समाचार
|| स्टॉप डैम, कपिलधारा इत्यादि से किसानों को सब्जी उत्पादन और तीन फसलें लेने में मिल रही मदद (कहानी सच्ची हैं) || 5 लाख 23 हजार श्रमिक वापस आए || ग्राम ककरधा कंटेनमेंट जोन में समस्त चिन्हित परिवारों को त्रिकटु चूर्ण का हुआ वितरण || एक करोड़ मीट्रिक टन से अधिक गेहूँ का ऐतिहासिक उपार्जन-मंत्री श्री राजपूत || ग्राम रसीलपुर के कोविड-19 मरीज के दो और संबंधियों की रिपोर्ट आई पॉजिटिव || दमोह जिले की तहसील तेंदूखेड़ा के ग्राम सर्रा के पहले कोविड-19 मरीज आज कोरोना से जिन्दगी की जंग जीत कर घर के लिए हुआ रवाना (कहानी सच्ची हैं) || प्रदेश के प्रवासी श्रमिकों के सर्वे, सत्यापन और पंजीयन का अभियान 27 मई से 3 जून तक || कलेक्टर्स जिले की बस्तियों में कोरोना नियंत्रण पर रखें नजर || किसानो से समर्थन मूल्य पर चना खरीदी 10 जून तक || किसानो से समर्थन मूल्य पर गेहूं एवं सरसो की खरीदी 31 मई तक
अन्य ख़बरें
कोरोना के मरीजों के उपचार के लिये प्रत्येक संभाग में एक अस्पताल चिन्हांकित
आइसोलेशन को पूरी प्राथमिकता दें आमजन, मुख्यमंत्री श्री चौहान द्वारा अधिकारियों को निर्देश
निवाड़ी | 27-मार्च-2020
    मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने गुरूवार को लोक स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण और चिकित्सा शिक्षा विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिये कि राज्य के प्रमुख मेडिकल कॉलेजों और अन्य निजी अस्पतालों को विशेष तौर पर कोरोना के नियंत्रण और उपचार के लिये अधिकृत कर आवश्यक व्यवस्थाएँ की जायें। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने आमजन से आग्रह किया है कि कोरोना से घबराने की बजाय सावधान रहकर आवश्यक उपायों को अपनाएं। उन्होंने अधिकारियों को रोग के नियंत्रण पर फोकस करने के निर्देश दिये। इस मौके पर बताया कि इंदौर, जबलपुर, ग्वालियर, सागर, रीवा और अन्य मेडिकल कॉलेज सहित उज्जैन स्थिति आरडीगार्डी चिकित्सा महाविद्यालय और भोपाल के कुछ बड़े निजी अस्पतालों में रोगियों के लिये सुविधाएँ बढ़ाई जा रही हैं। भोपाल मेमोरियल अस्पताल को भी दायित्व दिया जा रहा है।
परस्पर दूरी के नियम का पालन करें नागरिक
    मुख्यमंत्री श्री चौहान ने आम जनता द्वारा लॉकडाउन में दिये जा रहे सहयोग को सराहनीय बताते हुए अपेक्षा की कि परस्पर दूरी रखते हुए परिवार, मोहल्ले और नगर में रोग से बचाव को सुनिश्चित किया जा सकता है। उन्होंने कहा कि सावधानी के उपायों के अंतर्गत मास्क और सेनिटाइजर का उपयोग किया जा रहा है। मुख्यमंत्री ने कहा कि आमजन को इस संबंध में निरंतर सजग रहने की आवश्यकता है।
बढ़ाए जाएं वेंटिलेटर्स
    मुख्यमंत्री श्री चौहान ने निर्देश दिये कि राज्य में रोग नियंत्रण के पूर्ण प्रयासों के बाद भी यदि रोगी संख्या बढ़ती है, तो अस्पतालों में उसके अनुरूप वेंटिलेटर्स की व्यवस्था की जाए। बैठक में बताया गया कि वर्तमान में शासकीय और निजी क्षेत्रों में संचालित अस्पतालों में आवश्यक प्रबंध करते हुए नये वेंटिलेटर्स भी बुलवाये जा रहे हैं।
जिलों तक पहुँच रहे पीपीई किट्स
    मुख्यमंत्री श्री चौहान ने जिला स्तर पर भी अस्पतालों में रोग पर नियंत्रण और बचाव के लिये अपनाए जा रहे कार्यो की जानकारी ली। आयुक्त खाद्य एवं औषधि प्रशासन श्री फैज अहमद किदवई ने बताया कि आमजन के लिये 3 लेयर मास्क, पीपीई किट्स आदि का प्रबंध कर जिलों को आपूर्ति की जा रही है। इसके साथ ही, ग्राम स्तर तक इन्हें पहुँचाना भी सुनिश्चित किया जा रहा है।
    बैठक में मुख्य सचिव श्री इकबाल सिंह बैंस ने कोरोना वायरस पर नियंत्रण के लिये केन्द्र सरकार द्वारा जारी निर्देशों का पालन करने के संबंध में विभागों को कार्रवाई सुनिश्चित करने को कहा।
सक्रिय हैं अनेक विभाग
    बैठक में अधिकारियों ने इस रोग पर नियंत्रण के लिये किये जा रहे प्रयासों का विवरण दिया। प्रमुख सचिव लोक स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण श्रीमती पल्लवी जैन गोविल और प्रमुख सचिव चिकित्सा शिक्षा श्री संजय शुक्ला ने जिला अस्पतालों और चिकित्सा महाविद्यालयों में की गई उपचार व्यवस्थाओं की जानकारी दी। प्रमुख सचिव नगरीय प्रशासन श्री संजय दुबे ने रोग से प्रभावित व्यक्तियों के संबंध में विशेष पोस्टर द्वारा सूचना डिस्पले करने की व्यवस्था की जानकारी दी। श्री दुबे ने बताया कि प्रतिदिन रोग की स्थिति पर नजर रखते हुए लोगों से निरंतर अपील की जा रही है कि मेल-मुलाकात से बचें और आइसोलेशन पर ध्यान दें।
 
(59 days ago)
डाउनलोड करे क्रुतीदेव फोन्ट में.
डाउनलोड करे चाणक्य फोन्ट में.
पाठकों की पसंद

संग्रह
अप्रैलमई 2020जून
सोम.मंगल.बुध.गुरु.शुक्र.शनि.रवि.
27282930123
45678910
11121314151617
18192021222324
25262728293031
1234567

© 2012 सर्वाधिकार सुरक्षित जनसम्पर्क विभाग भोपाल, मध्यप्रदेश             Best viewed in IE 7.0 and above with monitor resolution 1024x768.
Onder's Computer