समाचार
|| शिक्षक छात्रों का ज्ञानवर्धन करने की दिशा में कदम उठावे - श्रीमती पटेल || बडे पैमाने पर जल संरचनाओं का निर्माण कर, जलस्तर को बढाने का प्रयास करें-श्रीमती चिटनिस || राज्यपाल श्रीमती आनंदीवेन पटेल ने सर्वा की देखी आंगनबाड़ी || स्वच्छता के लिए साधन नहीं सोच आवश्यक "सफलता की कहानी" || डेंगू, मलेरिया नियंत्रण के लिए अंतर्विभागीय कार्यशाला आयोजित || समय सीमा वाले प्रकरणों की समीक्षा बैठक आयोजित || वीरांगना लक्ष्मीबाई बलिदान मेला || ललिता बाई का सहारा बनी ‘‘संबल‘‘ योजना "सफलता की कहानी" || ‘‘मुख्यमंत्री बकाया बिजली बिल माफी योजना‘‘ 1 जुलाई से होगी लागू || क्रीड़ा परिसर खालवा में प्रवेश के लिए आवेदन 21 जून तक जमा करायें
अन्य ख़बरें
म.प्र. दीनदयाल राज्य ग्रामीण आजीविका मिशन, की प्रगति की समीक्षा
-
टीकमगढ़ | 11-जनवरी-2018
 
 
    जिला पंचायत टीकमगढ़ की मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्रीमती विदिशा मुखर्जी द्वारा बुधवार को म.प्र. दीनदयाल राज्य ग्रामीण आजीविका मिशन की प्रगति की समीक्षा की गई। समीक्षा के दौरान श्रीमती पार्वती मिश्रा अध्यक्ष नवज्योति महिला बहुउद्देशीय साख सहकारी समिति मर्या. ने कलस्टर लेवल फेडरेशन दिगौड़ा में संचालित अगरबत्ती निर्माण, चूडी निर्माण, साबुन निर्माण एवं बस्त्र निर्माण गतिविधियों की विस्तृत जानकारी प्रस्तुत की। श्रीमती ममता अहिरवार सदस्य जय बजरंग स्व-सहायता समूह के द्वारा अवगत कराया गया कि उनके समूह में महिलाओं द्वारा लगभग 45000/-रू. स्वयं के बचत की है। शासन से 140000/-रू आजीविका निधि के रूप में तथा आईसीआईसीआई बैंक से दो बार लगभग 200000/-रू., संद्य मित्रा माइक्रोफाइनेंस कम्पनी से 100000/-रू., मध्यांचल ग्रामीण बैंक कुण्डेश्वर से दो बार में 150000/-रू. की राशि ऋण के रूप में उपयोग की है। जिससे परिणाम स्वरूप समूह की 12 सदस्यों में से 5 सदस्य प्रतिवर्ष 100000/-रू. से अधिक की आय प्राप्त कर रहे है। स्व-सहायता समूह से आय सदस्यों द्वारा अपने-अपने समूह की जानकारी दी गई।
    तत्पश्चात् जिला परियोजना प्रबंधक श्री दिनेश शर्मा द्वारा अवगत कराया कि मिशन अन्तर्गत 6 विकासखण्डों में चयनित 450 ग्रामों में 58513 लक्षित परिवारों में से 53679 परिवारों को 4854 स्व-सहायता समूहों से जुड चुके है। जिले में 4854 स्व-सहायता समूहों के 413 ग्राम संगठन एवं 15 कलस्टर लेवल फेडरेशन बनाये गये है। स्व-सहायता समूहों से जुडे परिवारों हेतु सूक्ष्म बीमा हेतु नारी शक्ति महिला समुदाय समिति का पंजीयन फर्म एवं सोशायटी में किया गया है। जिसमें प्रत्येक परिवार एक वर्ष हेतु 200/-रू. बीमा के रूप में जमा कराता है। जिससे परिवार में मृत्यु की घटना होने पर शीघ्र ग्राम स्तर पर 15000/-रू. की राशि संबंधित परिवार को उपलब्ध कराई जाती है। स्व-सहायता समूह के 779 सदस्य विकासखण्ड़ निवाड़ी एवं जतारा में मुर्गी उत्पादक सहकारी समिति के माध्यम से नियमित आजीविका अर्जित कर रहे है। स्व-सहायता समूह से जुडे परिवारों को आजीविका हेतु बैंकों से सीसीएल के माध्यम से राशि उपलब्ध कराई जा रही है।
     श्रीमती मुखर्जी द्वारा स्व-सहायता समूहों के उत्पादों का अवलोकन कर उत्पादकों की गुणवत्ता सुधारने की आवश्यकता एवं अन्य गैर कृषि गतिविधियों से जोड़ने के सुझाव दिये गये। उन्होंने आजीविका भवन, टेक होम राशन निर्माण, गुड़ मूंगफली चिक्की, साबुन निर्माण की गतिविधियों पर विस्तृत चर्चा की तथा प्रदेश और प्रदेश के बाहर समूह सदस्यों द्वारा किये जा रही आजीविका गतिविधियों का अध्ययन भ्रमण कर जिले में प्रारंभ करने का सुझाव दिया।
   मीटिंग में आजीविका मिशन से जिला एवं ब्लॉक के समस्त कर्मचारी तथा नव-ज्योति कलस्टर फेडरेशन से श्रीमति पार्वती मिश्रा, श्रीमति सुनीता, श्रीमति ब्रजेश, श्रीमति सरोज, श्रीमति परवीन खातून तथा आशा की किरण कलस्टर लेवल फेडरेशन से श्रीमति ममता अहिरवार, निवेदिता राजा पूजा कलस्टर लेवल फेडरेशन मवई से लली अहिरवार, उपस्थित रही।
 
(158 days ago)
डाउनलोड करे क्रुतीदेव फोन्ट में.
डाउनलोड करे चाणक्य फोन्ट में.
पाठकों की पसंद

संग्रह
मईजून 2018जुलाई
सोम.मंगल.बुध.गुरु.शुक्र.शनि.रवि.
28293031123
45678910
11121314151617
18192021222324
2526272829301
2345678

© 2012 सर्वाधिकार सुरक्षित जनसम्पर्क विभाग भोपाल, मध्यप्रदेश             Best viewed in IE 7.0 and above with monitor resolution 1024x768.
Onder's Computer