समाचार
|| होम क्वारंटीन किये गए व्यक्तियों को कलेक्टर ने सार्थक एप अनिवार्य रूप से डाउनलोड कराने के दिये निर्देश || कोरोना योद्धाओं की सुरक्षा हेतु जनता ने कलेक्टर को भेंट की पी पी ई किट || जिले में मानपुर तहसील में एक और कोरोना पाजिटिव मिला || कॉल सेंटर में प्राप्त 6 हजार से अधिक शिकायतों का हुआ निराकरण || गुरूवार को कोरोना की कुल 41 रिपोर्ट निगेटिव व 1 पॉजिटिव आईं || कोविड केयर सेंटर में भर्ती मरीजों ने की अस्पताल की व्यवस्थाओं की सराहना || होम क्वारेन्टाइन का उल्लंघन करने वालों पर होगा दो हजार रूपये का जुर्माना || कोरोना से स्वस्थ होने पर आज  दो व्यक्तियों को किया गया डिस्चार्ज || सराफा और नया मोहल्ला कन्टेनमेंट जोन से मुक्त || जिला दण्डाधिकारी ने पीपुल्स मेडिकल कालेज को नोटिस जारी किया
अन्य ख़बरें
कुटीर एवं ग्रामोद्योग इकाईयाँ रोजगार बढ़ाने में मददगार
मध्यप्रदेश खादी बोर्ड के संचालक मंडल की 64वीं बैठक में : प्रमुख सचिव श्री अनिरूद्ध मुकर्जी
कटनी | 23-मई-2020
 
   
    मध्यप्रदेश खादी तथा ग्रामोद्योग बोर्ड के संचालक मंडल की 64वीं बैठक में स्फूर्ति तथा के.आर.डी.पी.योजना के ग्वालियर, मंदसौर, बैतूल आदि जिलों में प्रभावी क्रियान्वयन पर चर्चा की गई। बैठक की अध्यक्षता करते हुए प्रमुख सचिव, कुटीर एवं ग्रामोद्योग श्री अनिरूद्ध मुकर्जी ने कहा कि कुटीर एवं ग्रामोद्योग गतिविधियों का विस्तार प्रदेश में रोजगार के संसाधन बढ़ाने में मददगार साबित होगा। उन्होंने कहा कि प्रदेश में खादी एवं ग्रामोद्योग की अधिकाधिक इकाईयाँ लगाने की आवश्यकता है।

    प्रमुख सचिव ने बताया कि मध्यप्रदेश खादी तथा ग्रामोद्योग बोर्ड द्वारा ग्वालियर और मंदसौर में कम्बल केन्द्रों के लिये स्फूर्ति योजना के अन्तर्गत रुपये 252 लाख का प्रस्ताव शीघ्र खादी ग्रामोद्योग आयोग को भेजा जायेगा। इसी तरह के.आर.डी.पी. योजना के अन्तर्गत बैतूल के घाटबिरोली में खादी उत्पादन केन्द्र के लिये रुपये 105 लाख का प्रस्ताव भेजा जायेगा। उल्लेखनीय है कि स्फूर्ति योजना में प्रस्तुत किए गये प्रस्ताव की कुल लागत का 90 प्रतिशत तथा के.आर.डी.पी. योजना में प्रस्तुत प्रस्ताव की लागत का शत-प्रतिशत भार खादी एवं ग्रामोद्योग आयोग द्वारा वहन किया जाता है।

    श्री मुकर्जी ने बोर्ड की 63वीं बैठक के पालन प्रतिवेदन की समीक्षा करते हुए कहा कि बोर्ड तथा केन्द्र एवं भंडारों के वार्षिक लेखों का कार्य समय-सीमा में पूर्ण करें। उन्होंने बोर्ड के अधिकारियों एवं कर्मचारियों की भविष्य निधि राशि को पी.एफ खाते में शीघ्र जमा करवाने के निर्देश दिए। श्री मुकर्जी ने कहा कि पी.पी.पी. मोड/फ्रेंचाइजी के आधार पर विक्रय केन्द्रों के संचालन का अनुबंध स्पष्ट होना चाहिए तथा इसमें बोर्ड के हितों का समुचित संरक्षण सुनिश्चित किया जाये।

    बैठक में प्रबंध संचालक, मध्यप्रदेश खादी तथा ग्रामोउद्योग बोर्ड श्री एम.एल.मीणा, आयुक्त हथकरघा श्री राजीव शर्मा, खादी तथा ग्रामोद्योग आयोग के स्टेट डायरेक्टर श्री प्रवीण कुमार, उप सचिव कुटीर एवं ग्रामोद्योग श्री पुरुषोत्तम शर्मा सहित खादी बोर्ड के अधिकारी उपस्थित थे।
(5 days ago)
डाउनलोड करे क्रुतीदेव फोन्ट में.
डाउनलोड करे चाणक्य फोन्ट में.
पाठकों की पसंद

संग्रह
अप्रैलमई 2020जून
सोम.मंगल.बुध.गुरु.शुक्र.शनि.रवि.
27282930123
45678910
11121314151617
18192021222324
25262728293031
1234567

© 2012 सर्वाधिकार सुरक्षित जनसम्पर्क विभाग भोपाल, मध्यप्रदेश             Best viewed in IE 7.0 and above with monitor resolution 1024x768.
Onder's Computer