समाचार
|| भाप्रसे के 25 के अधिकारियों की नवीन पद-स्थापना || मध्यप्रदेश "पानी का अधिकार" कानून बनाने की पहल करने में अग्रणी || स्लम रिडेव्हलपमेंट पॉलिसी बनायी जायेगी - मंत्री श्री जयवर्द्धन सिंह || शिशु-मातृ मृत्यु दर पर नियंत्रण राज्य सरकार की प्राथमिकता - मंत्री श्री सिलावट || इंदौर-इच्छापुर-एदलाबाद (महाराष्ट्र) राष्ट्रीय राजमार्ग का कार्य शीघ्र शुरू करे-मंत्री श्री यादव || परिवहन मंत्री श्री गोविंद सिंह राजपूत ने की स्कूल-कॉलेज मालिक-प्रतिनिधियों से चर्चा || यात्री वाहनों के अनुज्ञा-पत्रों की समीक्षा और सुझाव के लिये समिति गठित || ग्राम पंचायतें बनायें पानी का बजट - ग्रामीण विकास मंत्री श्री पटेल || मध्यप्रदेश में अब घोषणा नहीं, काम करने वाली सरकार : मुख्यमंत्री श्री नाथ || प्रदेश में 26 जून को मनाया जाएगा अंतर्राष्ट्रीय नशा निवारण दिवस
अन्य ख़बरें
रेरा आवासीय क्षेत्र की सफलता की चाबी - श्री डिसा
रेरा अध्यक्ष श्री अन्टोनी डिसा द्वारा रेरा और उसके क्रियान्व्यन पर दो दिवसीय कार्यशाला का शुभारंभ
मन्दसौर | 11-जनवरी-2019
 
 
     रेरा प्राधिकरण के अध्यक्ष श्री अन्टोनी डिसा ने कहा है कि रेरा एक्ट जिन पक्षकारों को ध्यान में रखकर बनाया गया हैं। उन्हें इसके प्रति जागरूक किये बगैर एक्ट की मंशा पूरी नहीं हो सकती। यह एक ऐसा सामाजिक दायित्व है, जो जरूरतमदों के सपनों को पूरा करता हैं। इस कार्य में विधि-विशेषज्ञों की महत्वपूर्ण भूमिका है और उनकी सहभागिता भी आवश्यक हैं। श्री डिसा आज "रेरा और उसके क्रियान्व्यन तथा प्रभाव" पर रिनान्सा विधि विश्वविद्यालय इन्दौर में दो दिवसीय कार्यशाला का उद्घाटन कर रहे थे।
   श्री अन्टोनी डिसा ने कहा कि रेरा-एक्ट नागरिक केद्रित है परन्तु बिल्डरों के विरूद्ध नहीं है। उन्होंने कहा कि इससे जो बदलाव आएगा, उससे बिल्डरों को ज्यादा खरीदार मिलने के साथ ही बाजार में मांग बढ़ेगी। साथ ही खरीदार अपनी गाढ़ी कमाई से समय पर पंसदीदा आवास प्राप्त कर सकेंगे। श्री डिसा ने कहा कि रियल एस्टेट, भारतीय अर्थ-व्यवस्था में योगदान देने वाला दूसरा महत्वपूर्ण घटक है।
    रेरा अध्यक्ष श्री डिसा ने कहा कि रियल एस्टेट सेक्टर की सफलता के लिये इससे जुड़े सभी घटकों द्वारा रेरा के नियमों का पालन जरूरी हैं। श्री डिसा ने कहा कि रेरा एक्ट का लाभ आम लोगों को मिले, इसके लिये सभी प्रोजेक्ट का पंजीयन होना आवश्यक है। अभी तक रेरा प्राधिकरण में 2105 प्रोजेक्ट पंजीकृत हो चुके हैं। शेष बची अपूर्ण परियोजनाओं के पंजीयन के लिए प्राधिकरण दृढ़-संकल्पित हैं।
    उल्लेखनीय है कि प्राधिकरण द्वारा अपंजीकृत प्रोजेक्ट/ कालोनी की जानकारी देने वाले सूचनाकर्ताओं को पुरस्कृत करने के लिए पुरस्कार योजना भी लागू की गई हैं। योजना के अनुसार किसी भी सूचनाकर्ता द्वारा अपंजीकृत अपूर्ण परियोजना की जानकारी का वॉट्स अप संदेश, मोबाईल नंबर 8989880123 पर अथवा  RERA.REWARD@gmail.com पर मेल के माध्यम से भेजा जा सकता हैं।
    कार्यशाला को, रेरा के न्यायिक सदस्य श्री दिनेश कुमार नायक तथा तकनीकी सदस्य श्री अनिरूद्ध कपाले ने भी संबोधित किया। विश्वविद्यालय के कुलपति श्री स्वप्निल कोठारी ने अपने विचार रखें। कार्यशाला में रियल इस्टेट से जुडे़ सीए, इंजीनियर्स, आर्किटेक्ट सहित बड़ी सख्या में विधि विशेषज्ञों ने भाग लिया।
 
(164 days ago)
डाउनलोड करे क्रुतीदेव फोन्ट में.
डाउनलोड करे चाणक्य फोन्ट में.
पाठकों की पसंद

संग्रह
मईजून 2019जुलाई
सोम.मंगल.बुध.गुरु.शुक्र.शनि.रवि.
272829303112
3456789
10111213141516
17181920212223
24252627282930
1234567

© 2012 सर्वाधिकार सुरक्षित जनसम्पर्क विभाग भोपाल, मध्यप्रदेश             Best viewed in IE 7.0 and above with monitor resolution 1024x768.
Onder's Computer