समाचार
|| कार्यक्रमों के सफल आयोजन पर कलेक्टर ने जताया अधिकारियों-कर्मचारियों का आभार || साहित्यकार व कवि समाज के मार्गदर्शक हैं – विधानसभा अध्यक्ष श्री गिरीश गौतम || जिले में 12 हजार 887 लोगों को लगाया गया कोविड- 19 का टीका || स्वच्छता कार्यक्रम के तहत कलेक्टर सहित जनसहयोग ने किया नरसिंह मंदिर व नरसिंह तालाब में श्रमदान || मुख्यमंत्री श्री चौहान ने प्रदेशवासियों की सुख-समृद्धि के लिये की प्रार्थना || आरटीई के तहत नि:शुल्क प्रवेश के लिए संशोधित समय सारणी जारी || डॉ. मिश्रा चिकित्सा जगत के आदर्श और प्रेरक व्यक्तित्व थे : मुख्यमंत्री श्री चौहान || मुख्यमंत्री श्री चौहान ने सप्तपर्णी का पौधा लगाया || मुख्यमंत्री श्री चौहान 21 सितंबर को 103 आंगनबाड़ी भवनों और 10 हजार पोषण वाटिका का लोकार्पण करेंगे || सरकार के खजाने पर पहला हक जनजातियों का : मुख्यमंत्री श्री चौहान
अन्य ख़बरें
महिलाओं को सशक्त और आत्मनिर्भर बनाना हमारा लक्ष्य - मंत्री श्री सिसोदिया
बमोरी में आयोजित महिला स्व-सहायता समूह के उन्‍मुखी कार्यक्रम में सम्मिलित हुए पंचायत मंत्री
गुना | 18-जुलाई-2021
        मध्यप्रदेश शासन के पंचायत एवं ग्रामीण विकास मंत्री श्री महेन्‍द्र सिंह सिसौदिया ने बमोरी पहुंचकर महिला स्व-सहायता समूह यानी आजीविका मिशन उन्‍मुखी कार्यक्रम का दीप प्रज्‍जवलन कर शुभारंभ किया। इस अवसर पर ग्रामीण आजीविका मिशन के मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्री एल.एम.बेलवाल, कलेक्टर श्री फ्रेंक नोबल ए., मुख्‍य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत श्री निलेश परीख, जिला परियोजना अधिकारी श्री शर्मा सहित अन्य अधिकारीगण, जनप्रतिनिधि व समूह की महिलाएं उपस्थित रही।
        उपस्थित स्‍व-सहायता समूह की महिलाओं को संबोधित करते हुए पंचायत मंत्री श्री सिसौदिया ने कहा कि ग्रामीण आजीविका मिशन के माध्यम से मध्यप्रदेश सरकार महिलाओं को आत्मनिर्भर बनाने की ओर अग्रसर है। हमारे मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान की सोच है कि महिलाओं को आत्म निर्भर और सशक्त बनाया जाये। जिससे वह अपने पैरों पर खड़ी हो सके। मध्यप्रदेश सरकार का यही मुख्य उद्देश्य है। आज मध्य प्रदेश स्वयं सहायता समूह के मामले में भारत में सबसे आगे हैं। वर्तमान में यहां 36 लाख समूह कार्यरत हैं। हमारा लक्ष्य एक लाख समूह गठित कर लोगों को आत्मनिर्भर बनाना है।
        उन्होंने कहा कि मध्यप्रदेश सरकार द्वारा 285 करोड़ रुपए महिला स्व-सहायता समूह को ऋण के रूप में दिए हैं। यह समूह अपना उत्पाद बनाकर बाजार में बेच रहे हैं। अब हमारी आगे की रणनीति यह है कि स्‍व-सहायता समूह के उत्पादों की ब्रांडिंग कर इन्हें अंतरराष्ट्रीय बाजार में बेचा जाएगा। जिससे समूहों को और अधिक लाभ होगा। गुना जिले में महिला समूह अच्छा काम कर रहे हैं। हाल ही में 75 समूहों को गेहूं खरीदी का काम दिया गया था। जिसे समूहों ने सफलतापूर्वक पूरा किया। समूह को राशन वितरण तथा इसी प्रकार के अन्य कार्य दिए जाएंगे। उन्होंने कहा कि बमोरी में महिला स्व सहायता समूहों के माध्यम से धनिया की प्रोसेसिंग इकाई स्थापित की जाएगी। आगामी समय में सभी उत्पाद साथी बाजार के माध्यम से बेचे जाएंगे।
        भोपाल से आए आजीविका मिशन के मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्री एल.एम.बेलवाल ने कहा कि मिशन के तहत और गतिविधियां बढ़ाई जाएंगी। सिलाई केंद्रों की संख्या भी बढ़ेगी तथा सुविधाएं भी अधिक दी जाएंगी। उन्होंने पंचायत मंत्री श्री सिसौदिया के प्रयासों कि सराहना की। कार्यक्रम का संचालन स्टेट प्रोजेक्ट मैनेजर सुषमा मिश्रा ने किया
महिलाओं ने कही अपनी कहानी स्वयं की जुबानी
        स्‍व-सहायता समूह की महिलाओं ने अपनी कहानी अपनी जुबानी कहते हुए बताया कि स्व-सहायता समूह के माध्यम से आज हम 15 से 20 हजार रुपए कमा रहे हैं। जिन महिलाओं ने अपने अनुभव सुनाए उनमें मीना फराहे, स्वाति कोगुलकर, सरिता सैनी, गंगा अहिरवार, चंदा बैरागी, तुलसी केवट, रीना सेन तथा सोनाखान के नाम शामिल हैं।
महिला समूहों के उत्पादों की प्रदर्शनी रही आकर्षण का केंद्र
        जिले में स्‍व-सहायता समूह द्वारा विभिन्न उत्पादों की प्रदर्शनी लगाई गई। प्रदर्शनी के उत्पादों को पंचायत एवं ग्रामीण विकास मंत्री श्री महेन्‍द्र सिसौदिया सहित सभी अतिथियों ने देखा और खूब सराहना की। प्रदर्शनी में सेनेटरी पैड, कांच की चूड़ी, खाद्य पदार्थ, चप्पल, फिनायल, सैनिटाइजर, विभिन्न प्रकार के वस्त्र, दौना, प्लेट, पेन, पेंसिल, अचार-पापड़ आदी वस्तुएं प्रदर्शित की गई।
16 सहायता समूह को 373 लाख की राशि स्वीकृत
        कार्यक्रम के दौरान पंचायत मंत्री श्री महेन्‍द्र सिंह सिसौदिया द्वारा 3 करोड़ 73 लाख की राशि के स्वीकृति पत्र वितरित किए गए। सात स्‍व-सहायता समूह को मछली पालन के पट्टे दिए गए, 2 स्‍व-सहायता समूह को आजीविका एक्सप्रेस का स्वीकृति पत्र दिया गया। टेकरी महिला प्रोड्यूसर कंपनी तथा शिवम प्रोड्यूसर कंपनी को प्रमाण पत्र वितरित किये गये।
 
(64 days ago)
डाउनलोड करे क्रुतीदेव फोन्ट में.
डाउनलोड करे चाणक्य फोन्ट में.
पाठकों की पसंद

संग्रह
अगस्तसितम्बर 2021अक्तूबर
सोम.मंगल.बुध.गुरु.शुक्र.शनि.रवि.
303112345
6789101112
13141516171819
20212223242526
27282930123
45678910

© 2012 सर्वाधिकार सुरक्षित जनसम्पर्क विभाग भोपाल, मध्यप्रदेश             Best viewed in IE 7.0 and above with monitor resolution 1024x768.
Onder's Computer