समाचार
|| ’कोरोना योद्धाओं की समर्पित सेवा एवं आत्मविश्वास से अप्रैल माह में 2619 मरीजों ने कोरोना पर पायी विजय’ || संजय गांधी अस्पताल में रेडक्रास द्वारा दो कोविड सहायता केन्द्र संचालित || संतोष साकेत ने जीती कोरोना से जंग "सफलता की कहानी" || राहत की बड़ी ख़बर - सात मई से प्रारंभ हो जाएगा कैंसर चिकित्सालय भवन में कोविड हास्पिटल || मुख्यमंत्री श्री चौहान 75 लाख किसानों के खाते में अंतरित करेंगे 1500 करोड़ रूपये || होम आइसोलेशन रोगियों की उपचार व्यवस्थाओं का सांसद ने लिया जायजा || मीडिया कर्मियों को समाजसेवी संजय द्विवेदी ने प्रदान कराए सुरक्षा किट "सफलता की कहानी" || प्रवासी श्रमिकों की सहायता एवं समन्वय के लिए राज्य स्तर पर बनाया गया कोविड कंट्रोल रूम || नेत्रहीन बुजुर्ग को टीका लगाया || पीडि़त मानवता की सेवा में मऊगंज के व्यापारी का अनुकरणीय योगदान "सफलता की कहानी"
अन्य ख़बरें
एक्टिव केसेस की संख्या में मध्यप्रदेश की स्थिति में हुआ सुधार
सातवें से दसवें नंबर पर आया,रिकवरी दर भी बढ़ी
सीधी | 25-अप्रैल-2021
 
      प्रदेश में कोरोना की पॉजिटिविटी दर लगातार कम हो रही है और रिकवरी दर लगातार बढ़ रही है। गत 21अप्रैल को एक्टिव केसेस की संख्या के हिसाब से मध्यप्रदेश, देश में सातवें नंबर पर था, जो आज की स्थिति में और बेहतर होकर 10वें नंबर पर आ गया है। प्रदेश की रिकवरी दर शुक्रवार को 80.41 प्रतिशत थी, जो आज बढ़ कर 80.56 प्रतिशत हो गई है।
    प्रदेश का पॉजिटिविटी रेट लगातार घट रहा है। प्रदेश में 22 अप्रैल को पॉजीटिविटी रेट 24.29 प्रतिशत, 23 अप्रैल को 23.76 प्रतिशत और 24 अप्रैल को पॉजीटिविटी रेट 23.11 प्रतिशत रहा। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि प्रतिदिन स्वस्थ और संक्रमण मुक्त होने वालों की संख्या में तेजी से वृद्धि हो रही है। गत 19 अप्रैल को 6836, 20 अप्रैल को 8936, 21 अप्रैल को 9035, 22 अप्रैल को 9620, 23 अप्रैल को 10 हजार 833 और 24 अप्रैल को 11 हजार 91 मरीज स्वस्थ होकर अपने घर पहुँचे हैं।
    प्रदेश के अस्पतालों में बेडस की संख्या निरंतर बढ़ाई जा रही है और ऑक्सीजन की आपूर्ति के लिये भी हर स्तर पर प्रयास किये जा रहे हैं। उन्होंने बताया कि प्रदेश में समन्वित प्रयासों के परिणाम स्वरूप यह राहत की बात है कि पिछले 24 घंटे में 23 जिलों में जितने कोरोना के नये केस आये हैं, उससे कहीं ज्यादा मरीज इन जिलों में रिकवर भी हुए हैं।
होम आइसोलेशन
    प्रदेश में 64 हजार 100 से अधिक रोगी वर्तमान में होम आइसोलेशन में हैं। इनमें से 97 प्रतिशत मरीजों से दूरभाष पर कम से कम एक बार संपर्क किया गया है। शहरी और ग्रामीण क्षेत्रों में होम आइसोलेशन में रहने वाले शत प्रतिशत मरीजों को मेडिकल किट और हेल्थ ब्रोशर की होम डिलेवरी की जा रही है।
कोविड केयर सेंटर्स
    प्रदेश के 52 जिलों में 153 कोविड केयर सेंटर्स प्रारंभ किये जा चुके हैं, जिनमें मंद लक्षणों वाले रोगियों को रखा जा रहा है। इनमें वर्तमान में कुल 9,535 आइसोलेशन बेड्स और 523 ऑक्सीजन बेड्स स्थापित किए गए हैं। इसी प्रकार प्रदेश के ग्रामीण क्षेत्रों में अब तक कुल 20 हजार 100 से अधिक संस्थागत क्वारेन्टाईन सेंटर्स बनाये जा चुके हैं, जिनमें लगभग 2 लाख 38 हजार से अधिक बेड्स स्थापित किए गए हैं। शहरी और ग्रामीण क्षेत्रों में स्थापित सभी कोविड केयर सेंटर्स, संस्थागत क्वारेन्टाईन सेंटर्स में रहने वाले शत-प्रतिशत मरीजों को मेडिकल किट और हेल्थ ब्रोशर प्रदान किये जा रहे हैं।
अस्पताल और बिस्तर
    एक अप्रैल को प्रदेश में उपलब्ध बेड्स की कुल संख्या 20 हजार 159 थी, जो आज बढ़कर 49 हजार 508 हो गई है। पिछले 23 दिनों में कुल 29 हजार से अधिक बेड्स बढ़ाए गए हैं। यह सिलसिला निरंतर जारी रहेगा।
(11 days ago)
डाउनलोड करे क्रुतीदेव फोन्ट में.
डाउनलोड करे चाणक्य फोन्ट में.
पाठकों की पसंद

संग्रह
अप्रैलमई 2021जून
सोम.मंगल.बुध.गुरु.शुक्र.शनि.रवि.
262728293012
3456789
10111213141516
17181920212223
24252627282930
31123456

© 2012 सर्वाधिकार सुरक्षित जनसम्पर्क विभाग भोपाल, मध्यप्रदेश             Best viewed in IE 7.0 and above with monitor resolution 1024x768.
Onder's Computer