समाचार
|| ग्रामीण क्षेत्रों में 5 लाख 36 हजार से ज्यादा हैण्डपम्प चालू || श्रमिकों को लेकर अब तक 137 ट्रेन आईं मध्यप्रदेश || आत्मनिर्भर मध्यप्रदेश बनाने के लिये यथासंभव "लोकल" का प्रयोग करें || बिजली बिलों में राहत देना सरकार की संवेदनशीलता || लॉकडाउन खुलने का मतलब असावधानी नहीं मध्यप्रदेश में कोरोना संक्रमण की गति सबसे धीमी.डबलिंग रेट 31 दिन, रिकवरी रेट 63.4 || प्रदेश में 15 लाख 65 हजार तेन्दूपत्ता संग्रहित || अब तिवड़ा मिश्रित चना भी समर्थन मूल्य पर खरीदा जा सकेगा || वर्ष 2020 के खेल पुरस्कारों के लिए ऑनलाइन आवेदन आमंत्रित || किसान अब कृषि उपज का बाधा मुक्त व्यापार कर सकेंगे || मध्यप्रदेश वापस आये श्रमिकों का सर्वे अब 6 जून तक हो सकेगा
अन्य ख़बरें
किराना दुकान एवं मेडिकल पर आवश्यक वस्तु तथा दवाई की माँग अनुसार आपूर्ति तथा कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए सोशल डिस्टेंस के पालन करवाने जांच दल ने किया भ्रमण
-
आगर-मालवा | 10-अप्रैल-2020
    आपूर्ति विभाग, खाद्य सुरक्षा विभाग एवं नापतौल विभाग के संयुक्त जांच दल ने शुक्रवार को बडौद नगर के मदन लाल भंवर लाल विभोर ट्रेडर्स, किशनलाल चौथमल मनीष मेडिकल,  नवरत्न मेडिकल,  अमृत लाल कुंवर लाल इंडियन फार्मा,  आर बी सुपर मार्केट,  परिणय किराना आदि की जांच की गई। इस दौरान किराना दुकानों पर सभी दुकानों पर भाव सूची प्रदर्शित पायी गई। मेडिकल दुकानों पर आवश्यक दवाई, मॉस्क, सेनेटाइजर की रेट लिस्ट चस्पा नहीं होने पर उन्हें चस्पा के करने के निर्देश दिए गए। जरूरी वस्तुएं एमआरपी या इससे कम में ही विक्रय करने, पंक्तिबन्द कम से कम 1 मीटर की दूरी पर ही ग्राहकों को खड़े रहने, दुकान के काउंटर, गेट, रेलिंग पाइप को ग्राहकों से न छूने की अपील करने, पैसे के लेनदेन के बाद दुकानदारो से तब तक चेहरा, आंख, नाक, मुँह पर हाथ न लगने की अपील की है जब तक कि हाथ साबुन या सेनेटाइजर से साफ न कर लिए हो। दुकान में ग्राहक का प्रवेश पूर्णतः प्रतिबंधित करने के लिए  कांउटर के सामने रस्सी लगाने की सलाह दी गई।
   दल द्वारा दुकान मालिक एवं ग्राहकों के स्वस्थ को ध्यान में रखते हुए, परस्पर दूरी बनाये रखने  के निर्देश दिए।खाद्य सामग्री एवम दवाई की सप्लाई में आ रही समस्या की जानकारी दुकानदारों से ली गई, जिसमें आने वाली समस्या का निराकरण कराने प्रयास शासन स्तर पर किए जा रहे है। देश एवं प्रदेश में किसी भी सामग्री की कोई कमी नही है।आवश्यक सामग्री के परिवहन हेतु ट्रांसपोर्ट शुरू कराने के प्रयास जारी है। इसलिए सभी मेडिकल संचालक आवश्यक वस्तु मास्क एव सेनेटाइजर के भाव मे एकरूपता लाने के लिए इनकी रेट लिस्ट दुकान पर प्रदर्शित करे। अपने शहर के आवश्यकता अनुसार दैनिक जीवन की आवश्यक वस्तु की मांग एवम आपूर्ति में संतुलन के लिए किसी भी दुकान दार को सामग्री के परिवहन हेतु पास की आवश्यकता है तो जिले के अंदर परिवहन हेतु एसडीएम या तहसील कार्यालय एवं अन्तर जिले या राज्य में परिवहन हेतु अपर कलेक्टर कार्यालय से आवश्यक दस्तावेज के साथ आवेदन कर सकते है।
   जांच दल में  जिला आपूर्ति अधिकारी डी एस मुजाल्दे, खाद्य सुरक्षा अधिकारी के एल कुम्भकार, नापतौल विभाग से आशीष शर्मा शामिल रहे।
   जांच दल द्वारा इंडियन फार्मा मेडिकल संचालक को विभिन्न मास्क एवम सेनेटाइजर की रेट लिस्ट चस्पा करने मुनाफाखोरी न करने की चेतावनी दी। साथ ही आपूर्ति बनाये रखने, संकट के इस दौर में सेवा भाव से कम करे। राज्य में एस्म्मा कानून लागू है। सभी कारोबारी जनहित में मांग अनुसार आपूर्ति सप्लाई परिवहन विक्रय का कारोबार चालू रखे। आर बी सुपर मार्केट में बिना हाथ धोये या सेनेटाइज किये ग्राहकों के द्वारा ही सामग्री की छटाई करने सोशल डिस्टेंस का पालन नही पाये जाने से पंचनामा बनाया तथा परिसर बंद कराया गया। अब बिना मास्क के कोई भी दुकानदार दुकान संचालित न करे। स्वयं तथा कर्मचारी के लिए भी मास्क अनिवार्यता पहनने की व्यवस्था करे। अब ग्राहकों से मास्क नही तो सामान नही अभियान का आव्हान करे। मास्क चाहे कपड़े, गमछे, दुप्पटा, रुमाल का ही क्यों न हो। मुख्य  रूप से मुह एवं नाक ढंके हो। ग्राहकों से अनुरोध करे कि अपनी दुकान के काउंटर  रेलिंग पाइप   आदि को न छुये। न ही दुकानदार या कर्मचारी ग्राहक के थैले बैग को छुये। लिस्ट अनुसार सामग्री टब या कार्टून में निकालकर ग्राहक के झोले में गिनती करवा दे। अधिक सामग्री लेने वाले छोटे किराना व्यापारी या अधिक मात्रा में समान लेने या स्थायी ग्राहक से व्हाट्सएप्प के माध्यम से डिमांड लिस्ट लेकर होम डिलीवरी या भीड़ लगाने की बजाय अगले दिन आने का अनुरोध करे। नगद पैसे की गिनती के बाद हाथ साबुन से या सेनेटाइजर से साफ न कर लेने तक अपने चेहरे मुँह नाक आंखों पर न लगाये। जिनको वाहन के पास जारी हुए है, वे भी इन सब नियमो का पालन अनिवार्य रूप से करेंगे। खाद्य सामग्री ले पास प्राप्त वाहन मालिक गाड़ी में 2 से अधिक कर्मचारी न भेजे। खाद्य सामग्री के परिवहन वाले वाहन  किसी भी परिस्थिति में अपने वाहन में सवारी यात्री को न बैठाये।

 
(55 days ago)
डाउनलोड करे क्रुतीदेव फोन्ट में.
डाउनलोड करे चाणक्य फोन्ट में.
पाठकों की पसंद

संग्रह
मईजून 2020जुलाई
सोम.मंगल.बुध.गुरु.शुक्र.शनि.रवि.
25262728293031
1234567
891011121314
15161718192021
22232425262728
293012345

© 2012 सर्वाधिकार सुरक्षित जनसम्पर्क विभाग भोपाल, मध्यप्रदेश             Best viewed in IE 7.0 and above with monitor resolution 1024x768.
Onder's Computer