समाचार
|| प्राथमिक स्वास्थ्य में पहला फीवर क्लीनिक सफलता की ओर || गंभीर कुपोषित बच्चों में कोरोना वायरस के संक्रमण के नियंत्रण एवं बचाव के दिशा-निर्देश जारी || नगरीय प्रशासन विभाग की वीसी 9 जुलाई को || पैरा-मेडिकल स्टाफ 24 घंटे वन स्टॉप सेंटर पर सेवाएँ देगें || गत सत्र के अतिथि विद्वान ही नए सत्र के लिए आमंत्रित होगें || पथ व्यवसाइयों के कल्याण के लिये योजना शुरू || 16 जुलाई से हर घर बनेगा विद्यालय || जिले में अब तक हुई 8.5 औसत वर्षा || गंभीर कुपोषित बच्चों में कोरोना वायरस के संक्रमण के नियंत्रण एवं बचाव के दिशा-निर्देश जारी || नवनियुक्त मंत्रियों को मंत्रालय में कक्ष आवंटित
अन्य ख़बरें
प्रवासी श्रमिकों को प्राथमिकता के साथ रोजगार मुहैया कराऍ- कमिश्नर
रेडी-टू-इट कार्यक्रम के तहत दिये जा रहे पोषण आहार की गुणवत्ता की सतत निगरानी रखें-कमिश्नर
शहडोल | 17-जून-2020
    कमिश्नर शहडोल संभाग श्री नरेश पाल ने प्रवासी श्रमिकों को सर्वोंच्च प्राथमिकता के साथ रोजगार मुहैया कराने के निर्देश अधिकारियों को दिए है। कमिश्नर ने अधिकारियों को निर्देशित करते हुए कहा है कि निर्माण विभागों के अधिकारी, कृषि विभाग, उद्यानिकी विभाग, लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग एवं अन्य विभागों के अधिकारी जहां श्रमिकों की आवश्यकता रहती है ऐसे संबंधित विभाग के अधिकारी प्रवासी मजदूरों की सूची जनपद पंचायतों से लेकर प्रवासी श्रमिकों के कौशल के अनुसार प्रवासी श्रमिकों केा रोजगार मुहैया कराऍ। कमिश्नर शहडोल संभाग श्री नरेश पाल ने आज पंचायत एवं ग्रामीण विकास एवं अन्य विभागीय अधिकारियों की संभाग स्तरीय समीक्षा बैठक में विभागीय अधिकारियों को निर्देशित कर रहे थे।  कमिश्नर ने निर्देश दिए कि कुशल प्रवासी श्रमिकों को ट्रेक्टर ड्राइवर, हार्वेंस्टिंग के संचालन, ट्रेक्टर रिपेयरिंग, बायोगैस टैंक बनाने के लिए मिस्त्री तैयार करने के लिए प्रवासी श्रमिकों को प्रशिक्षण दें तथा प्रशिक्षण के उपरांत कुशल प्रवासी श्रमिकों को कार्य भी मुहैया कराऍ। कमिश्नर ने प्रवासी श्रमिकों को वृक्षारोपण के लिए पौधे तैयार करने के कार्य में भी संलग्न किया जाए। बैठक में कमिश्नर ने आजीविका मिशन द्वारा शहडोल संभाग में प्रवासी श्रमिकों को स्वरोजगार से जोड़ने की कार्ययोजना पर चर्चा करते हुए कहा कि शहडोल संभाग के सभी जिलेां में प्रवासी श्रमिकों को चिन्हित कर उन्हें स्व-सहायता समूहों से जोड़ा जाए तथा प्रवासी श्रमिकों को स्वरोजगार मुहैया कराया जाए। कमिश्नर ने निर्देश दिए कि आजीविका मिशन प्रवासी श्रमिकों को स्व-सहायता समूहों से जोड़ने की कार्यवाही 30 जून 2020 तक पूर्ण करें तथा उन्हें स्व-रोजगार से जोड़े। कमिश्नर ने निर्देश दिए है कि शहडोल संभाग के सभी जिलों में रोजगार मेलों का आयोजन किया जाए तथा प्रवासी श्रमिकों को प्राथमिकता के साथ रोजगार से जोड़ा जाए। बैठक में कमिश्नर ने महिला एवं बाल विकास विभाग द्वारा संचालित योजनाओं की समीक्षा करते हुए कहा कि स्व-सहायता समूहो द्वारा ऑगनवाड़ी केन्द्रों के माध्यम से बच्चों को दिये जा रहे रेडी-टू-इट पोषण आहार उच्च गुणवत्ता का होना चाहिए। कमिश्नर ने निर्देश दिए कि  महिला एवं बाल विकास विभाग के मैदानी अधिकारी, कर्मचारी एवं जनपद पंचायतो के मुख्य कार्यपालन अधिकारी एवं अन्य अधिकारी समय-समय पर रेडी-टू-इट पोषण आहार का निरीक्षण करें। कमिश्नर ने निर्देशित करते हुए कहा कि रेडी-टू-इट के तहत दिया जा रहा पोषण आहार उच्च गुणवत्ता का होना चाहिए। कमिश्नर ने अधूरे ऑगनवाड़ी भवनों का निर्माण भी प्राथमिकता के साथ  पूर्ण करने के निर्देश अधिकारियों को दिए। बैठक में कमिश्नर  द्वारा साझा चूल्हा कार्यक्रम की भी समीक्षा की गई। बैठक में मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत श्री पार्थ जायसवाल, उपायुक्त राजस्व श्री दिलीप पाण्डेय, संयुक्त संचालक महिला एवं बाल विकास श्री बी.एल. प्रजापति, संयुक्त संचालक शिक्षा श्री सुखदेव मरावी सहित अन्य अधिकारी उपस्थित रहें।
 
(15 days ago)
डाउनलोड करे क्रुतीदेव फोन्ट में.
डाउनलोड करे चाणक्य फोन्ट में.
पाठकों की पसंद

संग्रह
जूनजुलाई 2020अगस्त
सोम.मंगल.बुध.गुरु.शुक्र.शनि.रवि.
293012345
6789101112
13141516171819
20212223242526
272829303112
3456789

© 2012 सर्वाधिकार सुरक्षित जनसम्पर्क विभाग भोपाल, मध्यप्रदेश             Best viewed in IE 7.0 and above with monitor resolution 1024x768.
Onder's Computer