समाचार
|| दीपावली के पूर्व 2.51 लाख आवासहीन परिवारों को मिलेगी अपने आवास की सौगात || किसान संतुलित उर्वरक का उपयोग करें || शुद्धिकरण पखवाड़ा संबंधी बैठक 16 अक्टूबर को || भव्य आतिशबाजी के साथ हुआ रावण दहन || पुलिस लाईन में कलेक्टर एवं पुलिस अधीक्षक ने किया शस्त्र पूजन || अतिथि व्याख्याताओं के चयन हेतु 18 तक आवेदन आमंत्रित || कलेक्टर-एसपी ने देर रात शहर का भ्रमण कर लिया व्यवस्थाओं का जायजा || बरम खेड़ी के मूक बधिर छात्रावास का संचालन सोसायटी स्वयं के खर्च पर करने की इजाजत || शिविर में लैंगिक समानता,कन्या भ्रूण हत्या के बारे में लोगो को दी गई जानकारी || बाढ़ आपदा प्रबंधन के कार्य में कर्मचारियों की लगाई गई ड्यूटी से किया गया भार मुक्त
अन्य ख़बरें
प्रत्येक कचरा गाडी की निगरानी करता है आईसीसीसी
कोई कचरा गाडी फेल होती है तो दूसरी गाडी भेजी जाती है, गणमान्य नागरिकों, शिक्षकों और विद्यार्थियों ने देखी आईसीसीसी की कार्यपद्धति, आजादी का अमृत महोत्सव के तहत आयोजित किए गए कार्यक्रम
सागर | 29-सितम्बर-2021
  सागर स्मार्ट सिटी लिमिटेड द्वारा स्थापित किया गया इंटीग्रेटेड कमांड एंड कंट्रोल सेंटर (आईसीसीसी) सागर के विभिन्न प्रशासनिक विभागों की सेवाओं को एक प्लेटफार्म से जोडकर मॉनीटरिंग एवं कंट्रोल का काम कर रहा है। शहर में इंटेलीजेंट ट्रैफिक मैनेजमेंट सिस्टम (आईटीएमएस) वाहन चालकों पर नजर रखता है। सॉलिड वेस्ट मैनेजमेंट सर्विसेज, डायल 108, ई-पालिका, सीएम हेल्पलाइन, पब्लिक टॉयलेट फीडबैक, सेफ सिटी कैमरा सर्विलांस जैसी अन्य सुविधाओं की मॉनीटरिंग भी आईसीसीसी से की जा रही है।
   आईसीसीसी की कार्य पद्धति और नागरिकों को इससे होने वाले फायदे बुधवार को विभिन्न लोगों ने जाने। दरअसल, आजादी का अमृत महोत्सव के तहत बुधवार को शहर के गणमान्य नागरिक, साहित्यकार, समाजसेवी, डॉक्टर्स, शिक्षक, पॉलिटेक्निक कॉलेज के स्टाफ आदि को आईसीसीसी का विजिट कराया गया और उन्हें बताया गया कि आईसीसीसी किस तरह काम कर रहा है।
   कार्यक्रम के दौरान बताया गया कि डोर टू डोर कचरा कलेक्शन करने वाली सभी 48 गाडियों और सात डंपिंग ट्रकों की रियल टाइम ट्रैकिंग जीपीएस, जीआईएस और जीएसएम तकनीक पर आधारित सिस्टम से की जाती है। कचरा गाडी या ट्रक की दुर्घटना, ब्रेकडाउन या लंबे समय तक निष्क्रिय रहने पर त्वरित प्रतिक्रिया की जाती है। यदि कोई कचरा गाडी फेल होती है तो उसके आसपास मौजूद पांच गाडियों को एक-एक घंटे के लिए उसके रूट पर लगाकर कचरा कलेक्शन कराया जाता है। इसके बाद आईटीएमएस के संबंध में बताया गया कि शहर के पांच एंट्री-एग्जिट प्वाइंट और 19 प्रमुख स्थानों पर कैमरों की नजर रहती है। ऑटोमैटिक नंबर प्लेट रिकग्नीशन सिस्टम वाहन की नंबर प्लेट को रियल टाइम ट्रैक करने का काम करता है। इससे यातायात संबंधी लंबित अपराधों, चोरी हुए वाहन और नकली नंबर प्लेट जैसे मामलों की त्वरित जांच में मदद मिलती है। एडेप्टिव ट्रैफिक कंट्रोल सिस्टम से चौराहों की रियल टाइम निगरानी कंट्रोल रूम से की जाती है। यह सिस्टम स्वचालित रूप से एक लेन में वाहनों के घनत्व के आधार पर ट्रैफिक लाइट का प्रबंधन करता है। रेड लाइट वायलेशन डिटेक्शन सिस्टम लालबत्ती, स्टॉप लाइन उल्लंघन या गलत दिशा में वाहन मोडने आदि की घटनाओं को पकडता है। इससे ई-चालान जारी करने में मदद मिलती है।
   निर्भया सागर एप के संबंध में जानकारी दी गई कि महिलाओं की सुरक्षा को ध्यान में रखकर निर्भया सागर एप बनाया गया है। आपातकालीन स्थिति में इसका एसओएस बटन दबाने पर लोकेशन और मोबाइल के दोनों कैमरों से फोटो खिंचकर कंट्रोल रूम पहुंच जाती हैं। इसी आधार पर पुलिस द्वारा तुरंत मदद भेजी जाती है। इस एप में आप सुरक्षित और असुरक्षित इलाका भी देख सकते हैं।
गणमान्य नागरिकों से सीईओ ने लिए सुझाव
सागर स्मार्ट सिटी सीईओ श्री राहुल सिंह राजपूत ने शहर के गणमान्य नागरिक, साहित्यकार, समाजसेवी, सेवानिवृत्त अधिकारियों के साथ बैठक की और शहर में हो रहे विकास कार्यों के संबंध में उनसे सुझाव मांगे। इस दौरान श्यामलम कला संस्था के अध्यक्ष श्री उमाकांत मिश्र, साहित्यकार डॉ. शरद सिंह, समीक्षक डॉ. चंचला दवे, श्रीराम सेवा समिति के संचालक डॉ. विनोद तिवारी, पाठक मंच के संयोजक श्री राजकुमार तिवारी, समाजसेवी श्री उदय खैर, लोकगायक श्री शिवरतन यादव और साहित्यकार श्री रमेश दुबे उपस्थित थे। श्री उमाकांत मिश्र ने कहा कि शहर में बहुत सुंदर पार्क बन रहे हैं। इनमें वरिष्ठ नागरिकों की सुविधाओं को देखते हुए भी व्यवस्थाएं की जाएं। डॉ. चंचला दवे ने कहा कि वरिष्ठ नागरिक घूमने के दौरान थक जाते हैं इसलिए सडक किनारे बैठने की व्यवस्था भी होना चाहिए। सीईओ श्री राहुल सिंह राजपूत ने बताया कि एसआर-2 के किनारे कई स्थानों पर बैंच लगाई जाएंगी। पाथवे के किनारे हरियाली भी होगी।
(16 days ago)
डाउनलोड करे क्रुतीदेव फोन्ट में.
डाउनलोड करे चाणक्य फोन्ट में.
पाठकों की पसंद

संग्रह
सितम्बरअक्तूबर 2021नवम्बर
सोम.मंगल.बुध.गुरु.शुक्र.शनि.रवि.
27282930123
45678910
11121314151617
18192021222324
25262728293031
1234567

© 2012 सर्वाधिकार सुरक्षित जनसम्पर्क विभाग भोपाल, मध्यप्रदेश             Best viewed in IE 7.0 and above with monitor resolution 1024x768.
Onder's Computer