समाचार
|| स्वास्थ्य मंत्री श्री तुलसीराम सिलावट ने इंदौर में की समीक्षा || अलर्ट : "चमकी बुखार" सावधानी ही दूसरा उपचार है || 3 सौ 32 लोगों ने जन सुनवाई में कलेक्टर को सुनाई अपनी समस्याएं || राज्य एवं जिला स्तर पर कर्मचारियों के स्थानांतरण हेतु आन लाईन समय सारणी जारी || ग्राम पंचायतें बनायें पानी का बजट - ग्रामीण विकास मंत्री श्री पटेल || यात्री वाहनों के अनुज्ञा-पत्रों की समीक्षा और सुझाव के लिये समिति गठित || क्षमतावान युवा पीढ़ी को तैयार करना कोर्स का उद्देश्य - महिला बाल विकास मंत्री || अब 21 प्रकार की दिव्यांगतायें शामिल जिला मेडिकल बोर्ड बनायेगा दिव्यांगता प्रमाण-पत्र || सिविल सेवा प्रोत्साहन योजना से मिल रहे हैं अच्छे अवसर || श्री एम. सेलवेन्द्रन सचिव मुख्यमंत्री पदस्थ
अन्य ख़बरें
लोकसभा चुनाव की मतगणना आज होगी (लोकसभा निर्वाचन-2019)
जिला प्रशासन द्वारा शान्तिपूर्वक एवं पारदर्शी तरीके से मतगणना सम्पन्न कराने के लिये समस्त आवश्यक व्यवस्थाएं पूर्ण की गईं, कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी ने स्टेंडिंग कमेटी की बैठक में दी जानकारी
उज्जैन | 22-मई-2019
 
   लोकसभा निर्वाचन-2019 की मतगणना गुरूवार 23 मई को प्रात: 8 बजे से इन्दौर रोड स्थित शासकीय इंजीनियरिंग महाविद्यालय में की जायेगी। जिला प्रशासन ने शान्तिपूर्वक एवं पारदर्शी तरीके से मतगणना सम्पन्न कराने के उद्देश्य से आवश्यक व्यवस्थाएं पूर्ण कर ली हैं। कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी श्री शशांक मिश्र ने विभिन्न राजनैतिक दल के पदाधिकारियों एवं समस्त एआरओ आदि के साथ स्टेंडिंग कमेटी की बैठक लेकर आयोग के दिशा-निर्देशों की जानकारी दी। कलेक्टर ने राजनैतिक दलों के पदाधिकारियों को ईवीएम, वीवीपेट के लिये बनाये गये स्ट्रांगरूम और मतगणना के लिये जिला प्रशासन द्वारा की गई व्यवस्थाओं के सम्बन्ध में अवगत कराया।
संभागायुक्त एवं आईजी ने प्रशासनिक अधिकारियों के साथ
मतगणना स्थल का निरीक्षण किया
   मतगणना स्थल शासकीय इंजीनियरिंग महाविद्यालय का बुधवार 22 मई को संभागायुक्त श्री अजीत कुमार, आईजी श्री राकेश गुप्ता ने प्रशासनिक अधिकारियों के साथ भ्रमण कर की गई व्यवस्थाओं का जायजा लिया। उन्होंने सम्बन्धित अधिकारियों को मतगणना स्थल पर की गई व्यवस्थाओं के बारे में आवश्यक दिशा-निर्देश दिये। इस अवसर पर डीआईजी, कलेक्टर श्री शशांक मिश्र आदि अधिकारी उपस्थित थे।
जांच के बाद ही मतगणना स्थल में प्रवेश दिया जायेगा
   मतगणना स्थल पर सुरक्षा व्यवस्था के व्यापक इंतजाम किये गये हैं। सुरक्षा व्यवस्था के लिये मतगणना स्थल पर सुरक्षाकर्मी तैनात किये गये हैं। मतगणना स्थल पर आने वाले कर्मचारियों, मतगणना अभिकर्ताओं एवं मतगणना से सम्बन्धित अन्य व्यवस्थाओं के लिये नियुक्त किये गये समस्त व्यक्तियों को जांच के बाद ही मतगणना स्थल में प्रवेश दिया जायेगा।
गणना कक्ष में 3-3 कैमरे लगाये जायेंगे
    कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी श्री शशांक मिश्र ने स्टेंडिंग कमेटी की बैठक में अवगत कराया है कि मतगणना परिसर, स्ट्रांगरूम से मतगणना कक्ष तक ईवीएम मशीन के लाने-ले जाने वाले मार्ग एवं मतगणना कक्ष में सीसीटीवी कैमरे लगाये गये हैं। इनमें मतगणना कक्ष में 3-3 कैमरे, मशीनों के परिवहन मार्ग में कैमरे और मतगणना स्थल परिसर की निगरानी के लिये कैमरे लगाये गये हैं। मतगणना की वेब कास्टिंग नहीं की जायेगी। मतगणना स्थल पर वाईफाई का प्रयोग भी नहीं किया जायेगा।

मोबाइल एप से ले सकेंगे मतगणना की जानकारी
   भारत निर्वाचन आयोग द्वारा लोकसभा निर्वाचन की मतगणना के प्रत्येक चरण के परिणामों की जानकारी के लिये वोटर हैल्पलाइन मोबाइल एप तैयार किया गया है। इसे गूगल प्ले स्टोर से डाऊनलोड कर सकते हैं। साथ ही भारत निर्वाचन आयोग के सुविधा पोर्टल पर भी मतगणना की जानकारी दर्ज की जायेगी। इसके अतिरिक्त भारत निर्वाचन आयोग की वेब साइट www.result.eci.gov.in से भी परिणाम की जानकारी प्राप्त की जा सकेगी।
   बैठक में अवगत कराया गया कि मतगणना प्रक्रिया में प्रारूप 17ग भाग-2 की प्रतियां सभी गणना अभिकर्ताओं को देने हेतु निर्धारित फार्म में अभ्यर्थियों के नाम प्रारूप 7क में दिये क्रमानुसार प्रत्येक टेबल का परिणाम भरा जायेगा। जिन मतदान केन्द्रों पर एक से अधिक वीवीपेट का उपयोग किया गया है उसकी वीवीपेट की पेपर स्लिप की गणना पृथक-पृथक की जायेगी। आयोग के वर्तमान निर्देशों के अनुसार डाक मतपत्रों की गणना के लिये अधिकतम चार टेबल लगाई जायेगी। प्रत्येक राउंड में 500 डाक मतपत्र गणना हेतु दिये जायेंगे।
सबसे अधिक राउंड उज्जैन दक्षिण और सबसे कम राउंड तराना एवं बड़नगर में होंगे
   मतगणना राउंडवार की जायेगी। नागदा-खाचरौद के 265 मतदान केन्द्रों की 19 राउंड, महिदपुर के 256 मतदान केन्द्रों की 19 राउंड, तराना के 232 मतदान केन्द्रों की 17 राउंड, घट्टिया के 278 मतदान केन्द्रों की 20 राउंड, उज्जैन उत्तर के 260 मतदान केन्द्रों की 19 राउंड, उज्जैन दक्षिण के 291 मतदान केन्द्रों की 21 राउंड, बड़नगर के 232 मतदान केन्द्रों की 17 राउंड और आलोट जिला रतलाम के 252 मतदान केन्द्रों की 18 राउंड में मतगणना की जायेगी। प्रत्येक विधानसभा क्षेत्रों की मतगणना के लिये प्रत्येक गणना कक्षों में 14-14 टेबलें लगाई जायेंगी। आलोट विधानसभा क्षेत्र की गणना रतलाम में की जायेगी।
मतगणना केन्द्र पर मीडिया सेन्टर
   मतगणना केन्द्र पर मीडियाकर्मियों के लिये मीडिया सेन्टर बनाया गया है। मीडिया कक्ष में मीडिया को चक्रवार परिणामें से अवगत कराया जायेगा। मीडिया कक्ष में इंटरनेट, टेलीफोन, एलईडी टीवी आदि की व्यवस्था रहेगी। प्रवेश-पत्र प्राप्त मीडियाकर्मियों को ही मतगणना स्थल पर प्रवेश दिया जायेगा। मीडियाकर्मियों को छोटे-छोटे ग्रुप में मीडिया कक्ष से मतगणना कक्षों का भ्रमण कराया जायेगा। मतगणना कक्ष में केवल कैमरा ले जाने की अनुमति होगी। मीडिया सेन्टर से आगे मोबाइल ले जाने की अनुमति नहीं होगी। मीडिया सेन्टर में वाईफाई प्रतिबंधित है।
आज शुष्क दिवस रहेगा
   कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी श्री शशांक मिश्र ने मतगणना दिवस पर सम्पूर्ण जिले में शुष्क दिवस घोषित करने के आदेश जारी किये हैं। गुरुवार 23 मई को मतगणना दिवस पर सम्पूर्ण दिवस शुष्क दिवस रहेगा। इस अवधि में उज्जैन जिले की समस्त देशी मदिरा के फुटकर विक्रय केन्द्र, देशी मदिरा स्टोरेज, भांडागार तथा विदेशी मदिरा के सभी फुटकर विक्रय केन्द्र, लायसेंस, एफ.एल.-1, 2, 3 और 4 (क्लब बार लायसेंस), एफ.एल.-9 (मेसर्स महाकाल डिस्टलरी प्रा.लि. नरवर), वाईन आउट लेट और शासकीय विदेशी मदिरा भांडागार पूर्णत: बन्द रहेंगे और जिले में मदिरा के क्रय-विक्रय और परिवहन पर पूर्णत: निषेध रहेगा।
मतगणना स्थल पर प्रवेश के लिये प्रवेश-पत्र अनिवार्य
   मतगणना स्थल पर प्रवेश के लिये प्रत्येक मतगणनाकर्मी के पास सक्षम अधिकारी द्वारा जारी किया गया प्रवेश-पत्र होना अनिवार्य है। यह प्रवेश-पत्र मतगणनाकर्मी प्रदर्शित करेगा। मतगणनाकर्मी मतगणना स्थल पर मोबाइल, केलकुलेटर एवं अन्य कोई इलेक्ट्रॉनिक डिवाइस नहीं ले जा सकेगा। जिन अधिकारी-कर्मचारियों को ईटीपीबीएस की गणना के लिये ओटीपी प्राप्त करने हेतु अधिकृत किया गया है, उन्हीं अधिकारियों को मोबाइल ले जाने की अनुमति होगी, जिसे ओटीपी प्राप्त करने के पश्चात ऑब्जर्वर के पास जमा करना होगा।
निर्वाचन अभिकर्ताओं के बैठने के लिये क्रम निर्धारित
   बैठक में राजनैतिक दल के पदाधिकारियों को बताया गया कि मतगणना स्थल पर निर्वाचन अभिकर्ताओं के बैठने के लिये आयोग द्वारा क्रम निर्धारित किया गया है। सभी मतगणना अभिकर्ता मतगणना कक्ष में लगाई गई जाली के बाहर बैठेंगे। बैठने के क्रम में सर्वप्रथम मान्यता प्राप्त राष्ट्रीय राजनैतिक दलों के अभिकर्ता, इसके पश्चात राज्य के मान्यता प्राप्त राजनैतिक दल के अभिकर्ता, तत्पश्चात पंजीकृत गैर-मान्यता प्राप्त राजनैतिक दल के अभिकर्ता तथा अन्त में निर्दलीय उम्मीदवारों के अभिकर्ता बैठेंगे। प्रवेश के लिये सक्षम अधिकारी द्वारा जारी किया गया प्रवेश-पत्र होना अनिवार्य है। बिना प्रवेश-पत्र के मतगणना स्थल पर प्रवेश नहीं दिया जायेगा। मतगणना स्थल पर भी प्रकार की इलेक्ट्रॉनिक डिवाइस, मोबाइल, कैमरा, डिजिटल पेन कैमरा, केलकुलेटर आदि प्रतिबंधित रहेगा। मतगणना अभिकर्ता मतगणना कक्ष में अपनी टेबल को छोड़कर अन्य टेबलों पर नहीं जायेंगे।
स्ट्रांगरूम से गणना कक्ष तक मशीनों के परिवहन वाहकों के अलग-अलग ड्रेसकोड रहेंगे
    बैठक में बताया कि मतगणना स्थल पर विधानसभावार बनाये गये स्ट्रांगरूम से गणना कक्ष तक ईवीएम मशीनों के परिवहन वाहकों के अलग-अलग ड्रेसकोड रहेंगे, ताकि मालूम हो सके कि ईवीएम मशीन को किस ड्रेसकोड के वाहक गणना कक्ष तक ले जा रहे हैं।
   स्टेंडिंग कमेटी की बैठक में अपर कलेक्टर एवं निर्वाचन नोडल अधिकारी श्री ऋषव गुप्ता, एडीएम डॉ.आरपी तिवारी, जिला पंचायत सीईओ श्री नीलेश पारिख, समस्त विधानसभाओं के एआरओ, राजनैतिक दल के पदाधिकारीगण आदि उपस्थित थे।        
(34 days ago)
डाउनलोड करे क्रुतीदेव फोन्ट में.
डाउनलोड करे चाणक्य फोन्ट में.
पाठकों की पसंद

संग्रह
मईजून 2019जुलाई
सोम.मंगल.बुध.गुरु.शुक्र.शनि.रवि.
272829303112
3456789
10111213141516
17181920212223
24252627282930
1234567

© 2012 सर्वाधिकार सुरक्षित जनसम्पर्क विभाग भोपाल, मध्यप्रदेश             Best viewed in IE 7.0 and above with monitor resolution 1024x768.
Onder's Computer