समाचार
|| 8 मार्च को होने वाली ग्राम सभा के एजेंडा बिंदु तय || आयुष्मान भारत योजना के प्रचार-प्रसार हेतु बाईक रैली आज || रबी उपार्जन के लिए किसानों के पंजीयन की अंतिम तिथि आज || जन्म-दिन सहित विभिन्न शुभ अवसरों पर पौधा लगायें || मुख्यमंत्री श्री चौहान ने खण्डवा की जल प्रदाय योजना की समीक्षा की || कोटवाडिया में जनसमस्या निवारण शिविर आज होगा || आशापुर की फॉरेस्ट डिपो का विस्तार होगा, फायर ब्रिगेड तैनात की जायेगी || प्रियांशु और मुस्कान को मिला छात्रवृत्ति योजना का लाभ "खुशियों की दास्तां" || कलेक्टर श्री सिंह द्वारा एक जिला एक उत्पाद योजना की प्रगति की समीक्षा || आयुष्मान कार्ड के निर्माण में शतप्रतिशत उपलब्धता के लिए 1 मार्च से 31 मार्च तक ‘‘आपके द्वार आयुष्मान‘‘ माह का आयोजन करने का निर्णय
अन्य ख़बरें
पैरा-मेडिकल शिक्षण कार्य के लिये पुनः कक्षाएँ शुरू करने के निर्देश
मंत्री श्री सारंग की अध्यक्षता में मध्यप्रदेश सह चिकित्सीय परिषद की बैठक सम्पन्न
दतिया | 05-जनवरी-2021
      चिकित्सा शिक्षा मंत्री श्री विश्वास कैलाश सारंग ने प्रदेश में सह-चिकित्सीय पाठ्यक्रमों का संचालन करने वाली संस्थाओं के लिये पैरा-मेडिकल पाठ्यक्रम के व्यावहारिक एवं प्रायोगिक प्रशिक्षण के मद्देनजर पैरा-मेडिकल शिक्षण कार्य पुनरू शुरू करने के निर्देश दिये। पैरा-मेडिकल शिक्षा में रोजगार को बढ़ावा देने के लिए मध्यप्रदेश-सह-चिकित्सीय परिषद द्वारा नए रोजगारोन्मुखी पाठ्यक्रम शुरू करने को भी कहा। श्री सारंग की अध्यक्षता में मंत्रालय में मध्यप्रदेश-सह-चिकित्सीय परिषद की 23वीं साधारण सभा की बैठक हुई।
    मंत्री श्री सारंग के निर्देश के परिपालन में परिषद कार्यालय द्वारा विभिन्न नये स्नातकोत्तर, स्नातक एवं डिप्लोमा पैरा-मेडिकल पाठ्यक्रम शुरू करने का प्रशासकीय अनुमोदन किया गया है। इसमें M-P-T- in Geriatrice, M-O-T- in Pediatrics, Diploma in PFt Technician और Bachelor in Respiratory Therapist पाठ्यक्रमों का परिषद स्तर से संचालन किया जायेगा। इसके अलावा एक वर्षीय पाठ्यक्रमों का संचालन करने के लिये निर्देशित किया गया।
   प्रदेश में निवासरतों की सुविधा एवं सुलभता को देखते हुए मध्यप्रदेश के मूल निवासी, जो कि पैरा-मेडिकल शिक्षा प्राप्त किये जाने के लिये अन्य प्रदेशों में अध्ययनरत हैं, ऐसे छात्रों का मध्यप्रदेश पैरा-मेडिकल कौंसिल में पंजीयन करने के लिये प्रक्रिया को और अधिक सरलता प्रदान करने के दृष्टिकोण से मंत्री श्री सारंग ने छात्रों का पंजीयन उनके द्वारा उपलब्ध दस्तावेजों का प्रथमतरू सत्यापन/पुष्टि के बाद करने के निर्देश दिये, जिससे कि पैरा-मेडिकल कर्मियों को प्रदेश में ही रोजगार मिल सके।
   मंत्री श्री सारंग द्वारा निर्देश दिया गया है कि परिषद कार्यालय के उपयोगार्थ मध्यप्रदेश गृह निर्माण एवं अधोसंरचना विकास मण्डल संभाग क्रमांक-3, बागमुगालिया भोपाल का पीएसपी भूखण्ड क्रमांक-2, एमराल्ड पार्क सिटी के पास बागसेवनिया, जिसका क्षेत्रफल 2871.30 वर्ग मीटर भोपाल पर चिकित्सा शिक्षा विभाग के अधीन संचालित मध्यप्रदेश सह-चिकित्सीय परिषद, मध्यप्रदेश नर्सेस रजिस्ट्रेशन कौंसिंल, मध्यप्रदेश आयुर्विज्ञान परिषद के एक भव्य भवन का निर्माण करवाया जाये। उक्त निर्माण कार्य करवाने के लिये सभी औपचारिकताएँ अतिशीघ्र पूरी की जायें।
   श्री सारंग ने प्रदेश के निजी क्षेत्र में स्थापित पैरा-मेडिकल संस्थाओं के भौतिक निरीक्षण के लिये एक उच्च-स्तरीय निरीक्षणकर्ताओं का पैनल तैयार करने के लिये निर्देशित किया। इसमें सेवानिवृत्त अधिकारी, जिला स्तर के प्रशासनिक अधिकारी एवं संस्था में संचालित विषयों के संबंधित शासकीय चिकित्सा महाविद्यालय के विषय-विशेषज्ञ शामिल किये जायें। संस्था के निरीक्षण के लिये एक ऑनलाइन प्रोग्राम विकसित कर उक्त टीम अनुसार आकस्मिक चयन कर निरीक्षण समिति गठित कर संस्था का निरीक्षण करवाया जाये।
    बैठक में आयुक्त श्री निशांत वरवड़े, संचालक डॉ. उल्का श्रीवास्तव और सदस्य सचिव डॉ. पूजा शुक्ला उपस्थित थीं।
 
(58 days ago)
डाउनलोड करे क्रुतीदेव फोन्ट में.
डाउनलोड करे चाणक्य फोन्ट में.
पाठकों की पसंद

संग्रह
फरवरीमार्च 2021अप्रैल
सोम.मंगल.बुध.गुरु.शुक्र.शनि.रवि.
22232425262728
1234567
891011121314
15161718192021
22232425262728
2930311234

© 2012 सर्वाधिकार सुरक्षित जनसम्पर्क विभाग भोपाल, मध्यप्रदेश             Best viewed in IE 7.0 and above with monitor resolution 1024x768.
Onder's Computer