समाचार
|| उत्कृष्ट सेवा कार्य के लिये "गुरूनानक" और "रहीम" राज्य सम्मान घोषित || हर पात्र किसान को मिले ऋण माफी योजना का लाभ || आत्मविश्वास और दृढ़निश्चय से लक्ष्य भेदना आसान- मंत्री श्री पटवारी || मंत्री श्री जयवर्द्धन सिंह ने देखी ओला-प्रभावित फसल || निर्माण कार्यो में राशि का दुरूपयोग करने वाले ठेकेदारों के विरूद्ध दर्ज हों अपराधिक प्रकरण || सड़क पर चलने वाले हर व्यक्ति की सुरक्षा जरूरी : स्पेशल डी.जी. श्री शर्मा || श्री विचित्र कुमार सिन्हा की स्मृति में पुरस्कार स्थापित करने की पहल की जायेगी || प्रदेश में धान का 21 लाख मी.टन रिकार्ड उपार्जन : मंत्री श्री तोमर || फसल ऋण माफी संबंधी कार्यक्रम तहसील स्तर पर होंगे || नई सरकार का एक और ऐतिहासिक फैसला
अन्य ख़बरें
निर्णय सुविधा के आधार पर नहीं, अंतर्मन की आवाज से बनेंगे मंगल ग्राम : कमिश्नर श्री दुबे
-
छतरपुर | 10-फरवरी-2019
 
  
    कमिश्नर श्री मनोहर दुबे ने मंगल ग्राम अवधारणा पर राज्य आनंद संस्थान के मास्टर ट्रेनर्स के साथ सागर में अपने आवास पर विचार विमर्श करते हुए कहा कि कोई भी व्यक्ति तभी पूर्णतः सुखी हो सकता है, जब वह अपने अंतर्मन की आवाज सुनकर जीवन में निर्णय लेकर व्यवहार करता है. पर आदमी अंतर्मन की बजाय सुविधा के आधार पर निर्णय कर रहा है और परिणाम स्वरूप व्यक्ति के खुद के जीवन में और समाज में तनाव के लक्षण दिख रहे हैं. व्यक्ति निरंतर अभ्यास के माध्यम से अंतर्मन की आवाज सुनकर निर्णय करने के लिए सक्षम बन सकता है. एक बार समाज में बहुसंख्यक व्यक्तियों में यह प्रवृत्ति बन जाने के बाद समाज के वातावरण में सकारात्मक परिवर्तन निश्चित रूप से आएगा, उपरोक्त धारणाओं को ध्यान में रखते हुए मंगल ग्राम की परिकल्पना को समाज के संपूर्ण विकास के लिए आकांक्षी नागरिकों के सहयोग से छतरपुर जिले के 11 ग्रामों में लागू किया जा रहा है।
    कमिश्नर श्री दुबे ने राज्य आनंद संस्थान के राज्य समन्वयक हिमांशु भारत, लखनलाल असाटी छतरपुर, रमेश कुमार व्यास दमोह, यूबीएस गौर सागर के साथ 11 फरवरी से छतरपुर जिले की देरी ग्राम से शुरू हो रहे मंगल ग्राम कार्यक्रम की अवधारणा पर विस्तार से चर्चा की और इसकी सफलता के लिए अपनी शुभकामनाएं भी दीं।
    उल्लेखनीय है कि छतरपुर जिले की 11 ग्राम पंचायतों को मंगल ग्राम परियोजना में शामिल किया जा रहा है और यह पूरा कार्यक्रम जनसहयोग से पूरा किया जाएगा, जिसमें छतरपुर विधायक आलोक चतुर्वेदी, डॉ. सुभाष चौबे, डा. राजेश अग्रवाल, डा. एमपीएन खरे, व्यवसाई राधेलाल असाटी आदि नागरिक मानस और आर्थिक सहयोग कर रहे हैं। मंगल ग्रामों में स्टेट मास्टर ट्रेनर प्रदीप महतों के साथ अल्पविराम से जुड़े छतरपुर जिले के आनंदम सहयोगी और आनंदक भी ग्रामीणों के साथ अल्पविराम में शामिल होंगे, जिनमें प्रदीप सेन, अनिल सोनी, योग गुरु रामकृपाल यादव, रिटायर्ड पीओ डूडा सुभाष अग्रवाल, रिटायर्ड जिला योजना अधिकारी एसके गुप्ता, रिटायर्ड एसएलआर आरबी वर्मा, रिटायर्ड ज्वाइंट कलेक्टर ओमप्रकाश सोनी, एडवोकेट संजय शर्मा, वरिष्ठ अध्यापक आरबी पटेल, प्रधानाध्यापक पवन बिरथरे, केएन सोमन, विपिन अवस्थी, अंजू अवस्थी, आशा असाटी, नीलम पांडे भी शामिल होंगे। राज्य आनंद संस्थान के स्टेट कोऑर्डिनेटर हिमांशु भारत और मास्टर ट्रेनर लखनलाल असाटी ने रविवार को गांधी आश्रम और प्रजापिता ब्रह्मकुमारी आश्रम पहुंचकर मंगल ग्राम की अवधारणा पर चर्चा की और सभी के सहयोग का आवाहन किया।
    प्रत्येक ग्राम पंचायत में सुबह 11 बजे अल्पविराम से मंगल ग्राम कार्यक्रम की शुरुआत होगी। 3 बजे गांव में मंगल संपर्क किया जाएगा और शाम 6 बजे से मंगल सभा होगी। दूसरे दिन सुबह 7 बजे से आत्मा पोषण का सत्र आयोजित होगा। पूरी टीम 10 बजे दूसरे गांव के लिए प्रस्थान कर जाएगी और वहां फिर 11 बजे से यही कार्यक्रम दोहराया जाएगा।   
(6 days ago)
डाउनलोड करे क्रुतीदेव फोन्ट में.
डाउनलोड करे चाणक्य फोन्ट में.
पाठकों की पसंद

संग्रह
जनवरीफरवरी 2019मार्च
सोम.मंगल.बुध.गुरु.शुक्र.शनि.रवि.
28293031123
45678910
11121314151617
18192021222324
25262728123
45678910

© 2012 सर्वाधिकार सुरक्षित जनसम्पर्क विभाग भोपाल, मध्यप्रदेश             Best viewed in IE 7.0 and above with monitor resolution 1024x768.
Onder's Computer