समाचार
|| अटल जी के सम्मान में 7 दिवसीय राजकीय शोक घोषित || प्रदेश के 4 जिलों में सामान्य से अधिक, 37 में सामान्य वर्षा दर्ज || स्वतंत्रता आंदोलन पर राज्य संग्रहालय में प्रदर्शनी || रिटर्निंग ऑफिसर एवं सहायक रिटर्निंग ऑफिसर की 18 अगस्त को 5 केन्द्रों पर परीक्षा || कीट रोग नियंत्रण के लिये राज्य-स्तरीय कंट्रोल-रूम || प्रदेश में धूमधाम से मनाया गया 72वाँ स्वतंत्रता दिवस || पूर्व प्रधानमंत्री भारत रत्न श्री वाजपेयी के निधन से देश को हुई अपूरणीय क्षति || म.प्र नाबालिग से दुष्कर्म पर फांसी का प्रावधान करने वाला प्रथम राज्य -राज्यपाल || मुख्यमंत्री मेधावी विद्यार्थी योजना आय सीमा 8 लाख रुपये हुई || मुख्यमंत्री श्री चौहान ने रवाना किये भोपाल जिले के विकास यात्रा रथ
अन्य ख़बरें
मध्यप्रदेश में मंडला जिले से सर्वाधिक 71 बच्चे जेईई मेन्स में चयनित
कलेक्टर ने दी सभी चयनित छात्र-छात्राओं को दी शुभकामनाएं
मण्डला | 02-मई-2018
 
 
   मध्यप्रदेश में मंडला जिले से सर्वाधिक 71 बच्चे जेईई मेन्स में चयनित हुए आज कलेक्टर सूफिया फारूखी वली ने स्थानीय नवरत्न विद्यालय में जाकर जेईई मेन्स में जिले की विभिन्न शालाओं में अध्यनरत पास आऊट 71 छात्रों से भेंट कर सफलता के लिये शुभकामना देते हुये जेईई एडवांस की तैयारी के लिये आवश्यक जानकारी दी। जिसमें उन्होंने कहा कि सभी बच्चे पॉजीटिव सोच रखते हुये शांत मन से पेपर दें। सैल्फ स्टडी पर जोर देते हुये अधिकतम सिलेबस अधारित सम्पूर्ण तैयारी परीक्षा के पहले कम से कम दो-तीन रिवीजन करें। स्वास्थ्य के दृष्टिकोण से निर्देशित किया कि चूंकि अभी भीषण गर्मी का दौर जारी है जिसमें बीमार होने की पूरी संभावना है, इसलिए पर्याप्त शुद्ध पानी का उपयोग करते हुये ओआरएस साथ में रखें भोजन के साथ यथा संभव दही का प्रयोग करें, मोबाईल और सोशल मिडिया से दुरी बनाये रखें। सिलेबस पर ध्यान केन्द्रित करते हुये उन्होंने अर्जुन का उदाहरण देते हुये कहा जैसे अर्जुन को अपने लक्ष्य के रूप में सिर्फ पक्षी की ऑख नजर आ रही थी उसी तरह आप भी अपना ध्यान पूरी तरह पढ़ाई की ओर लगाएं। बच्चों से चर्चा के दौरान उन्होंने संस्था से उपलब्ध कराई जाने वाली सुविधाओं की जानकारी ली जिसमें शिक्षक नियमित कक्षाएं की जानकारी ली जिससे सभी बच्चे की गई व्यवस्थाओं से संतुष्ट पाये गये। चर्चा के दौरान उन्होंने कहा कि सभी बच्चों के पास दिमाग एक समान होता है लेकिन कुछ बच्चे बहुत आगे बढ़ जाते है और कुछ असफल हो जाते है ये सिर्फ आपके द्वारा की जाने वाली मेहनत का ही अंतर है क्योंकि जिनका न्यूरॉन स्ट्रांग होता है तो उनकी मेमोरी भी अच्छी रहती है। इसके लिये आप याद की गई चीजों को अधिकतम लिख-लिखकर प्रेक्टिस करें जिससे पेपर के 3 घंटे की अवधी में सम्पूर्ण प्रश्न पत्र को बिना छोड़े हल किया जा सके।
   आगे उन्होंने बच्चों के पेरेंट्स से भी जानकारी लेते हुये कहा कि आप भी इस अवधी में कम से कम मिले आवश्यकता पड़ने पर बच्चे आप से स्वयं मिलेगें। क्योंकि अगली तैयारी के लिये बच्चों के पास सिर्फ 20 दिन रह गये है, इन दिनों में बच्चे स्वयं अपने उज्जवल भविष्य संवारने के लिये कठिन परिश्रम कर रहे है। ऐसे में आपकी सिर्फ दुआएं ही उन्हें सफलता की ओर अग्रसर कर सकती है
   अंत में बच्चों से कहा की आवश्यकता पड़ने पर आप मुझ से व्यक्तिगत भी भेंटकर अपनी समस्याओं से अवगत करा सकते है। मेरा पूरा प्रयास होगा कि मै अधिकतम आपके काम आ सकूं।
 
(107 days ago)
डाउनलोड करे क्रुतीदेव फोन्ट में.
डाउनलोड करे चाणक्य फोन्ट में.
पाठकों की पसंद

संग्रह
जुलाईअगस्त 2018सितम्बर
सोम.मंगल.बुध.गुरु.शुक्र.शनि.रवि.
303112345
6789101112
13141516171819
20212223242526
272829303112
3456789

© 2012 सर्वाधिकार सुरक्षित जनसम्पर्क विभाग भोपाल, मध्यप्रदेश             Best viewed in IE 7.0 and above with monitor resolution 1024x768.
Onder's Computer