समाचार
|| पशुधन संजीवनी हेल्पलाइन टोल फ्री नंबर ‘‘1962’’ प्रारंभ || उड़द उपार्जन के लिए पंजीकृत कृषकों के उत्पाद का होगा भौतिक सत्यापन || सुपर-100 चयन परीक्षा एक जुलाई रविवार को || मध्यप्रदेश जैव प्रौद्योगिकी परिषद का विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी परिषद में विलय || किसान हित में ग्रामीण कृषि विस्तार अधिकारी अपनी हड़ताल वापस लें || राष्ट्रीय कृषि-मनरेगा समिति जुलाई माह तक प्रस्तुत करेगी कार्य-योजना || मुख्यमंत्री श्रमिक सेवा प्रसूति सहायता योजना का प्रभावी क्रियान्वयन करें- कलेक्टर || वीरांगना रानी दुर्गावती को श्रृद्धासुमन अर्पित करने 24 जून को समाधि स्थल आयेंगे मुख्यमंत्री || स्कूलों के विद्यार्थियों की दक्षता आकलन के लिये बेसलाइन टेस्ट 25 जून से || सुपर-100 चयन परीक्षा एक जुलाई रविवार को
अन्य ख़बरें
सरल बिजली बिल स्कीम में 88 लाख और बिल माफी स्कीम में 77 लाख हितग्राही होंगे लाभांवित
एक जुलाई 2018 से लागू से होगी स्कीम
आगर-मालवा | 06-जून-2018
 
   
   मुख्यमंत्री जन-कल्याण (संबल) योजना-2018 में पंजीकृत श्रमिकों को बिजली बिलों में राहत देने के लिये राज्य शासन ने सरल बिजली बिल स्कीम और मुख्यमंत्री बकाया बिजली बिल माफी स्कीम-2018 लागू करने का निर्णय लिया है। सरल बिजली बिल स्कीम में 88 लाख और मुख्यमंत्री बकाया बिजली बिल माफी स्कीम में 77 लाख हितग्राही लाभांवित होंगे। दोनों स्कीम एक जुलाई 2018 (बिल अगस्त-2018) से लागू होंगी।
   सरल बिजली बिल स्कीम : प्रमुख सचिव ऊर्जा श्री आई.पी.सी. केशरी ने जानकारी दी है कि इस स्कीम में संबल योजना-2018 में पंजीकृत श्रमिक पात्र होंगे। पात्र परिवारों को निःशुल्क विद्युत कनेक्शन की सुविधा होगी। पात्र उपभोक्ताओं को 200 रूपये से कम का बिजली बिल होने पर वास्तविक बिल का ही भुगतान करना होगा। बिल 200 रूपये से अधिक होने पर मासिक बिल मात्र 200 रूपये ही देना होगा। बिल की 200 रूपये से अधिक की राशि शासन द्वारा सब्सिडी के रूप में दी जायेगी। योजना में लगभग 88 लाख हितग्राही लाभान्वित होंगे। इनके बिल पर दी जाने वाली अनुमानित सब्सिडी एक हजार करोड़ रूपये है। यह सुविधा मुख्य रूप से ग्रामीण और शहरी क्षेत्र में अपने घर में बल्व, पंखा एवं टीवी चलाने के लिये दी जा रही है।
   मुख्यमंत्री बकाया बिजली बिल माफी स्कीम-2018 : इस स्कीम में मुख्यमंत्री जन-कल्याण (संबल) योजना-2018 में पंजीकृत श्रमिक एवं बीपीएल उपभोक्ता पात्र होंगे। स्कीम में 30 जून 2018 की स्थिति में पूर्ण मूल बकाया एवं सरचार्ज राशि माफ होगी। सरचार्ज की सम्पूर्ण राशि तथा मूल बकाया राशि का 50 प्रतिशत वितरण कम्पनियों द्वारा वहन किया जायेगा। मूल बकाया की शेष 50 प्रतिशत राशि, वितरण कम्पनियों को शासन द्वारा सब्सिडी के रूप में दी जायेगी। योजना में लाभांवित होने वाले 77 लाख हितग्राहियों को लगभग 1806 करोड़ रूपये की सब्सिडी की राशि दी जायेगी।
   प्रमुख सचिव श्री केशरी ने बताया कि श्रमिकों का दोनों स्कीम में पंजीयन कराने के लिये आगामी जुलाई माह में शिविर लगाये जायेंगे। ये शिविर सभी विद्युत वितरण केन्द्र और हाट-बाजार में लगाये जायेंगे। इस तरह से लगभग 1500 से 1800 स्थान पर शिविर लगाये जायेंगे, जिससे श्रमिकों का पंजीयन सुविधाजनक ढंग से हो सकेगा। पंजीयन के बाद ही हितग्राहियों को अगस्त माह के बिल से स्कीम का लाभ मिल सकेगा। इन शिविरों में किन्ही कारणों से पंजीयन नहीं करा सकने वाले उपभोक्ता विद्युत वितरण केन्द्रों में कभी-भी पंजीयन करा सकेंगे। स्कीम का लाभ पंजीयन के बाद ही मिलेगा।
(16 days ago)
डाउनलोड करे क्रुतीदेव फोन्ट में.
डाउनलोड करे चाणक्य फोन्ट में.
पाठकों की पसंद

संग्रह
मईजून 2018जुलाई
सोम.मंगल.बुध.गुरु.शुक्र.शनि.रवि.
28293031123
45678910
11121314151617
18192021222324
2526272829301
2345678

© 2012 सर्वाधिकार सुरक्षित जनसम्पर्क विभाग भोपाल, मध्यप्रदेश             Best viewed in IE 7.0 and above with monitor resolution 1024x768.
Onder's Computer