समाचार
|| गाँव के विकास के लिए हर कदम आपके साथ : गृह मंत्री डॉ. मिश्रा || "घुमन्तू समुदाय वाचिक परम्पराएँ" विषय पर तीन दिवसीय संगोष्ठी 19 अक्टूबर से || प्रथम हॉकी इंडिया जूनियर बालक इंटर अकादमी नेशनल हॉकी चैंपियनशिप-2021 || स्व-सहायता समूह की महिलाओं में स्व-रोजगार के प्रति बढ़ता जुनून || राष्ट्रीय चैंपियनशिप में सैलिंग खिलाड़ियों ने 8 पदक जीते || मुख्यमंत्री श्री चौहान ने वरिष्ठ पत्रकार श्री चंद्रभान सक्सेना के निधन पर शोक व्यक्त किया || मुख्यमंत्री श्री चौहान ने नारियल का पौधा रोपा || राज्यपाल श्री पटेल ने हलाली डेम का किया भ्रमण || मतदाता जागरूकता हेतु स्वीप गतिविधियों का हो रहा आयोजन || लोकसभा उप निर्वाचन के लिए मतगणना 2 नवम्बर को सम्पन्न होगी
अन्य ख़बरें
सुशासन टीम अपने भ्रमण के दौरान आवेदकों से सम्पर्क कर, उनकी समस्याओं का निराकरण करें - कलेक्टर
जनसुनवाई में 42 आवेदकों की समस्या सुनी गई
आगर-मालवा | 21-सितम्बर-2021
    राज्य शासन के निर्देशानुसार मंगलवार से आगर-मालवा जिले में पुनः जनसुनवाई कार्यक्रम प्रारंभ किया गया। पहले दिन जनसुनवाई में 42 आवेदकों द्वारा अपना आवेदन संबंधित विभाग के स्टॉल पर देकर, अपनी समस्याओं से अवगत कराया गया।
    कलेक्टर अवधेश शर्मा ने जनसुनवाई के दौरान अधिकारियों को निर्देश दिए कि प्रति मंगलवार को प्राप्त जनसमस्याओं के आवेदनों को सर्वाेच्च प्राथमिकता देकर अगली जनसुनवाई से पूर्व सभी आवेदनों का निराकरण कर प्रतिवेदन प्रस्तुत करें। जनसुनवाई में प्राप्त एक-एक आवेदनों की रजिस्टर में इन्ट्री कर, समयसीमा में निराकरण की कार्यवाही करें। विभाग स्तर के मैदानी अमले को सक्रिय रखें तथा ग्राम स्तर की समस्याओं के निराकरण करने हेतु निर्देशित करें। उन्होंने निर्देश दिए कि विभागीय अधिकारी अपने विभाग से संबंधी आवेदनों की जानकारी सुशासन टीम के व्हाट्सअप ग्रुप में दें, ताकि अपने भ्रमण के दौरान टीम आवेदनों पर दिए गए मोबाईल नम्बर से आवेदकों से सम्पर्क कर मौके पर शिकायतों का निराकरण कर सकें। टीम के सदस्य व्यक्तिगत रूचि लेकर शिकायतों को निराकरण में अपनी महत्ती भूमिका निभाएं, संबंधित हितग्राही, विभाग से समन्वय कर अधिक से अधिक शिकायतों का निराकरण करें।
जनसुनवाई में
    जनसुनवाई में आवेदक कृषक राजाराम गुर्जर ने खाता नम्बर में दर्ज हुई त्रुटि में संशोधन करवाने हेतु आवेदन देकर बताया कि प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि की राशि हल्का पटवारी द्वारा गलत खाता नम्बर दर्ज करने से राशि किसी अन्य किसान के खाते मेंजमा हो गई है। आवेदक ने बताया कि सम्मान निधि में पंजीयन हेतु पटवारी को पासबुक एवं आधारकार्ड के प्रतिलिपि दी गई थी। इसके बाद भी खाता नम्बर दर्ज करने में गलती की गई है। जिसका खामियाजा मुझ कृषक को भुगतना पड़ रहा है। पटवारी से खाता नम्बरों में संशोधन करवाया जाए तथा अन्य कृषक के खाते में जमा राशि पुनः संशोधित खाते में जमा करवाएं।
बंद रास्ता खुलवाएं
आवेदक रमेश पिता देवीलाल निवासी हिरणखेड़ी का खेड़ा ने आवेदन देकर बताया कि गांव में स्थित पट्टे की भूमि, जो पत्नी के नाम से है, पर अनावेदकों ने आने-जाने का रास्ता रोक दिया है। सोयाबीन फसल की बुआई भूमि पर की गई है, जो वर्तमान में तैयार है। किन्तु रोके गए रास्ते की वजह भूमि पर आना-जाना बंद हैं। जिससे कटाई ना होने की वजह से सोयाबीन फसल खराब हो रही है। अनावेदक रास्ता खोलने की बात पर विवाद कर रहे है। रास्ता खुलवाएं।
आर्थिक सहायता दिलवाई जाए
ग्राम भैंसोदा निवासी आवेदिका कलाबाई ने आवेदन देकर बताया कि पति किशनलाल की मृत्यु मोटर साईकिल दुर्घटना हो गई है। परिवार का भरण पोषण पति द्वारा मेहनत-मजदूरी कर किया जाता था। पति के मृत्यु के बाद से भरण-पोषण का संकट परिवार के सामने खड़ा हो गया है। घर में दूसरा कोई कमाने वाला नहीं होने से आर्थिक समस्याएं हो रही है। आर्थिक सहायता प्रदान की जाए।
बीपीएल राशन कार्ड चालू करवाएं
आवेदक अन्तरसिंह पिता भागीरथ निवासी पानखेड़ी ने आवेदन दिया कि बीपीएल राशन कार्ड बंद हो जाने से शासकीय उचित मूल्य दुकान से राशन प्राप्त नहीं हो रहा है। आवेदक ने  बताया कि वह पिछले पांच वर्षो से राशन प्राप्त कर रहा है, किन्तु अब एक वर्ष से राशन नहीं मिल रहा है। राशन कार्ड चालू करवाएं, ताकि खाद्यान्न उपलब्ध हो सकें।
बांध में जलभराव से डूब में गई भूमि का मुआवजा दिलाएं
आवेदक रतनलाल निवासी सेमली तहसील आगर ने डूब क्षेत्र की भूमि का मुआवजा दिलाने हेतु आवेदन देकर बताया कि ग्राम स्थित भूमि सर्वे नम्बर 201 रकबा 0.46 हैक्टेयर में से 0.32 हैक्टेयर भूमि सेमली बाँध में डूबक्षेत्र में जिसका भू-अर्जन कर लिया गया है तथा मुआवजा राशि भी मिल चुकी है। किन्तु उक्त सर्वे नम्बर में डूब से बची शेष भूमि 0.14 हैक्टेयर भी बांध के पानी भरने से जलमग्न हो गई है। जिस पर सोयाबीन की फसल बोई गई थी। भूमि पर कुआं है तथा संतरे के पौधें लगा रखे है। जो सभी डूब में गए है। बांध के पानी में जलमग्न हुई भूमि का मुआवजा दिलाया जाए।
 
(26 days ago)
डाउनलोड करे क्रुतीदेव फोन्ट में.
डाउनलोड करे चाणक्य फोन्ट में.
पाठकों की पसंद

संग्रह
सितम्बरअक्तूबर 2021नवम्बर
सोम.मंगल.बुध.गुरु.शुक्र.शनि.रवि.
27282930123
45678910
11121314151617
18192021222324
25262728293031
1234567

© 2012 सर्वाधिकार सुरक्षित जनसम्पर्क विभाग भोपाल, मध्यप्रदेश             Best viewed in IE 7.0 and above with monitor resolution 1024x768.
Onder's Computer