समाचार
|| म.प्र. लोक सेवा एवं सुशासन के क्षेत्र में बढते कदम कार्यक्रम 25 जनवरी को || महिला सुरक्षा एवं महिला सशिक्तकरण के तहत ’’सम्मान’’ अभियान || निर्वाचन कार्यों में उल्लेखनीय कार्य पर उप जिला निर्वाचन अधिकारी श्रीमती लक्ष्मी गामड को निर्वाचन आयोग ने प्रशस्ति पत्र प्रदान किया || कोविड -19 का टीका पूर्ण रूप से सुरक्षित है, भयभीत अथवा डरे नहीं - डीटीओ डॉ. नरेन्द्र भयडिया || आयुष्मान भारत योजना के कार्ड बनाए जाने के कार्य में गति लाई जाए - कलेक्टर श्रीमती सुरभि गुप्ता || एसडीएम एवं तहसीलदार नियमित रूप से शा. उचित मूल्य दुकानों का निरीक्षण करें - कलेक्टर श्रीमती सुरभि गुप्ता || कलेक्टर श्रीमती सुरभि गुप्ता की अध्यक्षता में राजस्व अधिकारीगण की बैठक आयोजित हुई || नेताजी सुभाषचंद्र बोस की 125 वीं जन्म जयंती पराक्रम दिवस के रूप में मनाई गई || महिला “सम्मान” के तहत हुई जागरूकता प्रतियोगिता || सुभाष चन्द्र बोस जी की 124 वीं जयंती
अन्य ख़बरें
जिला विकास समन्वय एवं निगरानी समिति (दिशा) की बैठक संपन्न
जल जीवन मिशन के अन्तर्गत प्रत्येक ग्रामीण परिवार को उपलब्ध कराया जायेगा पेयजल - सांसद, प्रत्येक दुकान में डस्टबिन रखा जाना सुनिश्चित किया जाय
रीवा | 30-दिसम्बर-2020
    कलेक्ट्रेट के मोहन सभागार में सांसद श्री जनार्दन मिश्र ने कन्या पूजन कर जिला विकास समन्वय एवं निगरानी समिति (दिशा) की बैठक का शुभारंभ किया। उन्होंने बताया कि जल जीवन मिशन के अन्तर्गत नलजल योजनाओं के माध्यम से प्रत्येक ग्रामीण परिवार को पेयजल उपलब्ध कराया जायेगा। उन्होंने निर्देश दिये कि नलजल योजना के लिए उपयोग किये जा रहे पाइप लाइन उच्च गुणवत्ता के लगाये जाये। शत-प्रतिशत ग्रामीण परिवारों के घरों को नल कनेक्शन से जोड़ा जाय ताकि प्रत्येक परिवार को पेयजल उपलब्ध हो सके। बताया गया कि नलजल योजना का कार्य जनवरी माह से प्रारंभ कर दिया जायेगा। जल जीवन मिशन के अन्तर्गत प्रारंभिक रूप से 214 नलजल योजनाओं का कार्य प्रारंभ कर दिया गया है। रीवा में 44 हजार 155 कनेक्शन उपलब्ध कराये जाने हैं जबकि मऊगंज में 29 हजार 436 नल कनेक्शन जोड़े जायेंगे। अब तक 23 हजार 364 नल कनेक्शन दिये जा चुके हैं।
    सांसद श्री जनार्दन मिश्र द्वारा समीक्षा के दौरान बताया गया कि 113 ग्रामों में पेयजल उपलब्ध कराने के लिए रीवा-कदैला ग्रामीण समूह जल प्रदाय योजना प्रारंभ की गयी है योजना के अन्तर्गत इनटकबेल का निर्माण कर ग्रामों में पेयजल उपलब्ध कराया जायेगा। योजना के अन्तर्गत रीवा के 6 ग्राम रायपुर कर्चुलियान के 53 ग्राम, सिरमौर के 31 तथा गंगेव के 23 ग्रामों में पेयजल उपलब्ध कराया जायेगा। योजना के अन्तर्गत पाइप लाइन का कार्य प्रगति पर है। प्रधानमंत्री शहरी आवास योजना के प्रगति की समीक्षा के दौरान सांसद श्री मिश्र ने निर्देश दिये कि समस्त पात्र परिवारों को आवास का लाभ दिया जाय। नगरीय क्षेत्रों में आवास निर्माण के लिए किस्त जारी करने का कार्य द्रुतगति से किया जाय। बताया गया कि नगर पालिक निगम क्षेत्र में एएचपी घटक के अन्तर्गत 2240 ईडब्ल्यूएस भवन निर्माण की स्वीकृत प्राप्त हुई थी। इसमें से 1736 आवास का निर्माण कार्य प्रारंभ किया गया। अब तक 672 आवास पूर्ण हो गये हैं। हितग्राहियों को आवास आवंटित करने के लिए ऋण प्रकरण तैयार कर बैंकों में प्रेषित किये गये हैं। बीएलसी घटक के अन्तर्गत 4237 आवासों में 1598 आवास पूर्ण कर लिये गये हैं, 1129 हितग्राहियों को आवास निर्माण के लिए प्रथम किस्त का भुगतान कर दिया गया है तथा 258 हितग्राहियों की मैपिंग की जा रही है। बताया गया कि नगरीय निकायों  हनुमना में 604 आवासों में से 475, चाकघाट में 909 आवासों में से 433, गुढ़ में 1213 आवासों में से 333, गोविंदगढ़ में 940 आवासों में से 665, सेमरिया में 1631 आवासों में से 665, सिरमौर में 327 आवासों में से 297, मऊगंज में 2431 आवासों में से 28 आवासों का निर्माण पूर्ण किया गया है। मनगवां में 864 आवासों में से 475, त्योंथर में 1412 आवासों में से 626, बैकुण्ठपुर में 1025 आवासों में से 517 एवं नईगढ़ी में 1140 आवासों में से 440 आवासों का निर्माण पूर्ण कर लिया गया है। प्रधानमंत्री ग्रामीण आवास योजना के अन्तर्गत 16 हजार 334 आवासों में 9903 आवासों का निर्माण पूर्ण कर लिया गया है तथा वर्ष 2020-21 में 20299 आवासों में 15056 हितग्राहियों का पंजीयन किया गया है।
    सांसद श्री मिश्र ने स्वच्छ भारत मिशन योजना के प्रगति की समीक्षा के दौरान निर्देश दिये कि हमें अपने शहर एवं ग्रामों में स्वच्छता अपनाने के लिए आवश्यक है कि दुकानों के सामने अनिवार्य रूप से डस्टबिन रखवायें प्रत्येक दुकानदार को उनके दुकान के सामने डस्टबिन रखने हेतु बाध्य किया जाय। शहर सुंदर एवं स्वच्छ दिखे इसके लिए आवश्यक है कि कहीं भी गंदगी जमा न होने पाये। नागरिकों को भी स्वच्छता के लिए जागरूक किया जाय। उन्होंने कहा कि ग्रामीण क्षेत्रों में व्यक्तिगत एवं सामुदायिक शौचालयों में उपयोग को आदत में सुमार किया जाय। सुनिश्चित किया जाय कि ग्रामीण क्षेत्रों में लोग शौच के लिए बाहर न जाये। अभियान चलाकर शौचालयों की मरम्मत करायी जाय। मुद्रा योजना की समीक्षा के दौरान बताया गया कि शिशु में 9364 व्यक्तियों को 22 करोड़ 26 लाख, किशोर में 1039 हितग्राहियों को 22 करोड़ 70 लाख तथा तरूण में 281 हितग्राहियों को 17 करोड़ 71 लाख रूपये का ऋण वितरित किया गया है। प्रधानमंत्री पथ विक्रेता योजना के अन्तर्गत 2970 हितग्राहियों को ब्याज मुक्त ऋण उपलब्ध कराया गया है।
    बैठक में सिरमौर विधायक दिव्यराज सिंह, कलेक्टर इलैयाराजा टी, नगर पालिक परिषद के आयुक्त मृणाल मीणा, जिला पंचायत सीईओ स्वप्निल वानखेड़े, नगर पालिक निगम के अधीक्षण यंत्री शैलेन्द्र शुक्ला, संयुक्त कलेक्टर अंजलि द्विवेदी, विधायक प्रतिनिधि विवेक दुबे सहित जनप्रतिनिधि एवं अधिकारी उपस्थित थे।
 
(24 days ago)
डाउनलोड करे क्रुतीदेव फोन्ट में.
डाउनलोड करे चाणक्य फोन्ट में.
पाठकों की पसंद

संग्रह
दिसम्बरजनवरी 2021फरवरी
सोम.मंगल.बुध.गुरु.शुक्र.शनि.रवि.
28293031123
45678910
11121314151617
18192021222324
25262728293031
1234567

© 2012 सर्वाधिकार सुरक्षित जनसम्पर्क विभाग भोपाल, मध्यप्रदेश             Best viewed in IE 7.0 and above with monitor resolution 1024x768.
Onder's Computer