समाचार
|| कलेक्टर ने सड़क दुर्घटना में मृत्यु होने पर 15 हजार रुपये की आर्थिक सहायता की स्वीकृत || कलेक्टर ने राजा बसोर को आगामी छ: माह तक प्रत्येक मंगलवार को थाना प्रभारी कोतमा के समक्ष हाजिरी दर्ज कराने का दिया आदेश || जिले में अब तक 5 लाख 32 हजार 147 व्यक्तियों ने लगवाया कोविड टीका || जमुड़ी के चार दुकानों से जांच हेतु सामग्री के लिए गए सेम्पल || पपरौड़ी में खाद्य मंत्री श्री सिंह की उपस्थिति में जनसमस्या निवारण शिविर का आयोजन आज || जनकल्याण और सुराज के 20 वर्ष पूर्ण होने के अवसर पर कृषि विभाग का कार्यक्रम 23 सितम्बर को || चंद्रकांत मेहरा की आर्थिक कठिनाई दूर हुई “खुशियों की दास्तां” || मुख्यमंत्री श्री चौहान को "नर्मदा परिक्रमा एक अंतर्यात्रा" पुस्तक भेंट की || मुख्यमंत्री श्री चौहान 1000 करोड़ की लागत के 73 कार्यों का करेंगे लोकार्पण || मध्यप्रदेश की धरती पर हर गरीब परिवार के पास होगा अपना आवास: मुख्यमंत्री श्री चौहान
अन्य ख़बरें
नगरीय निकाय डेंगू, चिकिनगुनिया के प्रभाव को रोकने के लिये टीम गठित करें-कलेक्टर
-
मुरैना | 20-जुलाई-2021
   राष्ट्रीय वैक्टर जनित कार्यक्रम के अंतर्गत डेंगू, चिकिनगुनिया निरोधक माह 19 जुलाई 2021 से मनाया जा रहा है। जिस पर अंतरविभागीय एडवोकेसी एवं सामाजिक जुड़ाव कार्यशाला कलेक्टर सभागार मे कलेक्टर श्री बी कार्तिकेयन की अध्यक्षता में संपन्न हुई। कार्यशाला में कलेक्टर ने जिले के सभी नगरीय निकायों के सीएमओ को निर्देश दिये कि मलेरिया, चिकिनगुनियां जैसी बीमारियों एवं डेंगू मच्छरों की रोकथाम के लिये टीम गठित करें। ये टीम वार्डों में घूमकर भ्रमण करेगी जिस किसी के यहां कूलर में रूका हुआ पानी या टूटे बर्तनों में जमा पानी में डेंगू का लार्वा पाया जाता है तो उसे सचेत करने के लिये आग्रह करें।  मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत श्री रोशन कुमार सिंह, अपर कलेक्टर श्री नरोत्तम भार्गव, संयुक्त कलेक्टर श्री एलके पाण्डे, एस.डी.एम.मुरैना, एस.डी.एम.सवलगढ, आयुक्त नगर निगम, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी तथा सभी विभागों के जिलाधिकारी उपस्थित थे।          
    बैठक में कलेक्टर श्री बी कर्तिकेयन ने जिले के सभी नगरीय निकायों, शहरी आम जनता से अपील की है कि डेंगू चिकनगुनिया से बचने के लिये लार्वा उत्पन्न न होने दें, उसके लिये घर के आसपास, कार्यालयों में या छतों पर किसी प्रकार के टूटे फूटे मटके, टायर या अन्य कोई ऐसी वस्तु जिसमें पानी जमा हुआ हो ऐसे टूटे फूटे बर्तन, टायर आदि को नष्ट कर दें। उसमें पानी एकत्रित न होने दें। कलेक्टर ने कहा कि मच्छरों का प्रकोप बढ रहा है। इसे रोकने के लिये कूलरों में पानी एकत्रित न होने दें और प्रतिदिन साफ पानी कूलरों में भरें। रूके हुये पानी में मच्छर या डेंगू, चिकिनगुनिया के मच्छरों का लार्वा बनता है। किसी तालाब या अन्य रूके हुये स्थान पर पानी भरा हुआ है तो वहां गमछुआ मछली के बीज डाल दें जिसे मच्छर के लार्वा को नष्ट कर देंगे। 
    कलेक्टर श्री कार्तिकेयन द्वारा जनसामान्य को जागरूक करने हेतु जागरूकता अभियान चलाकर मच्छरो के लार्वा के उत्पादित स्थल एवं डेंगू से बचाव के सामान्य तरीके की जानकारी से अवगत कराने के भी निर्देश दिये गये । जिला मलेरिया अधिकारी जिला मुरैना द्वारा प्रजेंटेसन के माध्यम से डेंगू कैसे फैलता है एवं इससे कैसे बचाव करें की जानकारी दी गई । उनके द्वारा बताया गया कि डेंगू बुखार ऐडीज एजिप्टी मच्छर द्वारा फैलाया जाने वाला बुखार है, जोडेन नामक वायरस के कारण होता है।  
डेंगू, मलेरिया के लक्षण  
    डेंगू बुखार के लक्षण-संक्रमित मच्छर के काटने से 5-6 दिन बाद प्रगट होता है, इसमें तेज बुखार के साथ, सिर दर्द, ऑखों के पीछे दर्द, मॉसपेशियों में दर्द, घबराहट, उल्टी एवं चक्कर आना आदि लक्षण होते है, जबकि हेमोरेजिक डेंगू में शरीर पर चकत्ते आ जाते है, नाक, मसुडो आदि से खून का रिसाव भी शुरू हो जाता है ऐसे लक्षणों वाले व्यक्ति को तुरंत स्वास्थ्य केन्द्र ले जाना चाहिए। डेंगू से बचाव के लिऐ घर में एवं घर के आस-पास साफ पानी तीन चार दिन से ज्यादा जमा नही होने दे, विशेष तौर पर कूलर की टंकी एवंसीमेंट की टंकी, फ्रीज के पीछे जमा पानी एवं सकोरे, टूटे फूटे पात्रो मेजमा पानी समय- समय पर खाली कर दे एवं कुछ समय पश्चात ही पानी भरें। यदि किसी स्थान का जमा पानी खाली नही किया जा सकता तो उस स्थान पर जला हुआ तेल या मिट्टी का तेल या कोई भी अन्य तेल का छिडकाव किया जाकर मच्छरो की संख्या को नियंत्रित किया जा सकता है।
(64 days ago)
डाउनलोड करे क्रुतीदेव फोन्ट में.
डाउनलोड करे चाणक्य फोन्ट में.
पाठकों की पसंद

संग्रह
अगस्तसितम्बर 2021अक्तूबर
सोम.मंगल.बुध.गुरु.शुक्र.शनि.रवि.
303112345
6789101112
13141516171819
20212223242526
27282930123
45678910

© 2012 सर्वाधिकार सुरक्षित जनसम्पर्क विभाग भोपाल, मध्यप्रदेश             Best viewed in IE 7.0 and above with monitor resolution 1024x768.
Onder's Computer