समाचार
|| देवास सीएमएचओ डॉ.एम.पी शर्मा ने किरण पैथोलॉजी सेंटर का किया निरीक्षण,अनिमियतता को देखते बंद करने के दिये निर्देश || योग विषय बना विद्यार्थियों की पहली पसंद || कोरोना वैक्सीनेशन महाअभियान को जनता का अभियान बनाना है - मुख्यमंत्री श्री चौहान || आबकारी देवास की अवैध मदिरा के विरुद्ध लगातार कार्यवाही जारी || कलेक्टर श्री शुक्‍ला ने वैक्सीनेशन महा अभियान के संबंध में अधिकारियों की ली बैठक || अग्रणी बैंक योजना जिलास्‍तरीय परामर्शदात्री एवं समीक्षा समिति की बैठक कलेक्‍टर श्री शुक्‍ला की अध्‍यक्षता में आयोजित || देवास जिले में स्वास्थ्य कार्यकर्ता और वैक्सीनेशन टीम घर-घर जाकर कर लगा रहीं है वैक्‍सीन || जिले में 3 हजार 451 लोगों को लगाया गया कोविड- 19 का टीका || 465 किलोग्राम महुआ लाहन व 18 लीटर हाथ भट्टी मदिरा बरामद || डीएटीसीसी की बैठक 27 सितम्बर को
अन्य ख़बरें
नवीन राष्ट्रीय पशुधन मिशन के तहत् अनुदान पर हितग्राही मुर्गी एवं बकरी पालन तथा चारा विकास की योजना का लाभ लें
-
दतिया | 15-सितम्बर-2021
 
    संचालनालय पशुपालन एवं डेयरी विभाग मध्य प्रदेश भोपाल के द्वारा नावार्ड अन्तर्गत पशुपालन के क्षैत्र में नवीन राष्ट्रीय पशुधन  मिशन के अन्तर्गत वर्ष 2021-22 में मुर्गीपालन, बकरी पालन व चारा विकास की योजनाये प्रारम्भ की गई। योजनाओं में केपिटल कॉस्ट पर 50 प्रतिशत अनुदान की पात्रता है। योजना से लाभ लेने के लिये हितग्राहियों को ‘‘उद्यमी मित्र’’ पोर्टल पर ऑनलाईन आवेदन करना होगा।
    नवीन राष्ट्रीय पशुधन  मिशन के अन्तर्गत मुर्गीपालन के क्षेत्र में 1 ईकाई, बकरी पालन के क्षेत्र मे 1 ईकाई व चारा विकास के क्षेत्र में 1 ईकाई का लक्ष्य मध्य प्रदेश सरकार के पशुपालन एवं डेयरी विभाग द्वारा आवंटित किये गये। पशुपालन एवं डेयरी विभाग दतिया के उपसंचालक डॉ राकेश शर्मा ने बताया कि नवीन योजनाओं में मुर्गी पालन में एल.आई.टी. पेरेन्ट पक्षियों का फार्म हैचरी तथा मदर यूनिट की सयुक्त ईकाई हेतु लागत 34.73 लाख निर्धारित है जिसमें अधिकतम 25 लाख रूपये अनुदान की पात्रता होगी।
    नवीन योजना बकरी पालन के क्षैत्र में 500 बकरी व 25 बकरों की बकरी ईकाई की लागत 87.30 लाख रूपये निर्धारित है। जिसमें अधिकतम 50 लाख रूपये अनुदान की पात्रता होगी।नवीन योजना चारा विकास में सायलेज निर्माण हेतु ईकाई लागत 50 लाख व फॉडर ब्लॉक योजना हेतु लागत 85 लाख निर्धारित है जिसमें अधिकतम 50 लाख रूपये अनुदान की पात्रता होगी। योजना से लाभ लेने हेतु इच्छुक हितग्राही को आवेदन ऑन लाईन करना होगा। उक्त पोर्टल पर योजना की विस्तृत जानकारी व योजनाओं की विस्तृत प्राकक्लन रिपोर्ट व जानकारी प्राप्त की जा सकती है।
ऑनलाईन आवेदन इस प्रकार करें
   हितग्राही ‘‘उद्यमी मित्र’’ पोर्टल  पर राष्ट्रीय पशुधन की लिंक पर जाकर ऑनलाईन आवेदन पूर्ण करने पर चाहे गये आवश्यक दस्तावेज अपलोड करना होगा। यह आवेदन विभाग द्वारा परीक्षण उपरांत बैक को फारवर्ड किये जायेंगे। बैक द्वारा सभी दस्तावेज का परीक्षण उपरांत पात्र पाये जाने पर ऋण हेतु प्रकरण स्वीकृत करते हुये स्वीकृति आदेश भी जारी करेगा। बैक द्वारा स्वीकृति आदेश जारी किये जाने के पश्चात विभाग द्वारा ऐसे समस्त प्रकरणों की अभिस्वीकृति राज्य स्तरीय कार्यकारी समिति मे प्राप्त कर सभी प्रस्ताव अनुदान की स्वीकृति हेतु भारत सरकार का ऑनलाईन अग्रेषित करेगा। भारत सरकार द्वारा एस.एल.ई.सी. से स्वीकृति उक्त सभी प्रस्तावों पर नियमानुसार अनुदान राशि सीधे ऋण स्वीकृतकर्ता बैक को भेजेगी। भारत सरकार से अनुदान राशि प्राप्त होने पर बैंक द्वारा ऋण वितरण की कार्यवाही की जावेगी। हितग्राही को स्वीकृत अनुदान राशि का भुगतान 2 किश्तों में किया जाएगा। पहले ऋण का प्रथम किश्त प्राप्त होने पर तथा दूसरी परियोजना पूर्ण होन पर । यह अनुदान राशि बैक ऐंडड होगी
 
(10 days ago)
डाउनलोड करे क्रुतीदेव फोन्ट में.
डाउनलोड करे चाणक्य फोन्ट में.
पाठकों की पसंद

संग्रह
अगस्तसितम्बर 2021अक्तूबर
सोम.मंगल.बुध.गुरु.शुक्र.शनि.रवि.
303112345
6789101112
13141516171819
20212223242526
27282930123
45678910

© 2012 सर्वाधिकार सुरक्षित जनसम्पर्क विभाग भोपाल, मध्यप्रदेश             Best viewed in IE 7.0 and above with monitor resolution 1024x768.
Onder's Computer