाय के लिए आवागमन में छूट रहेगी। इसी प्रकार कन्ट्रक्शन गतिविधियां, यदि मजदूर कन्ट्रक्शन कैम्पस में रूके हो, कृषि संबंधी सेवाएं, परीक्षा केन्द्र आने जाने वाले परीक्षार्थी तथा परीक्षा केन्द्र एवं परीक्षा से जुडे अधिकारी, कर्मचारी, अस्पताल, नर्सिंग होम और टीकाकरण हेतु नागरिक, कर्मचारी, फसल उपार्जन से जुडे कर्मचारी तथा उपार्जन स्थल तक किसानों का आवागमन, बस स्टैण्ड से आने जाने वाले नागरिक यात्रीगण, मोबाइल कम्पनियों का सर्पोट स्टॉफ एवं समाचार पत्र वितरण तथा अधिमान्यता प्राप्त पत्रकारगण, होटल केवल इन रूम डायनिंग व्यवस्था के साथ, दूध की दुकानें प्रातः 7 बजे से 11 बजे तक शाम 6 बजे से 8 बजे तक खुलेंगी।
    जिन गतिविधियों को कोरोना कर्फ्यू से मुक्त रखा गया है उनको सोशल डिस्टेंसिंग, मास्क तथा शासन द्वारा कोरोना संक्रमण से बचाव हेतु अक्षरशः पालन किया जाना अनिवार्य होगा। अन्यथा भारतीय दण्ड संहिता की धारा 188 के तहत कार्यवाही की जाएगी।
     चूंकि वर्तमान में ऐसी परिस्थितियां है कि जनसामान्य को जिन्हें यह आदेश निर्दिष्ट है को व्यक्तिशः सूचना सम्यक रूप से तामील किया जाना संभव नही है अतः दण्ड प्रक्रिया संहिता की धारा 144 (2) के अन्तर्गत एक पक्षीय रूप से आदेश पारित किया जाता है। इस सूचना का प्रकाशन जिला कार्यालय, पुलिस अधीक्षक कार्यालय, जिला अस्पताल कार्यालय, समस्त राजस्व अधिकारी कार्यालय, समस्त जनपद पंचायत कार्यालय, पुलिस थाने के नोटिस बोर्ड पर चस्पा करने के साथ आमजन की जानकारी के लिए समाचार पत्रों में इसका प्रकाशन जनसम्पर्क विभाग के माध्यम से किया जा रहा है। इस आदेश का उल्लंघन करने वाले व्यक्ति के विरूद्ध भारतीय दण्ड संहिता की धारा 188, 269, 271 कोविड-19 रेग्युलेशन 2020 आपदा प्रबंधन अधिनियम 2005 की धारा 51 तथा अन्य संगत प्रावधानों के अन्तर्गत कार्यवाही की जाएगी।

 
(27 days ago)
डाउनलोड करे क्रुतीदेव फोन्ट में.
डाउनलोड करे चाणक्य फोन्ट में.
पाठकों की पसंद

संग्रह
अप्रैलमई 2021जून
सोम.मंगल.बुध.गुरु.शुक्र.शनि.रवि.
262728293012
3456789
10111213141516
17181920212223
24252627282930
31123456

© 2012 सर्वाधिकार सुरक्षित जनसम्पर्क विभाग भोपाल, मध्यप्रदेश             Best viewed in IE 7.0 and above with monitor resolution 1024x768.
Onder's Computer