समाचार
|| मंत्री श्री दत्तीगांव ने बदनावर में आयोजित ISO अवार्ड समारोह कार्यक्रम में थाना प्रभारी सीबी सिंह को किया बदनावर थाने का आईएसओ प्रमाण पत्र प्रदान || पेट फिएस्टा में श्वान मालिकों ने दिखाया जबरदस्त उत्साह || अखिल भारतीय पैराडाईज गोल्ड कप क्रिकेट टूर्नामेंट का 24 वां सौपान समापन समारोह कार्यक्रम संपन्न || अब सभी पेंशन प्रकरण ऑनलाइन तैयार होंगे, भुगतान में नहीं होगा विलंब || मध्यप्रदेश के प्रत्येक ज़िले में दो तालाबों को बनाएंगे मॉडल तालाब || कोरोना से स्वस्थ होने पर 15 व्यक्ति डिस्चार्ज || आत्म-निर्भर मध्यप्रदेश के लिये दो वृहद औद्योगिक इकाईयों को भूमि आवंटित || राष्ट्रीय कामगार आयोग के उपाध्यक्ष श्री बब्बन रावत ने नगर निगम और नगर पालिकाओं के अधिकारियों की ली बैठक || नि:शुल्क एवं अनिवार्य बाल शिक्षा का अधिकार अधिनियम के अंतर्गत फीस प्रतिपूर्ति के संबंध में तिथियां जारी || उपार्जन के बाद गेहूं और धान में आई कमी के लिए कलेक्टर ने दिये समितियों एवं परिवहनकर्ता से 61 लाख 44 हजार रुपये वसूलने के आदेश
अन्य ख़बरें
पात्र शासकीय सेवकों को शीघ्र दी जाए पदोन्नति - मुख्यमंत्री श्री चौहान
सिर्फ निर्देश जारी करना काफी नहीं, बताएं क्या कार्य हुआ, मुख्यमंत्री श्री चौहान ने सामान्य प्रशासन विभाग के कार्यों की समीक्षा की
ग्वालियर | 20-जनवरी-2021
   मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि प्रदेश के सभी विभागों के शासकीय कर्मचारियों को पात्रता अनुसार शीघ्र पदोन्नति दी जाए। इसके लिए सामान्य प्रशासन विभाग बिना विलंब के नियमानुसार सर्वसम्मत हल निकालकर कार्रवाई करे। अब इस कार्य में और अधिक विलंब नहीं होना चाहिए।
मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि विभागीय कार्यों एवं योजनाओं की प्रगति के संबंध में अधिकारी यह न लिखे कि निर्देश जारी किए गए, यह बताएं कि क्या कार्य हुआ है। केवल कनिष्ठ कार्यालय को निर्देश जारी करना वरिष्ठ कार्यालय का दायित्व नहीं है। कार्य सुनिश्चित कराना भी जरूरी है।
मुख्यमंत्री श्री चौहान आज मंत्रालय में सामान्य प्रशासन विभाग के कार्यों की समीक्षा कर रहे थे। बैठक में सामान्य प्रशासन विभाग राज्य मंत्री श्री इंदर सिंह परमार, मुख्य सचिव श्री इकबाल सिंह बैंस, अपर मुख्य सचिव सामान्य प्रशासन श्री विनोद कुमार, प्रमुख सचिव श्री मनोज गोविल, प्रमुख सचिव श्री मनीष रस्तोगी आदि उपस्थित थे।
प्रदेश के बाहर प्रदेश की संपत्ति पर न हो कब्जे
मुख्यमंत्री श्री चौहान ने निर्देश दिए कि मध्यप्रदेश की अन्य प्रदेशों में स्थित सम्पत्तियों की नियमित रूप से देखरेख की जाए तथा उन पर कब्जे न हों, इसका ध्यान रखा जाए। बताया गया कि आत्म-निर्भर मध्यप्रदेश के रोडमैप की अनुशंसा के अनुरूप मध्यप्रदेश लोक परिसम्पत्ति प्रबंधन विभाग का गठन कर लिया गया है।
हर शासकीय कर्मचारी हो आई.टी. में दक्ष
मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि हर शासकीय कर्मचारी को सूचना तकनीकी में दक्ष होना जरूरी है। इसके लिए आवश्यक प्रशिक्षण दिया जाए।
सेवानिवृत्ति पर हो स्वत्वों का एकमुश्त भुगतान
मुख्यमंत्री श्री चौहान ने निर्देश दिए कि सभी शासकीय सेवकों को सेवानिवृत्ति पर उनके सभी स्वत्वों का एकमुश्त भुगतान सुनिश्चित किया जाए। यह कर्मचारी कल्याण का प्रमुख बिन्दु है।
प्रदेश में लागू हो ई-ऑफिस प्रणाली
मुख्यमंत्री श्री चौहान ने निर्देश दिए कि प्रदेश में ई-ऑफिस प्रणाली प्रारंभ की जाए। सर्वप्रथम मंत्रालय में ई-ऑफिस प्रणाली लागू की जाए। इसके लिए टाइम बाउण्ड कार्यक्रम बनाएं तथा आवश्यक प्रशिक्षण दें। मंत्रियों, विधायकों को भी इस संबंध में प्रशिक्षण दिया जाए। शासकीय सेवकों की सेवा पुस्तिकाओं के डिजिटलाइजेशन का कार्य भी शीघ्र पूर्ण किया जाए।
समय पर मिले जाति, आय, मूल निवासी प्रमाण-पत्र
मुख्यमंत्री श्री चौहान ने निर्देश दिए कि आवेदकों को जाति, आय, मूल निवास आदि प्रमाण-पत्र समय पर मिलना सुनिश्चित किया जाए। सामान्य प्रशासन विभाग सुपरविजन कर इस कार्य को सुनिश्चित कराए।
"परफैक्ट" हो सामान्य प्रशासन विभाग का कार्य
मुख्यमंत्री श्री चौहान ने निर्देश दिए कि सामान्य प्रशासन विभाग शासन का अत्यंत महत्वपूर्ण विभाग है। यह अन्य विभागों के कार्य का सुपरविजन भी करता है। इसका कार्य "परफेक्ट" होना चाहिए।
(40 days ago)
डाउनलोड करे क्रुतीदेव फोन्ट में.
डाउनलोड करे चाणक्य फोन्ट में.
पाठकों की पसंद

संग्रह
फरवरीमार्च 2021अप्रैल
सोम.मंगल.बुध.गुरु.शुक्र.शनि.रवि.
22232425262728
1234567
891011121314
15161718192021
22232425262728
2930311234

© 2012 सर्वाधिकार सुरक्षित जनसम्पर्क विभाग भोपाल, मध्यप्रदेश             Best viewed in IE 7.0 and above with monitor resolution 1024x768.
Onder's Computer