समाचार
|| जिले में धारा 144 प्रभावशील || पूर्व प्रधानमंत्री स्वर्गीय श्री अटल बिहारी वाजपेई को मौन रखकर दी गई श्रद्धांजलि || शासकीय सेवकों को सामूहिक रूप से कलेक्टर ने दिलाई सद्भावना शपथ || वर्षा की स्थिति || राजस्व अधिकारियों को नई भू-राजस्व संहिता के प्रावधानों का दिया गया प्रशिक्षण || दिव्यांग राधा ने बनाई अपनी अलग पहचान "सफलता की कहानी" || व्यक्ति तय करले तो कोई काम अंसभव नही ऐसा ही कर दिखाया रूबीना शाह ने "सफलता की कहानी" || मतदाता सूची में संशोधन एवं परिवर्द्धन का कार्य पूरी सजगता से करें बीएलओ-जिला निर्वाचन अधिकारी || जिले में जन सामान्य के स्वास्थ्य के हित और लोक शांति को बनाए रखने के लिए धारा 144 के तहत प्रतिबंधात्मक आदेश जारी || उर्दू पाण्डुलिपि और पुस्तकों के लिये 31 अगस्त तक आवेदन आमंत्रित
अन्य ख़बरें
जब एक बहन ने अपने भाई को कहा भैया जब घर मे शौचालय है तो बाहर शौच के लिए क्यों जाते हो "सफलता की कहानी"
-
अनुपपुर | 11-जून-2018
 
  
  समाज का सुधार घर से प्रारम्भ होता है। इस बात को हम जानते तो हैं पर ध्यान देना जरा मुश्किल होता है। घर मे अपनी बातों को समझाने मे सर्वप्रथम स्नेह के, सम्मान के, बंधन से बाहर निकलकर सदस्यो को यह समझाना पड़ता है कि बुराइयों को दूर करने की समझाइश देना अनुशासनहीनता नहीं वरन एक समझदार एवं जिम्मेदार नागरिक का दायित्व है। इन्ही मुश्किलों से बाहर निकलकर लीलावती ने दिया  अपने परिवार जनो को स्वच्छता का संदेश। कहानी है मुख्यमंत्री सामुदायिक नेतृत्व क्षमता विकास कार्यक्रम में बीएसडबल्यू तृतीय वर्ष मे अध्ययनरत छात्रा लीलावती सिंह की।जो कि कोतमा विकासखण्ड के ग्राम गोहेंड्रॉ की रहने वाली है। उक्त फोटोग्राफ मे दिख रहा यह पुरुष  रिश्ते मे उसका भाई है।
    लीलावती को यह जानकारी  थी कि उनके यहा शौचालय है।परंतु वह उसका उपयोग नही करते ।चूंकि दुनिया को बदलने से पहले अपने आसपास के लोगो और अपने परिवार को बदलना आवश्यक है। यही सोच इस छात्रा की है।और इसकी शुरुआत अपने घर से की व अपने भाई को खुले में शौच जाने से रोका।।एक बहन का अपने भाई को इस तरह से रोकना बड़ी बात है। अगर इसी तरह सभी प्रबुद्ध एवं जिम्मेदार नागरिक रिश्तो की परवाह किए बगैर अपने परिवार जनो को पड़ोसियों को सही रास्ता दिखलाने का कार्य करने लगे तो निः संदेह यह स्थल और भी सुंदर एवं स्वच्छ हो जाएगा लीलावती की इस पहल को सभी अधिकारियों ने सराहा है। कलेक्टर श्रीमती अनुग्रह पी एवं मुख्यकार्यपालन अधिकारी डॉ. सलोनी सिडाना ने कहा है जिले को खुले मे शौच से मुक्त करने के लिए ऐसी ही इच्छाशक्ति एवं समर्पण आवश्यक है। लीलावती सभी के लिए प्रेरणास्त्रोत हैं, मार्गदर्शक हैं।
(70 days ago)
डाउनलोड करे क्रुतीदेव फोन्ट में.
डाउनलोड करे चाणक्य फोन्ट में.
पाठकों की पसंद

संग्रह
जुलाईअगस्त 2018सितम्बर
सोम.मंगल.बुध.गुरु.शुक्र.शनि.रवि.
303112345
6789101112
13141516171819
20212223242526
272829303112
3456789

© 2012 सर्वाधिकार सुरक्षित जनसम्पर्क विभाग भोपाल, मध्यप्रदेश             Best viewed in IE 7.0 and above with monitor resolution 1024x768.
Onder's Computer