समाचार
|| कोविड-19 मीडिया बुलेटिन - जिले में कोरोना वायरस के संक्रमण से 139 नये व्यक्ति हुये स्वस्थ || किसानों को 5 दिनों के मौसम को देखते हुये कृषि कार्य करने की सलाह || अभी तक जिले में 178046 व्यक्तियों ने लगवाया टीका || कोरोना कर्फ्यू के दौरान पथ विक्रेताओं के माध्यम से फल-सब्जी की आपूर्ति है जारी || जिले के खरीदी केन्द्रों में गेहूं की खरीदी जारी || विकासखंड चौरई के एक ग्राम व चौरई नगर के 2 वार्डों का निर्धारित क्षेत्र कंटेनमेंट एरिया घोषित || विकासखंड परासिया के 2 नगरों का निर्धारित क्षेत्र कंटेनमेंट एरिया घोषित || ट्रेन से आने वाले 7 यात्रियों को किया गया कोरेंटाईन || विकासखंड जुन्नारदेव के एक ग्राम व दो नगरों का निर्धारित क्षेत्र कंटेनमेंट एरिया घोषित || विकासखंड चौरई के एक ग्राम व एक नगर का निर्धारित क्षेत्र कंटेनमेंट एरिया घोषित
अन्य ख़बरें
स्व-सहायता समूहों को और भी सशक्त एवं आत्मनिर्भर बनाएंगे - शिवराज सिंह चौहान
मुख्यमंत्री ग्रामीण पथ विक्रेता योजना में 40 हजार हितग्राहियों को ऋण वितरित
सतना | 18-फरवरी-2021
      मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि ग्रामीण क्षेत्रों में स्व-सहायता समूह और पथ विक्रेताओं को स्व-रोजगार के काम-धंधों से जोड़कर और भी सशक्त एवं आत्मनिर्भर बनाया जायेगा। मुख्यमंत्री श्री चौहान गुरुवार को मिंटो हाल भोपाल के राज्य स्तरीय कार्यक्रम ‘‘मुख्यमंत्री पथ विक्रेता योजना’’ अंतर्गत प्रदेशभर के 40 हजार हितग्राहियों के ऋण वितरण कार्यक्रम को संबोधित कर रहे थे। राज्य स्तरीय कार्यक्रम का वर्चुअल प्रसारण जिला स्तर के एनआईसी, जनपद स्तर एवं ग्राम स्तर पर देखा और सुना गया। सतना कलेक्ट्रेट के एनआईसी कक्ष में सीईओ जिला पंचायत हरेन्द्र नारायण, एलडीएम पीसी वर्मा, मुख्य प्रबंधक योगेंद्र सिंह, जिला प्रबंधक आजीविका मिशन प्रमोद शुक्ला सहित स्व-सहायता समूह और पथ विक्रेता योजना के लाभार्थी उपस्थित थे।
   मुख्यमंत्री श्री चौहान ने शिला-पट्टिका का अनावरण कर सिंगल क्लिक के माध्यम से प्रदेशभर के 40 हजार हितग्राहियों के खाते में ‘‘मुख्यमंत्री ग्रामीण पथ विक्रेता योजना’’ के तहत 10-10 हजार की ब्याजमुक्त ऋण राशि अंतरित की। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि ग्रामीण क्षेत्र के महिला स्व-सहायता समूहों को गणवेश सिलाई, पोषण आहार निर्माण जैसे सभी छोटे-बड़े स्व-रोजगार के काम देकर उन्हें और भी सशक्त, सक्षम बनाया जाएगा। उन्होंने कहा कि पथ विक्रेताओं का पंजीयन कर परिचय पत्र दें तथा काम-धंधा शुरू करने के लिए बेहतर प्रशिक्षण देने की योजना बनाएं। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने पथ विक्रेताओं से आग्रह किया कि 10 हजार के ब्याज मुक्त ऋण को समय पर वापस करें, ताकि उन्हें काम-धंधे को बढ़ाने के लिए अगली बार 20 हजार का ब्याज मुक्त ऋण फिर से मिल सके।
  मुख्यमंत्री श्री चौहान ने पथ विक्रेता योजना की लाभान्वित हितग्राही देवास जिले की राला मंडल की पिंकी, दमोह जिले के बांदकपुर में रामा टी-स्टाल चलाने वाले रामचरण रैकवार और विदिशा जिले की इमलिया से किराना दुकान चलाने वाले वीरेंद्र राजपूत से सीधी बातचीत कर योजना के लाभ एवं आमदनी के बारे में जानकारी ली। कार्यक्रम में वित्त मंत्री जगदीश देवड़ा, खनिज मंत्री बृजेन्द्र प्रताप सिंह भी उपस्थित रहे। अपर मुख्य सचिव ग्रामीण विकास मनोज श्रीवास्तव ने बताया कि प्रदेशभर में अब तक ‘‘मुख्यमंत्री पथ विक्रेता योजना’’ में 14 लाख 15 हजार हितग्राहियों ने पंजीयन कराया है। जिसमें अब तक 1 लाख 49 हजार 57 हितग्राहियों को ऋण स्वीकृत हुआ तथा 1 लाख 12 हजार हितग्राहियों को ऋण का वितरण किया जा चुका है। ‘‘मुख्यमंत्री पथ विक्रेता योजना’’ में चौथी बार प्रदेश के 40 हजार हितग्राहियों को 10-10 हजार रूपये का ब्याज मुक्त ऋण दिया जा रहा है। जिसे एक बार वापस करने पर अगली बार यही हितग्राही 20 हजार रूपये का ब्याज मुक्त ऋण दुबारा प्राप्त कर सकेंगे।
     सीईओ जिला पंचायत हरेन्द्र नारायण ने बताया कि सतना जिले में योजनान्तर्गत 1037 हितग्राहियों के ऋण स्वीकृत होकर 728 हितग्राहियों को वितरण किया जा चुका है। बैंकों में 3857 हितग्राहियों के प्रकरण अनुशंसित कर भेजे गए हैं। उन्होंने एलडीएम पीसी वर्मा को इन प्रकरणों में शीघ्र ही ऋण वितरण कराने के निर्देश दिए हैं। जिला स्तरीय कार्यक्रम में जिले के ‘‘मुख्यमंत्री पथ विक्रेता योजना’’ के 6 लाभार्थियों को प्रतीक-स्वरूप ऋण वितरण किया। जिनमें करही कोठार की रिंकी वर्मा और कमला देवी चौधरी को सब्जी व्यवसाय के लिए, रैगांव की कलावती को समोसा-पकौड़ी दुकान, संतू को झाड़ू निर्माण एवं विक्रय तथा सोहावल की ममता सूर्यवंशी को किराना एवं जनरल स्टोर के लिए 10-10 हजार रूपये का ब्याज मुक्त ऋण वितरण किया गया।
 
(58 days ago)
डाउनलोड करे क्रुतीदेव फोन्ट में.
डाउनलोड करे चाणक्य फोन्ट में.
पाठकों की पसंद

संग्रह
मार्चअप्रैल 2021मई
सोम.मंगल.बुध.गुरु.शुक्र.शनि.रवि.
2930311234
567891011
12131415161718
19202122232425
262728293012
3456789

© 2012 सर्वाधिकार सुरक्षित जनसम्पर्क विभाग भोपाल, मध्यप्रदेश             Best viewed in IE 7.0 and above with monitor resolution 1024x768.
Onder's Computer