समाचार
|| राज्यपाल श्रीमती पटेल शाला पहुंची || समर्थन मूल्य पर गर्मी के मूंग खरीदने के लिये इन्दौर जिले में बनाये गये चार केन्द्र || प्रभारी मंत्री श्री मलैया ने विधानसभा क्षेत्र क्रमांक-5 में किया सघन भ्रमण || सरल बिजली बिल एवं बिल माफी स्कीम के प्रभावी क्रियान्वयन के लिए मास्टर ट्रेनर प्रशिक्षण देंगे || लोकतंत्र सेनानी संघ ने मुख्यमंत्री के प्रति व्यक्त किया आभार || संबल योजना से गरीबों के कल्याण का नया आदर्श स्थापित करेगा मध्यप्रदेश || एक दर्जन बीएलओ को कारण बताओ नोटिस जारी || मुख्यमंत्री ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग की संबल योजना की समीक्षा || वीरेन्द्र तिवारी उर्फ अमर नाथ तिवारी, एवं संजय कुमार अग्रहरी को किया गया जिला बदर || अशासकीय विद्यालयों में निःशुल्क प्रवेश हेतु ऑनलाइन आवेदन 23 जून तक
अन्य ख़बरें
"मीडिया पर सम्वाद" मुख्य वक्ता श्री हर्षवर्धन प्रकाश ने कहा सोशल मीडिया से दोस्ती करें, किंतु असली और नकली सूचना के अंतर को पहचानें
-
बड़वानी | 14-मार्च-2018
 
 
 
   सोशल मीडिया को मित्र मानें, न कि शत्रु। फेसबुक, ट्विटर, व्हाट्सएप जैसे सोशल मीडिया के माध्यमों का उपयोग करना सीखें। आज का युग तकनीकी का युग है, इससे अलग न रहें। इन पर आने वाली हर सूचना सही नहीं होती है। एक पत्रकार और सामान्य व्यक्ति में यही अंतर है कि वह कल्पना और सत्य में फर्क समझ सकता है। सोशल मीडिया पर आई किसी भी सूचना को पुष्टि किये बिना न तो अंतिम मानें और न ही उसे आगे प्रसारित करें। ये बातें जन सम्पर्क संचालनालय, मध्यप्रदेश शासन के निर्देशानुसार जिला जनसम्पर्क कार्यालय बड़वानी द्वारा आयोजित ‘मीडिया पर सम्वाद’ कार्यक्रम में मुख्य अतिथि और मुख्य वक्ता पीटीआई इन्दौर के ब्यूरो प्रभारी श्री हर्षवर्धन प्रकाश ने ‘सोशल मीडिया के प्रसार के बीच क्षेत्रीय पत्रकारिता की चुनौतियां’ विषय पर विचार व्यक्त करते हुए कहीं। सम्वाद कार्यशाला के आयोजन का समन्वय और संचालन शहीद भीमा नायक शासकीय स्नातकोत्तर महाविद्यालय, बड़वानी के स्वामी विवेकानंद कॅरियर मार्गदर्शन प्रकोष्ठ के कार्यकर्ताओं द्वारा किया गया। इस अवसर पर विशेष अतिथि के रूप में कृषक जगत, इन्दौर के निदेशक श्री सचिन बोंदरिया जी थे। आयोजन में जिले के प्रिंट और इलेक्ट्रॉनिक मीडिया के प्रतिनिधिगण सम्मिलित हुए और मीडिया तथा समाज से संबंधित महत्वपूर्ण मुद्दों पर विचार मंथन हुआ। विशेष अतिथि श्री सचिन बोन्दरिया जी ने घटते पेयजल के खतरे और जल संरक्षण विषय पर बोलते हुए कहा कि दुनिया में पीने का शुद्ध पानी आवश्यकता की तुलना में बहुत कम है और इसकी मांग निरंतर बढ़ती जा रही है। इज़राइल ने जल संरक्षण के क्षेत्र में जो कमाल किया है उसे  समझने और अपनाने की जरूरत है। उन्होंने जल संरक्षण के उपायों पर भी प्रकाश डाला। आयोजक जिला जन सम्पर्क अधिकारी स्वदेश सिलावट ने सम्वाद कार्यक्रम के उद्देश्य बताये।
सर्वप्रथम हुआ भावभीना स्वागत
    सर्वप्रथम अतिथियों एवं सहभागियों का भावभीना सम्मान तिलक, आरती, बेज और गुलाब के पुष्प से कॅरियर सेल के कार्यकर्ताओं भारती धार्वे, हेमलता भाबर, खुशाली मालवीय, ज्योति कुमावत, किरण वर्मा, प्रीति गुलवानिया, रितु बर्फा, राधिका शर्मा, सलोनी शर्मा, दिव्या नागोर ने किया। जनसम्पर्क अधिकारी स्वदेश सिलावट ने अतिथियों का परिचय सदन से करवाया और स्वागत भाषण दिया। कॅरियर काउंसलर डॉ. मधुसूदन चौबे ने सम्वाद की रूपरेखा प्रस्तुत की।
इन्होंने किये विचार व्यक्त
    सम्वाद के अंतर्गत सहभागी पत्रकारों ने विभिन्न विषयों पर सारगर्भित विचार व्यक्त किये। सर्वप्रथम सादिक अली मंसूरी ने ‘खोजी पत्रकारिता’ विषय पर कहा कि-समाज में बेटियों पर अत्याचार हो रहे हैं। समाज में सड़ांद उत्पन्न करने वाले वाकयों को समाज के सामने रखना पत्रकार का कर्तव्य है ताकि स्थितियां सुधर सके। उन्होंने अनेक घटनाओं का मार्मिक उल्लेख किया।
    श्री हेमन्त शर्मा ने ‘युवावर्ग का घटता मनोबल और बढ़ती आत्महत्याएं’ विषय पर कहा कि कभी हमारे देश का युवा समाज को दिशा देने वाला रहा है। आज युवा वर्ग में आत्महत्या की घटनाएं बढ़ रही हैं। यह पत्रकारों के लिए चुनौती की बात है। हमारे समाज में संयुक्त परिवारों की जगह छोटे परिवार अस्तित्व में आ रहे हैं। छोटे परिवार आत्महत्याओं को बढ़ावा दे रहे हैं। घर में बुजुर्ग हों तो वे अवसाद और चिंता के जाल से युवाओं को निकाल लें।
    डॉ. दिलीप माहेश्वरी ने ‘पत्रकारिता में शुद्ध भाषा के महत्व पर विचार व्यक्त करते हुए कहा कि भाषा आपके व्यक्तित्व का दर्पण है। पत्रकारिता में भाषा की बहुत बड़ी भूमिका है। भाषा न केवल शुद्ध हो, अपितु संतुलित और प्रासंगिक भी हो।
    श्री विवेक पाराशर ने ‘21 वीं सदी का सशक्त महिला वर्ग’ विषय पर बोलते हुए उदाहरणों के माध्यम से प्रमाणित किया कि महिला स्वतः सशक्त है। वह अनेक मामलों में पुरुषों से अधिक सामर्थ्यवान हैं। हमें बेटियों की अपेक्षा अपने बेटों को प्रशिक्षित करने की आवश्यकता है कि वे नारी वर्ग का सम्मान करे। महिला सशक्तिकरण और बेटी बचाओं जैसे अभियानों का पूर्णता से क्रियान्वयन आवश्यक है।
    श्री नवनीत रावल ने कहा कि केवल व्याख्यानों से स्थिति नहीं बदलेगी। अगर ठोस कदम न उठाये जाये तो व्याख्यान निरर्थक हैं। हम सभी ऐसी शपथ लें कि धरातल पर वास्तविक भूमिका निभा सकें।
    श्री राजेन्द्र देवराय ने कहा कि जीवन भर यही गलती करता रहा। धूल चेहरे पर थी और आईना साफ करता रहा। आज यह देखा जाता है कि दुर्घटना होने पर हम घायलों की सहायता करने की अपेक्षा वीडियो बनाने लगते हैं। करूणा विलुप्त होती जा रही है।
पीपीटी से बताई स्थिति
    कार्यक्रम में कॅरियर सेल के कार्यकर्ता अंतिम मौर्य द्वारा तैयार किये गये पीपीटी प्रस्तुत किये गये। जिनमें पर्यावरण, पेयजल, सोशल मीडिया, खोजी पत्रकारिता, आत्महत्या, महिला सशक्तिकरण, शुद्ध लेखन पर तस्वीरों के माध्यम से स्थिति दर्शाई गई। इस प्रयोग की सभी ने सराहना की।
प्रकृति की पूजा, प्रार्थना एवं प्रेरणा गीत का गायन
    कार्यक्रम में प्रकृति के प्रतीक पौधों को जल अर्पित कर उनका पूजन किया गया और यह कामना की गई कि अपने आसपास हरीतिमा युक्त परिवेश का निर्माण करेंगे। इतनी शक्ति हमें देना दाता और हम होंगे कामयाब गीतों के गायन से वातावरण का निर्माण किया गया।
ये हुए उपस्थित
    सम्वाद कार्यक्रम में जिले के पत्रकारगण घनश्याम राठौड़, राजेन्द्र देव राय, संजय वाघे, राम कुवादे, आर. आर. प्रिंस, श्याम राठौड़, सद्दाम हाशमी, मोहम्मद रफीक मंसूरी, अशोक बथमा, अश्विन पांचाल,लोकभानू नरगावे, भानूप्रताप पटेल, विजय यादव, डॉ. दिलीप माहेश्वरी, जितेंद्र भावसार, दिलीप शर्मा, मोहम्मद रफीक खान, हेमंत शर्मा, विवेक पाराशर, शिवपालसिंह सिसोदिया, नवनीत रावत, श्रीराम जाट, भूपेन्द्र सोनी, विजेंद्र सिंह परमार, रंकेश वैष्णव, सादिक अली, सचिन शर्मा, सचिन राठौड़, धर्मेन्द्र केवल, सागर जाट, राजमल मारू, राजा कुर्मी, वीर विक्रम, संतोष राठौड़, अशोक पंडित, नरेन्द्र काग, पंकज शुक्ला, विनय जोशी, प्रदीप पाण्डेय, नरेश रायक, अमजद खान, भगवती प्रसाद शिन्दे, मनोज मालवीय, रईस शेख,ओवश अहमद, महेश कुमावत, रणछोड़ जाट, आसिफ मेमन, इम्तियाज खान, अजयसिंह ठाकुर, राजेश राठौड़, वसीम सैयद, विरेंद्र वाशिन्दे, अजय यादव, प्रवीण सोनी एवं युवा विद्यार्थी रितु बर्फा, भारती धार्वे, खुशाली मालवीया, ज्याति कुमावत, दिव्या नागोर, मोनिका नागोर, किरण वर्मा, उमेश राठौड़, प्रीति गुलवानिया, राधिका शर्मा, अरविंद बमनके,  अदनान पठान, हेमलता भाभर, अंतिम मौर्य, संजय सोलंकी, राहुल मालवीय, सलोनी शर्मा, ग्यानारायण शर्मा, डॉ. राहुल यादव, मो. परवेज शेख आदि उपस्थित हुए।
कॅरियर सेल का हुआ सम्मान
    आयोजन व्यवस्था तथा कॅरियर सेल की गतिविधियों के संबंध में वक्ताओं ने सराहना की और कार्यक्रम में उपस्थित बीस कार्यकर्ताओं को किट भेंट करके सम्मानित किया गया।
    सम्वाद का संचालन प्रीति गुलवानिया, सलोनी शर्मा, अंतिम मौर्य, खुशाली मालवीय ने किया। आभार विजय यादव ने व्यक्त किया। अंत में ग्यानारायण शर्मा ने कॉशन देखकर राष्ट्रगान का गायन करवाया। जिला जनसम्पर्क कार्यालय बड़वानी के  एमएल डावर और भावना कुमरावत के विशेष सहयोग से आयोजन हुआ।
 
(96 days ago)
डाउनलोड करे क्रुतीदेव फोन्ट में.
डाउनलोड करे चाणक्य फोन्ट में.
पाठकों की पसंद

संग्रह
मईजून 2018जुलाई
सोम.मंगल.बुध.गुरु.शुक्र.शनि.रवि.
28293031123
45678910
11121314151617
18192021222324
2526272829301
2345678

© 2012 सर्वाधिकार सुरक्षित जनसम्पर्क विभाग भोपाल, मध्यप्रदेश             Best viewed in IE 7.0 and above with monitor resolution 1024x768.
Onder's Computer